समाचार
|| कर्मियों के साथ रचनात्मक कार्यों को भी अखबारों में स्थान मिले || एम.पी. हाउसिंग बोर्ड का विश्वकर्मा अवार्ड-2017 के लिये चयन || प्रदेश की जनता के कल्याण की कामना || झुक जाना नहीं || शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर अल्पावधि कृषि ऋण देने की योजना || सवा तीन लाख से अधिक उपभोक्ता ने समाधान से जुड़कर घरों को रोशन किया || आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को मिलेगा अवकाश का लाभ || शल्पियों को राज्य स्तरीय विश्वकर्मा पुरूस्कार योजना, आवेदन आमंत्रित || मदरसा बोर्ड की कक्षा 10 एवं 12 के परीक्षा आवेदन || लेखा प्रशिक्षण सत्र 1 अप्रैल से 30 जून तक
अन्य ख़बरें
मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सेवा शिविर 20 फरवरी को
वित्तमंत्री ने कहा अपना स्वास्थ्य परीक्षण अवश्य करायें
दमोह | 17-फरवरी-2017
 
   
   जिला चिकित्सालय परिसर में नवनिर्मित एम.सी.एच.सेंटर में 20 फरवरी 2017 को आयोजित मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सेवा शिविर में भोपाल, जबलपुर के शासन से मान्यता प्राप्त 08 प्रायवेट हास्पिटल के प्रसिद्ध चिकित्सक जीवनघातक जटिल बीमारियों के इलाज के लिए अपनी सेवायें देंगे। इस आशय के उद्गार आज प्रदेश के वित्त एवं वाणिज्यिक कर मंत्री जयंत कुमार मलैया ने मदर एवं चाईल्ड हास्पिटिल के लोकापर्ण अवसर पर कही। उन्होंने जिलेवासियों से कहा है वे अपना स्वास्थ्य परीक्षण अवश्य करायें।
   डॉ. आर.के. बजाज ने बताया कैंसर, हृदय, तंत्रिकातंत्र , रीड की हडडी सिर की चोट, बांझपन, ऑख, नाक, गला, कान, से पीडित बी.पी.एल.परिवारों एवं 18 वर्ष के जन्मजात विकृति वाले बच्चों के समुचित उपचार के लिए संबंधित विशेषज्ञ पूर्णतः निशुल्क सेवायें देंगे। मरीजो एवं परिजनो को परेशानियों का सामना न करना पडे इसके लिए सभी आवश्यक तैयारियां कर ली गई है। स्थानीय जिला अस्पताल के विशेषज्ञ चिकित्सक के नेतृत्व में पांच विशेष दल बनाये गए है जो संबंधित विशेषज्ञो को आवश्यक सहयोग करेगे। मेडिसिन विशेषज्ञ, डॉ.प्रहलाद पटैल को कार्डियोलॉजी विभाग का दल प्रभारी बनाया गया है जबकि, न्योरोलॉजी विभाग का दल प्रभारी सर्जिकल विशेषज्ञ डॉ.उमेश तंतुवाय व डॉ.हेमराज सिंह, को हडडी रोग तथा डॉ.शिवकुमार तिवारी को कैंसर रोग का दल प्रभारी बनाया गया है। शिविर हेतु डॉ.दिवाकर पटैल को नोडल अधिकारी बनाया गया है।
शिविर की खास बाते
   मरीजो की सहायता के लिए विशेष सहायता कक्ष बनाये गए है।यहां तैनात कर्मचारी मरीजो - परिजन को संबंधित बीमारियों के उपचार के लिए चिकित्सकीय स्वास्थ्य जांच-परीक्षण के लिए कहां जाना है से संबंधित जानकारी देगें। मरीजो के पंजीयन के अलावा मरीजो व उनके परिजनो को शिविर तक लाने-ले जाने के लिए पूर्णतः निःशुल्क परिवहन व्यवस्था, भोजन, पेयजल व्यवस्था विभाग द्वारा बनाई गई है।   
विशेषज्ञ यहां करेगें विभिन्न बीमारियों का स्वास्थ्य परीक्षण
    मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के सामने नवनिर्मित एम.सी.एच.इकाई में विभिन्न बीमारियों के चिकित्सकीय स्वास्थ्य परीक्षण हेतु 08 विशेष हाल चिन्हित किए गए है । एम.सी.एच.सेंटर के हाल क्रमांक-01 एवं 02 में हृदय व नाक, कान, गला, से जुडी परेशानी , हाल क्रमांक-03 में रीड की हडडी से जुडी व्याधियों, क्रमांक-04 में तंत्रिका तंत्र से जडे विकारो जबकि हाल 05 में बांझपन की समस्या व सिर की चोट से जुडी समस्या के लिए चिकित्सकीय स्वास्थ्य जांच परीक्षण की व्यवस्था हाल 05/06 में बनाई गई है। वहीं हाल क्रमांक -7, 8 , 9 में कैंसर जैसी जटिलताओं के निदान के लिए विशेषज्ञ, स्वास्थ्य परीक्षण जांच व उपचार संबंधी परामर्श देगें।शिविर में मरीजो के समुचित इलाज के लिए बीमारी में आने वाले खर्चे का ब्यौरा भी तैयार किया जाऐगां। चिकित्सक द्वारा दिए गए परामर्श अनुसार मरीजो को उनकी सुविधा अनुसार शासन द्वारा चिन्हित प्रायवेट अस्पताल में भेजकर समस्त मरीजो का पूर्णतः निःशुल्क इलाज विभाग द्वारा कराया जावेगां।
चिन्हित प्रायवेट संस्थायें
   शासन द्वारा मान्यता प्राप्त 09 प्रायवेट संस्थायें चिन्हित की गई है यहां के विशेषज्ञ मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सेवा शिविर में पूर्णतः निःशुल्क सेवायें देगे। जबलपुर के शाल्बी, स्वास्तिक, सिटी, इन्फिनिटी, व दुबे सर्जिकल हास्पिटल के अलावा भोपाल के स्वामी विवेकानंद, एल.बी.एस., नवोदय, तथा बंसल हास्पिटल के विशेषज्ञ चिकित्सक अपनी सेवायें देगें।  
(9 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जनवरीफरवरी 2017मार्च
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272812345
6789101112

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer