समाचार
|| न्यायालयों में 9 दिसम्बर को नेशनल लोक अदालत || सर्वोच्च प्राथमिकता वाली योजनाओं की लक्ष्यपूर्ति करें - प्रभारी कलेक्टर || वंचित और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए लघु वनोपज संघ लगातार प्रयत्नशील || महर्षि वाल्मीकी प्रोत्साहन योजना अंतर्गत मिलेगी प्रोत्साहन राशि || विश्व धरोहर सप्ताह में 21-25 नवम्बर तक छायाचित्र प्रदर्शनी एवं चित्रकला प्रतियोगिता || शारीरिक दक्षता परीक्षा 10 दिसम्बर से 6 केन्द्रों पर || जिला स्तरीय रोजगार मेला 24 नवम्बर को || रायसेन दुर्ग परिसर में 22 तथा 23 नवम्बर को छायाचित्र प्रदर्शनी का आयोजन || पुलिस विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों का प्रशिक्षण संपन्न || लोकसेवक एप से ही लगानी होगी हाजिरी
अन्य ख़बरें
निशक्त 18 छात्र सर्जरी कराने हेतु उदयपुर रवाना
कलेक्टर श्री माल सिंह ने रोली, चंदन एवं पुष्पहार पहनाकर किया रवाना, स्वस्थ्य होने कि की मनोकामना
उमरिया | 17-जुलाई-2017
 
  
  निशक्त समाज के अभिन्न अंग है। बचपन से ही विभिन्न कारणों से अपंगता झेल रहे है, लेकिन उनमें समस्त खूबियां भी मौजूद है। भविष्य में वे किसी का सहारा नही लें बल्कि सहारा देने लायक बनें। इसी उद्देश्य से जिला प्रशासन द्वारा गत माह निशक्त छात्रों का चिन्हांकन कराया गया था। समस्त औपचारिकताएं पूरी करने के बाद उनकी सर्जरी कराने हेतु नारायण सेवा संस्थान उदयपुर राजस्थान के लिए ट्रेन से रवाना किया गया है। इनके सहयोग के लिए अभिभावक के साथ कर्मचारियों को भी तैनात किया गया है।
    कलेक्टर श्री माल सिंह ने सर्जरी हेतु रवाना होने वाले 18 छात्रों को रोली, चंदन लगाया तथा पुष्पहार पहनाकर उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए शीघ्र स्वस्थ्य होने की मनोकामना भी ईश्वर से की। इस दौरान सीईओ जिला पंचायत सुश्री सोनिया मीना, उप संचालक समाजिक न्याय अवधेश सिंह, स्वयं सेवी संगठनों के पदाधिकारी, छात्रों के अभिभावक एवं अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।
    कलेक्टर श्री सिंह जब उन्हें माला पहनाया तो बच्चों के चेहरो में खुशी की मुस्कान परिलक्षित हो रही थी वहीं शासन की व्यवस्था एवं कलेक्टर की संवेदनशीलता को देखते हुए अभिभावकों में भी खुशी का ठिकाना नही रहा। ईश्वर ने भले ही इन छात्रों को निशक्ता दी हो लेकिन वे सर्जरी के पश्चात स्वस्थ्य होकर भारत के नव निर्माण में अपनी पहचान बनाने का वायदा भी कलेक्टर से किया।  
    इस दौरान रेल्वे स्टेशन पर छात्रों को अपनत्वता का भाव दिखाते हुए कलेक्टर श्री माल सिंह ने उन्हे नास्ता का पैकेट, पीने के पानी का बाटल प्रदाय करते हुए तैनात कर्मचारियों को पूरी यात्रा में उनका ख्याल करने के निर्देश भी दिए है।
    जिन निशक्त छात्रों को नारायण सेवा संस्थान उदयपुर राजस्थान भेजा गया है उनमें साक्षी बर्मन, निर्मला बैगा, आशीष कुमार साहू, मनीषा बैरागी, पुष्पेंद्र यादव, पूनम कुशवाहा, अंजली बर्मन, रोहित बर्मन, सुनीता, राहुल खट्टर, सचिन यादव, रामू यादव, रूबी सिंह, महेश प्रधान, राजवती, गोल्डी गुप्ता, प्रीति सिंह एवं सुखबदन शामिल है।
कलेक्टर के प्रति परिजनों ने जाहिर की कृतज्ञता
    निःशक्त छात्रों के अभिभावक कलेक्टर की संवेदनशीलता को देखते हुए कृतज्ञता जाहिर की है। परिजनों ने कहा कि जिला प्रशासन के मुखिया के रूप में श्री माल सिंह ने अपने बच्चों की तरह दुलार एवं प्यार बच्चों के प्रति दिखाया है उन्हे अपने हाथों से रोली चंदन एवं पुष्पहार पहनाकर स्वागत किया है वह जीवन भर स्मर्णीय रहेगा।
आशीष साहू को निशक्तता आड़े नही आएगी
 
   बरही निवासी आठ वर्षीय आशीष पिता राम नरेश साहू पैदा होने के एक वर्ष बाद हाथ एवं पैर से विकलांग हो चुका था। पिता की आर्थिक स्थिति ऐसी नही थी कि उसकी सर्जरी नारायण सेवा संस्थान उदयपुर में करा सके। होनहार आशीष, कुसाग्र बुद्धि का है, लेकिन हाथ पैर मे निशक्तता आडे आ रही थी, पठन पाठन के प्रति एक अलग अंदाज उसमे था।
    जिला प्रशासन द्वारा गत वर्ष उसके पैर की सर्जरी उदयपुर में कराई गई तब से वे अपने पैरो पर सामान्य बच्चों की भांति चलने लगा लेकिन हाथ की निशक्तता के कारण अन्य काम काज नही कर सकता था। गत माह पुनः निशक्त बच्चों के चिन्हांकन के साथ आशीष का भी चयन किया गया। अब उदयपुर में उसके हाथ की सर्जरी की जाएगी। आशीष एवं उसके पिता रामनरेश को पूरा भरोसा है कि वहां से लौटने के बाद बिल्कुल ठीक होकर सामान्य बच्चों की तरह अपना बचपना बच्चों के साथ बितायेगा।
    कलेक्टर श्री माल सिंह ने आशीष से सवाल किया जिसका सहजतापूर्वक त्वरित जवाब भी हंसते हुए दिया। कलेक्टर ने इस दौरान शुभकामनाएं देते हुए स्वस्थ्य होने की ईश्वर से कामना की।
(126 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अक्तूबरनवम्बर 2017दिसम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer