समाचार
|| कर्मियों के साथ रचनात्मक कार्यों को भी अखबारों में स्थान मिले || एम.पी. हाउसिंग बोर्ड का विश्वकर्मा अवार्ड-2017 के लिये चयन || प्रदेश की जनता के कल्याण की कामना || झुक जाना नहीं || शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर अल्पावधि कृषि ऋण देने की योजना || सवा तीन लाख से अधिक उपभोक्ता ने समाधान से जुड़कर घरों को रोशन किया || आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को मिलेगा अवकाश का लाभ || शल्पियों को राज्य स्तरीय विश्वकर्मा पुरूस्कार योजना, आवेदन आमंत्रित || मदरसा बोर्ड की कक्षा 10 एवं 12 के परीक्षा आवेदन || लेखा प्रशिक्षण सत्र 1 अप्रैल से 30 जून तक
अन्य ख़बरें
कमिश्नर श्री दुबे की बड़ी कार्रवाई
एक चिकित्सक और दो कर्मचारी निलम्बित
इन्दौर | 05-फरवरी-2017
 
   
        कमिश्नर श्री संजय दुबे ने कर्तव्य पर लापरवाही बरतने के कारण चिकित्सा अधिकारी डॉ.प्रशांत मिश्रा को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है।  जारी आदेशानुसार एम.वाय.अस्पताल का गत शुक्रवार 3 फरवरी को रात 9 से साढ़े 11 बजे तक डॉ.शरद थोरा डीन एम.जी.एम. मेडिकल कालेज तथा डॉ. वी.एस.पाल अधीक्षक एम.वाय.अस्पताल द्वारा आकस्मिक निरीक्षण किया गया।  इस अवसर पर चिकित्सा अधिकारी (केजुअल्टी) डॉ.प्रशांत मिश्रा ड्यूटी पर अनुपस्थित पाये गये,  जिसके कारण अस्पताल में एम.वाय.अस्पताल में आने वाले मरीजों को समुचित उपचार नहीं मिला तथा आमजन के मध्य अस्पताल प्रशासन की छवि धूमिल हुयी।  जिसके कारण कमिश्नर श्री दुबे द्वारा डॉ.प्रशांत मिश्रा, चिकित्सा अधिकारी (केजुअल्टी) को मध्यप्रदेश सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम 3 के उपनियम-1 (एक), (दो) व (तीन) तथा नियम 3 (2) के प्रतिकूल होने से उन्हें मध्यप्रदेश सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम 9 के तहत  तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर उनका मुख्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय इंदौर नियत किया गया है।  डॉ.मिश्रा को निलम्बन अवधि में जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।
मेल स्टाफ नर्स निलम्बित
        अधीक्षक एम.वाय.अस्पताल डॉ.वी.एस.पाल ने श्री राहुल जादौन,मेल स्टाफ नर्स एम.वाय.चिकित्सालय स्वशासी संस्था इंदौर को 03 फरवरी,2017 को रात्रि में औचक निरीक्षण के दौरान अपने कर्तव्य स्थल से अनुपस्थित पाये जाने के फलस्वरूप मध्यप्रदेश आचरण नियम, 1965 के नियम 3 के उपनियम-1 (एक), (दो) व (तीन) तथा नियम 3 (2) के प्रतिकूल होने से उन्हें मध्यप्रदेश सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम 9 के तहत निलंबित कर दिया है। निलम्बन अवधि में श्री जादौन का मुख्यालय मानसिक चिकित्सालय इंदौर रहेगा।  निलंबन अवधि में श्री जादौन को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता रहेगी।
वार्ड ब्वाय निलम्बित
    अधीक्षक एम.वाय.अस्पताल डॉ.वी.एस.पाल ने श्री राजेश छोटेलाल वार्ड ब्वाय एम.वाय.चिकित्सालय स्वशासी संस्था इंदौर को 03 फरवरी,2017 को रात्रि में औचक निरीक्षण के दौरान अपने कर्तव्य स्थल से अनुपस्थित पाये जाने के फलस्वरूप मध्यप्रदेश आचरण नियम, 1965 के नियम 3 के उपनियम-1 (एक), (दो) व (तीन) तथा नियम 3 (2) के प्रतिकूल होने से उन्हें मध्यप्रदेश सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम 9 के तहत निलंबित कर दिया है। निलम्बन अवधि में श्री राजेश का मुख्यालय मानसिक चिकित्सालय इंदौर रहेगा।  निलंबन अवधि में श्री राजेश को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता रहेगी।
(21 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जनवरीफरवरी 2017मार्च
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272812345
6789101112

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer