समाचार
|| उन्नत खेती की तकनीक ने बदल दी किसान की तकदीर ''''सफलता की कहानी'''' || पड़मनिया क्षेत्र में टॉवर लगने से बैंक संबंधी समस्याओं से लोगों को मिली निजात ''''सफलता की कहानी'''' || ग्राम पंचायतो को शौच मुक्त बनाने की निरंतर पहल || राजस्व महा अभियान को निरंतर जारी रखे-कलेक्टर || विशेष पर्यटन पर्व के अंतर्गत फोटो प्रतियोगिता आज || स्थापना दिवस के संबंध में बैठक आज || शनीचरी अमावस्या के संबंध बैठक आज || मुँह बोली बहन श्रीमती जैनब बाई ने किया मंत्री श्री पवैया का तिलक || किसानों की मण्डी में विक्रय फसल का भुगतान सुनिश्चित करें - कलेक्टर || मंत्री श्रीमती माया सिंह आज विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगीं
अन्य ख़बरें
दीनदयाल रसोई में भोजन कर तृप्त हुए नागरिक
पीताम्बरा माई की जय बोलते हुए योजना की सराहना की
दतिया | 10-अप्रैल-2017
 
   मध्यप्रदेश सरकार द्वारा शहरी क्षेत्र में गरीबों को पांच रूपये में भरपेट भोजन देने के लिए दीनदयाल रसोई योजना शुरू की गई है। दतिया नगर में पीताम्बरा पीठ ट्रस्ट ने यह जिम्मेदारी संभाली है। गरीब और जरूरत मंद लोगों को भरपेट भोजन दिया जा रहा है। शुभारंभ के तीसरे नजर बाग दतिया पीताम्बरा पीठ के पास दीनदयाल रसोई में भोजने करने वालों का तांता लगा रहा। चूल्हे से सिकी गरमागरम रोटी, गरमागरम चावल, दाल व गोभी की सब्जी परोसी गई थी जिसे लोग आनंद पूर्वक कूलर की हवा में बैठकर खा रहे थे। विलौनी की श्रीमती पुष्पा ने बताया कि मैं अपनी ननद श्रीमती संतोषी के साथ डॉक्टर को दिखाने आई थी। विलौनी से सुबह सात बजे निकले थे। बच्चे को दिखाते हुए दोपहर के वक्त जोर की भूख लग रही थी जब हमने पीताम्बरा पीठ के पास दीनदयाल रसोई योजना का बोर्ड देखा तो हम इधर आए और हमने स्वादिष्ट भोजन भरपेट किया हमें बहुत ही अच्छा लगा।
   रिछरा फाटक निवासी श्रीमती मुलिया बाई ने बताया कि मैं कचहरी काम से गई थी लौटते वक्त भूख के मारे मेरे पाव नहीं चल रहे थे अब भोजन करके शरीर में ताकत आई है। श्रीमती मुलिया बाई ने पीताम्बरा माई की जय बोलते हुए अच्छी योजना के लिए मध्यप्रदेश सरकार को धन्यवाद दिया। रेवरायपुर खाती बाबा स्थान पर रहने वाले बाबाजी श्री रामचरण भारती पीताम्बरा पीठ दर्शन करने आए थे दोपहर के समय दीनदयाल रसोई में भोजन किया और अपने आश्रम के लिए प्रस्थान कर गए। पीताम्बरा पीठ ट्रस्ट की ओर से दीनदयाल रसोई का काम देख रहे नोडल अधिकारी श्री महेश कुमार मिश्र ने बताया कि मुझे शुरू-शुरू में व्यवस्था लगाने में परेशानी हो रही है। किन्तु जब भूखे लोगों को तृप्त होते हुए देखता हूँ तो मन आनंदित हो उठता है।
नगर के दानदाता आए आगे
   दीनदयाल रसोई योजना के संचालन हेतु शासन द्वारा एक रूपये किलो चावल, गेंहूँ दिया जा रहा है। किन्तु जन सेवा से चलने वाली इस योजना में नगर के दानदाता भी पीछे नहीं है। एग्रोसॉल्वेंट के डायरेक्टर महेश कुमार मल्होत्रा ने 75 लीटर रिफान्ड तेल दिया है। रामचरण किराना स्टोर ने एक क्विंटल चावल, बलदेव राज बल्लू एवं विजय झण्ड़ा गुरू ने 399 थालियां दी है। व्यापारी अशोक अग्रवाल ने बड़े-बड़े पांच भगौने दान स्वरूप दिए है। विनय शर्मा ने 8 क्विंटल आटा और जीतू कमरिया ने 60 किलो दाल दी है। गोविन्द फूड मसाला के मालिक द्वारा निःशुल्क धनिया, मिर्ची, गरम मसालें दिए है जबकि रफीक राईन ने अपने वादे के मुताबिक दो क्विंटल आलू दन स्वरूप दिए। नगर पालिका के उपाध्यक्ष योगेश सक्सैना ने अपना सहयोग देते हुए 50 गिलास दान किए। मुख्य नगर पालिका अधिकारी एके दुबे द्वारा खाना बनाने के लिए सभी सामग्री क्रय कराई है और आठ सिलेण्ड़र भी नगर पालिका की ओर से दिए गए है। इसके अलावा गैस भट्टी, परांत, बाल्टी, जग, झारे, चकला, चमचा, चमीटा सभी सामग्री नगर पालिका द्वारा प्रदान की गई है। वर्तमान में पीताम्बरा पीठ द्वारा 500 व्यक्तियों के खाने की व्यवस्था की जा रही है। अब लोगों की संख्या के हिसाब से धीरे-धीरे बड़ाया जायेगा। अपर कलेक्टर श्री आशीष कुमार गुप्ता द्वारा शहर के समाजसेवियों, गणमान्यजन, चिकित्सक, वकील, व्यापारी आदि से अपील की है कि वह गरीब को भोजन कराने में खुले हाथ से दान दें।
(195 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2017नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2526272829301
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer