समाचार
|| जिले के गैर डिफॉल्टर किसानों को ऋण मुहैया कराने के निर्देश || 378 स्थानों पर किसान बाजार बनेगें || सबका यही हो सपना, स्मार्ट सिटी हो उज्जैन अपना || कलेक्टर के निर्देश पर मगाए 50 ट्रांसफार्मर व 200 खंबे || जनसंपर्क मंत्री रोजा अफ्तार में सम्मिलित हुए || जनसंपर्क मंत्री ने पब्लिक स्कूल का फीता काटकर शुभारंभ किया || रथ दोज पर भगवान जगन्नाथ का वित्तमंत्री श्री मलैया ने किया पूजन || रेडक्रास ने बहुत उल्लेखनीय कार्य किये हैं, चाहे वृद्धाश्रम का काम हो, दीनदयाल रसोई का काम हो-वित्तमंत्री जयंत मलैया || ग्राम कछौआ में किसान सम्मेलन || सच्ची लगन, मेहनत और मार्गदर्शन से प्रतिभायें उभरती हैं – श्री पवैया
अन्य ख़बरें
कलेक्टर के निर्देश पर पशुपालकों के अवैध निर्माणों पर अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही
-
इन्दौर | 21-अप्रैल-2017
 
   
    कलेक्टर श्री पी. नरहरि के निर्देश पर आज 21 अप्रैल को एसडीएम श्री संदीप सोनी व श्री अजीत श्रीवास्तव तथा श्री डी.डी. शर्मा व श्री प्रदीप कौरव द्वारा नगर निगम के साथ ग्राम सिरपुर में ग्वाला कालोनी से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की गई। 107 पशु पालकों के निर्माणों को प्रशासन व नगर निगम की संयुक्त टीम द्वारा हटाया गया। तीन हेक्टेयर का तालाब क्षेत्र अतिक्रमण से मुक्त कराया गया। मुक्त कराई गई भूमि की कीमत लगभग 15 करोड़ रूपये है। शहर के पशुपालकों को तालाब की भूमि में शहर से बाहर बसाया गया था जो ग्वाला कालोनी के नाम से जानी जाती है। 250 पशुपालकों को पशु पालने हेतु प्रति प्लाट 75 हजार पर प्लाटों का आवंटन नगर निगम द्वारा आवंटित किया गया था। 100 पशुपालकों द्वारा 11 हजार की एक-एक किश्त जमा की गई, शेष राशि किसी ने भी जमा नहीं कराई। पशुपालन के कारण तालाब का जल प्रदूषित होता था। एनजीटी द्वारा तालाब क्षेत्र से निर्माणों को हटाने हेतु प्रशासन व नगर निगम को निर्देशित किया गया था। तत्पश्चात कुछ समय पूर्व एमआईसी नगर निगम द्वारा पशुपालकों का आवंटन रद्द कर दिया गया था। एक सप्ताह पूर्व कलेक्टर एवं नगर निगम द्वारा तालाब का निरीक्षण किया गया तथा कलेक्टर द्वारा शीघ्र ही तालाब के अंदर के निर्माणों को हटाने हेतु निर्देशित किया गया था तथा निगम को निर्देशित किया था कि वह तालाब की सीमा से 60 मीटर तक निर्माण कार्य की अनुमति नहीं दी जाये। नगर निगम द्वारा अनावेदकों को नोटिस जारी करते हुए अवैधानिक निर्माण को हटाने हेतु निर्देशित किया गया था। अवैधानिक निर्माण नहीं हटाने की दशा में प्रशासन, नगर निगम एवं पुलिस के संयुक्त दल द्वारा निर्माण हटाने की कार्यवाही की गई। कार्यवाही के दौरान अपर आयुक्त नगर निगम श्री देवेन्द्र सिंह, उपायुक्त श्री महेन्द्र सिंह चौहान, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री रूपेश द्विवेदी एवं सीएसपी श्री सुनील पाटीदार उपस्थित रहे।
(66 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2017जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2930311234
567891011
12131415161718
19202122232425
262728293012
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer