समाचार
|| प्रदेश की 2143 कि.मी. लम्बाई की सड़कों का होगा उन्नयन || राष्ट्रीय मीन्स-कम-मेरिट छात्रवृत्ति की द्वितीय चरण परीक्षा 13 मई को || मॉडल ए.पी.एल.एम एक्ट में मण्डियों को भंग करने का कोई प्रस्ताव नहीं || अंग्रेजी माध्यम की छठवीं कक्षा के लिए प्रवेश प्रक्रिया 28 को || म.प्र में प्रति व्यक्ति आय और सकल राज्य घरेलू उत्पाद में कई गुना वृद्धि || मध्यप्रदेश जैव प्रौद्योगिकी परिषद् का मेपकास्ट में विलय होगा || नगरीय क्षेत्रों में 43 तहसील स्वीकृत || जिला अस्पताल की रोगी कल्याण समिति की बैठक सम्पन्न || कलेक्टर ने किया एल्गिन अस्पताल का निरीक्षण || राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष श्री एल. मुरूगन का आगमन 28 को
अन्य ख़बरें
प्रदेश में कृषि महोत्सव का कार्यक्रम 15 अप्रैल से 2 मई तक मनाया जायेगा - प्रभारी मंत्री श्री बिसेन
प्रभारी मंत्री श्री बिसेन ने निर्माण - कार्यो को समय में पूरा करने के दिए निर्देश, कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिला योजना समिति की बैठक सम्पन्न
डिंडोरी | 08-अप्रैल-2017
 
  
    प्रभारी मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन ने कहा कि सम्पूर्ण प्रदेश में कृषि महोत्सव का कार्यक्रम 15 अप्रैल 17 से 2 मई 17 तक मनाया जायेगा। कृषि महोत्सव का मुख्य उद्देश्य कृषि सहित पशुपालन, उद्यानिकी, मछली पालन, सहित समस्त विषयों पर किसानों एवं कृषि वैज्ञानिको, के मध्य सीधा-सम्पर्क कायम कर नवीन एवं वैज्ञानिक तकनीकी सुधार से वर्तमान फसलो की उत्पादन को बढाना है। प्रभारी मंत्री ने 15 अप्रैल से 2 मई तक आयोजित होने वाले कृषि महोत्सव के लिए ग्राम, विकासखण्ड एवं जिला स्तर पर होने वाले कार्यक्रमों की तैयारियॉ करने के निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन किसान कल्याण एवं कृषि विकास विभाग शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में आयोजित जिला योजना समिति की बैठक को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर विधायक श्री ओमकार मरकाम, नगर पंचायत अध्यक्ष श्रीमती सुशीला मार्को, कलेक्टर श्री अमित तोमर, जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी श्री रोहित सिंह, अपर कलेक्टर श्री दिलीप मंडावी, एसडीएम डिण्डौरी श्री अनिल सोनी, सहित विभागीय अधिकारी-कर्मचारी एवं जनप्रतिनिधी उपस्थित थे।
जिले में पेयजल का समुचित प्रबंध करे
   प्रभारी मंत्री श्री बिसेन ने गर्मी के मौसम में लोगो के लिए पेयजल व्यवस्था का समुचित प्रबंध करने के निर्देश दिए। उन्होने कलेक्टर को निर्देश दिए कि जलाशयों के जल का पेयजल एवं निस्तार में उपयोग करने के लिए सभी जल उपभोक्ता संस्थाओं की बैठक लेकर उनकी मॉग के अनुसार उन्हे जलाशयों से जल उपलब्ध कराया जाए। जिससे गर्मी के मौसम में किसी भी प्रकार से पेयजल की समस्या न रहें। प्रभारी मंत्री ने पीएचई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि गॉवों में खराब पडे हैण्डपम्पों को दुरूस्त करे और जिन ग्राम-पंचायतों की नल जल योजना बंद है उसे तुरंत प्रारम्भ करे। प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिन ग्राम-पंचायतों में पेयजल परिवहन की आवश्यकता है उन ग्राम-पंचायतों में पेजयल परिवहन कर लोगो को पेयजल उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने इस कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता देने को कहा है।
ग्राम उदय से भारत उदय  अभियान की समीक्षा
    प्रभारी मंत्री श्री बिसेन ने कहा कि 14 अप्रैल 17 से पूरे प्रदेश में ग्राम उदय से भारत उदय अभियान चलाया जायेगा। यह अभियान पूरे प्रदेश में 4 चरणों में आयोजित किया जा रहा है। प्रभारी मंत्री ने जिलें में इस अभियान की तैयारियों की विस्तृत समीक्षा की और इसे सफल बनाने के लिए विस्तृत कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि इस अभियान के अंतर्गत अधिकारियों का दल घर-घर जाकर हितग्राहियों का चयन कर उन्हें शासन की योजनाओं से लाभांवित करेगा। प्रभारी मंत्री ने ग्राम उदय से भारत उदय अभियान एवं शासन की योजनाओं का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए है। उन्होने कहा कि इस अभियान मे अधिक से अधिक लोगो को शामिल करने के लिए गॉव-गॉव में दीवार लेखन का कार्य कराया जाए। जिससे इस अभियान की जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगो को मिल सके और इसमे सबकी सहभागिता सुनिश्चित हो सके।
अन्य विभागों की समीक्षा
   प्रभारी मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन ने कहा कि जिले में कराये जा रहे निर्माण कार्यो को समय-सीमा में पूरा किया जाए। निर्माण कार्य समय पर पूरा होने से निर्माण कार्यो की लागत नही बढानी पडेगी। उन्होने निर्माण कार्यो मे विलंब करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए है। जिससे जिले के निर्माण कार्यो को समय पर गुणवत्तापूर्वक पूरा किया जा सकें। प्रभारी मंत्री ने कहा कि किसी भी प्रकार से गुणवत्ताहीन निर्माण कार्य कार्य नहीं होना चाहिए गुणवत्ताहीन निर्माण कार्य करने पर कड़ी कार्यवाई की जायेगी। उन्होने इस अवसर पर प्रधानमंत्री ग्राम सडक योजना एवं मुख्यमंत्री ग्राम सडक योजना के कार्यो की भी समीक्षा की। उन्होने कहा कि जिले के सभी मजरे एवं टोलों के लिए पक्की सडके बनाकर उन्हे मुख्य सडको से जोडा जाए। जिससे ग्रामीण क्षेत्रो के लोगो को भी आवागमन की बेहतर सुविधाओं का लाभ मिल सके। प्रभारी मंत्री ने लोक निर्माण विभाग के सड़क एवं पुल-पुलियों के निर्माण कार्यो की समीक्षा की और निर्माणाधीन कार्यो को गुणवत्तापूर्वक पूरा करने को कहा। उन्होंने इस प्रकार से पीएचई विभाग, पीएमजीएसवाई विभाग, जल संसाधन विभाग सहित अन्य विभागों के प्रगतिरत एवं निर्माण कार्यो की समीक्षा की।
(383 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मार्चअप्रैल 2018मई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2627282930311
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
30123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer