समाचार
|| मिट्टी की गणेश प्रतिमा निर्माण का वर्ल्ड रिकार्ड बनेगा || शाही सवारी के अवसर पर रामघाट पर भगवान महाकाल का पूजन हुआ || उज्जयिनी में आनन्द भयो जय महाकाल की || उर्वरक, बीज एवं पौध संरक्षण औषधि 03 लाइसेंस निलंबित || 9 सितम्बर को नेशनल लोक अदालत के संबंध में अधिवक्ता संघ के साथ बैठक सम्पन्न || कलेक्टर द्वारा 8 लाख रूपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत || विकेन्द्रीकृत एवं एकीकृत योजना वर्ष 2018-19 || आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम में आज तैनात रहेंगे ये कर्मचारी || शांति और सौहार्द्रपूर्ण वातावरण में मनायें गणेशोत्सव एवं ईदज्जुहा पर्व || सी एम हेल्प लाइन में नई शिकायतों का संतोषजनक निराकरण किया जायें
अन्य ख़बरें
किसानों की समस्याओं का पूरी गंभीरता के साथ समाधान करने का प्रयास किया जायेगा - मुख्यमंत्री श्री चौहान
प्रदेश में किसानों को इस वर्ष में फसल बीमा के रूप में दो हजार करोड़ रूपये वितरित किये जायेंगे
इन्दौर | 04-जून-2017
 
   
    इंदौर संभाग के झाबुआ जिले के भ्रमण के दौरान आमजन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश सरकार किसान हितैषी सरकार है और किसानों की समस्याओं प्रति संवेदनशील है। उन्होनें कहा कि वे किसानों की समस्याओं का पूरी गंभीरता के साथ समाधान करने का प्रयास करेंगे। किसान धैर्यता का परिचय दें तथा अपनी बात को शांति पूर्ण तरीके से रखें। वे रविवार को झाबुआ में हितग्राही सम्मेलन व कृषि विज्ञान मेले के समापन अवसर पर जनसभा को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ओडिटोरियम के लिये भवन की आधार शिला भी रखी।
    अपने उद्बोधन में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पिछले वर्षो में फसल बीमा व फसल क्षति मुआवजा के रूप में एक बड़ी राशि किसानों को वितरित की गई है। इस साल भी प्रदेश में दो हजार करोड़ रूपये की राशि फसल बीमा के रूप में किसानो को वितरित की जायेगी। उन्होंने कहा कि किसानो की आय को दो गुना करने के लिये झाबुआ में जो रोडमेप तैयार किया गया है, वह प्रशंसनीय है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा किसानो की आय को दो गुना करने के लिये योजना बद्ध तरीके से प्रयास किये जा रहे है। सिंचाई के लिये बांध व तालाब बनाकर खेतो तक पानी पहुंचाने के प्रयास किये गये है। वही शून्य प्रतिशत ब्याज से भी आगे बढकर अब यह व्यवस्था की गई है कि किसान 1 लाख रूपये ले जाये और 90 हजार रूपये ही मूल धन के रूप में वापस कर जाये।
    
   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि झाबुआ व अलिराजपुर जिले में उनके द्वारा जितनी भी घोषणाऐ की गई है, उन में से 90 प्रतिशत स्वीकृत हो गई है या उन पर अमल शुरू हो गया है। नर्मदा नदी के पानी को लाने के लिये पूर्व घोषणा अनुरूप अलिराजपुर में प्रथम चरण का कार्य जारी है, वहीं झाबुआ जिले के लिये पानी लाने की रूपरेखा बनाई जा रही है तथा तेजी से काम किया जा रहा है। उन्होने कहा कि पीने के पानी के लिये जहां जैसी जरूरत होगी उस अनुसार ही पानी की व्यवस्था की जायेगी। झाबुआ जिले में जल संरक्षण व लोगो को रोजगार देने के लिये 779 तालाब स्वीकृत किये गये है।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि गावो/मजरो व टोलो को जोडने के लिये सडको का काम तेजी से किया जा रहा है। जो मजरे टोले अभी भी बचे है उनको आगामी दो साल में पक्की बारह मासी सडको से जोड दिया जायेगा। शहरी क्षेत्रो में भी मुख्यमंत्री अधोसंरचना विकास योजना के तहत सडको व नालियों का निर्माण किया जाकर शहरो को सवारने का काम किया जा रहा है। उन्होनें कहा कि चालू वर्ष पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जन्म शताब्दी वर्ष होने से गरीब कल्याण वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। राज्य सरकार ने गरीबो के लिये रोटी, कपडा, मकान व रोजगार की व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया है। मध्यप्रदेश सरकार ने विधान बनाकर यह व्यवस्था की है कि हर गरीब को रहने के लिये जमीन उपलब्ध कराई जावे।
   इसके लिये पट्टा दिया जाकर गरीब को जमीन का मालिकाना हक दिया जा रहा है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत हर गरीब के लिये आवास की व्यवस्था भी की जा रही है। इस वर्ष झाबुआ जिले को 18 हजार आवास का आवंटन किया गया है। अगले वर्ष भी इतने ही आवास दिये जायेगे और जब तक सभी गरीबो के पास आवास की व्यवस्था नहीं बन जाते तब तक आवास आवंटन जारी रहेगा।
    मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री जी आम जन की जिन्दगी में बदलाव लाने के लिये पूरी गंभीरता से प्रयास कर रहे है। उन्होने गांव/शहर में रहने वाली बहनों के लिये निःशुल्क गैस कनेक्शन के लिए उज्ज्वला योजना लागू की ताकि लकडी के चूल्हे के धुंए से महिलाओं को होने वाली बीमारी से बचाया जा सके। मुख्यमंत्री जी ने झाबुआ में हाथीपावा की पहाडी पर 200 हेक्टेयर क्षेत्र में पौधा रोपण की योजना की प्रशंसा की तथा 2 जुलाई को प्रदेश भर में होने वाले पौधा रोपण में सभी से बढ़ चढ़कर भाग लेने की अपील की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उपस्थित जनसमूह को पेड लगाने, पानी बचाने, बेटा-बेटियो को पढाने, विवाह में कार्यक्रमो में शराब व डीजे का उपयोग न करने, बाल विवाह न करने, खुले में शौच न जाने, आदि के लिए संकल्प भी दिलाये।
    जनसभा को जिले के प्रभारी मंत्री श्री विश्वास सारंग ने भी संबोधित किया। उन्होने कहा कि झाबुआ जिले में मनरेगा के तहत प्रदेश से सबसे ज्यादा रोजगार प्रदान किया जा रहा है। इस योजना के तहत वर्तमान स्थिति में जिले में 44 हजार 757 मजदूर कार्य कर रहे है। उन्होने राज्य शासन की योजनाओं से भी आम जन मानस को अवगत कराया। सांसद श्री कांतिलाल भूरिया ने क्षैत्र की मांगे रखी। प्रारंभ में स्वागत उद्बोधन क्षैत्रिय विधायक श्री शांतिलाल बिलवाल ने दिया। कार्यक्रम के अंत में शासन की जनकल्याणकारी योजनाओ में हितग्राहियो को स्वीकृति पत्र/ चेक/सामग्री वितरित कर लाभान्वित किया गया।
    कार्यक्रम में विधायक पेटलावद सुश्री निर्मला भूरिया, विधायक अलिराजपुर श्री नागरसिंह चौहान, जिला सहकारी केन्द्रीय बैक के अध्यक्ष श्री गौरसिंह वसुनिया, झाबुआ नगरपालिका अध्यक्ष श्री धनसिंह बारिया, कमिशनर श्री संजय दुबे, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक इन्दौर श्री अजय शर्मा, कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना, पुलिस अधीक्षक श्री महेशचन्द्र जैन सहित अन्य जनप्रतिनिधि व अधिकारीगण मौजूद थे।
(78 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2017सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
31123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28293031123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer