समाचार
|| निबंध, वाद-विवाद, स्लोगन तथा चित्रकला प्रतियोगिता हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त || मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना के तहत कृषक पुत्र-पुत्री को दिया जाएगा लाभ || 26 जनवरी को शासकीय भवनों पर होगी रोशनी || साक्षरता से महिलाओं ने स्वावलंबन की ओर बढ़ाया कदम (सफलता की कहानी) || प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना से अंतरदास को मिला पक्का मकान ''''सफलता की कहानी'''' || गणतंत्र दिवस पर ग्राम पंचायतों में होंगी विशेष ग्राम सभायें || उत्कृष्ट और मॉडल स्कूलों में प्रवेश के लिये चयन परीक्षा प्रारंभ || मुख्यमंत्री कृषक जीवन कल्याण योजना से मिली सहायता || विधायक आशीष शर्मा ने निर्माण कार्य के लिए 8 लाख 58 हजार रुपए राशि स्वीकृत || "सौभाग्य योजना" का बरघाट विकासखण्ड के ग्राम सुकला से हुआ शुभारंभ
अन्य ख़बरें
प्रदेश में प्रतिभाशाली बच्चों का सपना होगा पूरा
मुख्यमंत्री श्री चौहान बड़वाह में नर्मदा सेवायात्रा के जनसंवाद कार्यक्रम में
इन्दौर | 07-मार्च-2017
 
    
   मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि राज्य सरकार ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है, जिसके तहत अब मध्यप्रदेश के प्रतिभाशाली बच्चों का आगे बढ़ने का सपना हर हाल में पूरा होगा। इसके लिए राज्य सरकार ने 500 करोड़ रूपए का कोष तैयार किया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान मंगलवार को “नमामि देवि नर्मदे” नर्मदा सेवायात्रा में बड़वाह में जनसंवाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा सेवायात्रा के जरिए विकास के कई उद्देश्यों को पूरा किया जाएगा। श्री चौहान ने नागरिकों को नर्मदा नदी को स्वच्छ रखने का हाथ उठाकर संकल्प दिलाया। इस मौके पर प्रसिद्व गजल गायिका पीनाज मसानी भी उपस्थित थी।
   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा नदी मध्यप्रदेश की जीवन रेखा है इसके प्रवाह को हर हाल में अविरल रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि नर्मदा सेवायात्रा दुनिया की सबसे बड़ी यात्रा हो गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मां नर्मदा का प्रदेशवासियों पर बड़ा ऋण है। नर्मदा नदी से प्रदेशवासियों को बिजली, पीने का पानी और खेतों के लिए पानी मिलता है। नर्मदा के जल से ही मध्यप्रदेश कृषि के क्षेत्र में देश में अग्रणी राज्य के रूप में उभरकर सामने आया है। प्रदेश को 4 बार लगातार कृषि कर्मण अवार्ड मिला है। मध्यप्रदेश की कृषि विकास दर लगातार कई वर्षों से 20 प्रतिशत से अधिक बनी हुई है। श्री चौहान ने किसानों से अपने खेतों में आगे आकर फलदार वृक्ष लगाने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि किसानों को पेड़ लगाने के लिए पर्याप्त राशि दी जाएगी। उनमें लगने वाले फलों के विपणन की उचित व्यवस्था की जाएगी और नर्मदा नदी के किनारे की सरकारी जमीन पर जनभागीदारी से पेड़ लगाए जाएंगे।    
   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नर्मदा नदी के संरक्षण की चर्चा करते हुए कहा कि नर्मदा के किनारे के तटों पर ट्रीटमेंट प्लांट लगाए जाएंगे। मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए मुक्तिधाम बनाए जाएंगे। श्री चौहान ने ग्रामीणों से कहा कि वे पूजन सामग्री को नर्मदा नदी में ना मिलने दें। उन्होंने कहा कि जो महिलाएं नर्मदा नदी में आस्था के साथ स्नान करने जाती है, तो उनकी मर्यादा की रक्षा के लिए चेंजिंग रूम बनाए जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि महिलाओं की इज्जत के साथ खिलवाड़ करने वाले दुराचारी को मृत्यु दंड मिलना चाहिए, इसका प्रस्ताव राज्य सरकार केंद्र सरकार को भेजेगी।
   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि नर्मदा सेवायात्रा के जरिए प्रदेशभर में नशामुक्ति का अभियान भी चलाया जाएगा। श्री चौहान ने कहा कि 01 अप्रैल से नर्मदा तटों से 5 किमी की सीमा में शराब की दुकान बंद की जाएगी। बेटियों के महत्व की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार ने बेटियों के कल्याण के लिए लाड़ली लक्ष्मी योजना, मुख्यमंत्री कन्या योजना, गांव की बेटी योजना चलाई है। श्री चौहान ने नागरिकों से बेटा और बेटी में भेदभाव न करने की भी समझाईश दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सभा स्थल पर पहुंचने पर नर्मदा कलश एवं कन्याओं की पूजा की। कार्यक्रम के अंत में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उपस्थित जन समुदाय के साथ नर्मदा जी की महाआरती की।
   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश देशभर में शांति के टापू के रूप में पहचाना जाता है। प्रदेश की जनता के साथ खिलवाड़ करने वाले अथवा शांति व्यवस्था को प्रभावित करने वाले किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा। कानून व्यवस्था प्रदेश की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है।
   श्री चौहान ने सुश्री पिनाज मसानी द्वारा नर्मदा गीतों पर बनाई गई कैसेट का विमोचन किया। कार्यक्रम को श्रीराम राजेश्वराचार्य माउली सरकार एवं क्षेत्रीय विधायक श्री हितेंद्रसिंह सोलंकी ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर सांसद श्री सुभाष पटेल, खरगोन विधायक श्री बालकृष्ण पाटीदार, साधु-संत, मीडिया प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक सहित बड़ी संख्या में आम नागरिक उपस्थित थे।
 
(320 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2018फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer