समाचार
|| किसानों को मिल रहा है, उनकी उपज का लाभकारी मूल्य (सफलता की कहानी) || दिव्यांगता को परास्त कर जीनाराम ने शुरू किया स्वयं का रोजगार (सफलता की कहानी) || उड़द क्रय-विक्रय की अवधि 22 दिसम्बर तक बढ़ी (भावान्तर भुगतान योजना) || ग्वालियर-चंबल संभाग के 973 बुजुर्ग करेंगे द्वारिका तीर्थ (मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजना) || दिव्यांग परीक्षण शिविरों से पहले घर-घर करें सर्वे – कलेक्टर || एकात्म यात्रा सामाजिक सरोकारों से जुड़ा सांस्कृतिक अभियान - मुख्यमंत्री || एकात्म यात्रा सामाजिक सरोकारों से जुड़ा सांस्कृतिक अभियान - मुख्यमंत्री श्री चौहान || स्वरोजगार के प्रति महिलाओं में बढ़ती उमंग (सफलता की कहानी) || एकात्म यात्रा सामाजिक सरोकारों से जुड़ा सांस्कृतिक अभियान : मुख्यमंत्री श्री चौहान || एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला आज
अन्य ख़बरें
होली/धुरेडी और पड़वा जिले में शांति एवं सौहार्द पूर्वक मनाया जावेगा
कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिला शांति समिति की बैठक संपन्न
डिंडोरी | 10-मार्च-2017
 
   
   जिले में प्रचलित परंपरा अनुसार 12 मार्च 17 को होली 13 मार्च 17 को धुरेडी और 29 मार्च को गुड़ी पड़वा का पर्व मनाया जाएगा। पुलिस अधीक्षक सुश्री सिमाला प्रसाद ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित जिला शांति समिति की बैठक में उक्त त्यौहारों को सद्भावना एवं शांति पूर्वक मनाने को कहा है। उन्होने कहा कि जिले में प्रचलित परंपरा अनुसार होली/धुरेड़ी एवं गुड़ी पड़वा का पर्व मनाया जाएगा, इसके लिए पूरी तैयारी की जा चुकी है। इन आयोजित पर्व में पानी साफ-सफाई, बिजली एवं सुरक्षा की व्यवस्था की जावेगी। उक्त त्यौहारों में भीड़ वाले स्थानों में यातायात की समुचित व्यवस्था की जावेगी। जिससे लोगों को आने-जाने में कठिनाई ना हो। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस अवसर पर कानून एवं शांति व्यवस्था के लिए पुलिस एक्ट की धारा 17/18 के तहत जिले के कोटवारो को कानून एवं शांति व्यवस्था के लिए विशेष पुलिस अधिकारी नियुक्त करने हेतु प्रस्तावित किया गया है।
अधिकारियों को जिम्मेदारी सौपी गई:-
   पुलिस अधीक्षक ने कहा कि उक्त पर्वों के लिए अधिकारी एवं कर्मचारियों को जिम्मेदारी सौंप दी गई है। अधिकारियों को पर्व में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में शांति व्यवस्था एवं यातायात व्यवस्था बनाएं रखने को कहा गया है। जिला शांति समिति के सदस्यों ने कहा गया कि इस वर्ष भी होली/धुरेड़ी एवं गुड़ी पड़वा का पर्व, आपसी सद्भाव एवं भाईचारे के साथ मनाया जावेगा और असामाजिक तत्वों के द्वारा किसी भी प्रकार की घटना करने पर तत्काल जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन को सूचना दी जावेगी। होली/धुरेड़ी पर्व के दौरान फायर ब्रिगेड तैयार रहेगा। किसी भी प्रकार की घटना घटने पर 100 डायल करके इसकी सूचना पुलिस को दी जा सकेगी। रंगपंचमी तक पुलिस विभाग का अमला गली, चौराहों में कड़ी निगरानी रखेंगे।
होली/धुरेड़ी में बरते सावधानी:-
   पुलिस अधीक्षक ने होली धुरेडी के पर्व के अवसर पर सावधानी बरतने को कहा है। उन्होने कहा कि इस दौरान जबरन चंदा वसूली न करें, रास्ते में पत्थर एवं अन्य अवरोधक न रखें तथा प्रतिबंधित रंगों आदि का उपयोग न करें। विद्युत, टेलीफोन खम्भो, लाइनों एवं घरों से दूर होलिका दहन किया जावे। मुख्य मार्गों अथवा सार्वजनिक चौराहों के मध्य होलिका दहन न किया जाए। होलिका दहन के लिए ईमारती लकड़ी, फलदार वृक्ष एवं हरे वृक्षों की लकड़ी का उपयोग न करें। होली एवं धुरेडी के दिन धारदार हथियारों को लेकर चलना पूर्णतः प्रतिबंध रहेगा। इस अवसर पर जिले के असामाजिक तत्वों पर कड़ी नजर रखी जा रही है।
थानो की तैयारी:-
   पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सभी थाना स्तर पर शांति समिति एवं होलिका दहन समिति की बैठक आयोजित की जायेगी। होली/धुरेडी के पर्व में पुलिस विभाग द्वारा कड़ी नजर रखी जावेगी, किसी को इच्छा के विरूद्ध जबरन रंग ना लगाया जावे। अशोभनीय एवं अश्लील टाइटलों का उपयोग न किया जावे। होली खेलते समय अन्जाने व्यक्ति पर बगैर उसकी इच्छा एवं वाहन पर सवार यात्रियों पर रंग न डाला जावे। यदि इसका उल्लंघन होना पाया गया तो संबंधित के विरूद्ध कानूनी कार्यवाही की जायेगी। होली खेलते समय पेंट, कोलतार व कीचड़ का प्रयोग न करें।
ये रहे मौजूद:-   
   जिला शांति समिति की बैठक में नगर पंचायत डिण्डौरी अध्यक्ष श्रीमती सुशीला मार्को, नगर पंचायत उपाध्यक्ष श्री महेश परासर, श्री रीतेश जैन, श्री सुदील बरमैया, डॉ. हाजी इकबाल, श्री कैलाश चंद जैन, श्री अशोक छावड़ा, अपर कलेक्टर श्री दिलीप मंडावी, एसडीएम डिण्डौरी श्री अनिल सोनी सहित अन्य जनप्रतिनिधी एवं अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।
(280 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2017जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer