समाचार
|| ग्राम गोराघाट में मोबाइल लोक अदालत आज || सेवढ़ा में शौर्यादल सदस्यों का प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित || तीन दिवसीय उद्यमिता जागरूकता शिविर सम्पन्न || रतनगढ़ मेला निर्माण कार्य उपयंत्रियों को दी जिम्मेदारी || रतनगढ़ मंदिर नदी क्षेत्र में न जाने की चेतावनी || मता-पिता और वरिष्ठ नागरिक भरण-पोषण तथा कल्याण अधिनियम 2007 तथा म.प्र. नियम 2009 का क्रियान्वयन के संबंध में जिला समिति की बैठक सम्पन्न || निर्वाचन कंट्रोल रूम के कर्मचारी बदले || शा.कन्या महाविद्यालय में मना युवा उत्सव || फोटो निर्वाचक नामावलियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण-2018 का कार्यक्रम जारी || वीवीपीएटी के प्रचार-प्रसार हेतु दल गठित, मशीन का प्रदर्शन 26 तक
अन्य ख़बरें
टीएल मे अनुपस्थित अधिकारियो पर होगी कार्यवाही- कलेक्टर
टीएल प्रकरणों का निराकरण कर आनलाइन फीड कराएं
उमरिया | 17-जुलाई-2017
 
  
   कलेक्टर श्री माल सिंह ने टी एल में अनुपस्थित ताप विद्युत केंद्र मंगठार के अधिकारी, महाप्रबंधक नागरिक आपूर्ति निगम, कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय, जेल अधीक्षक, तहसीलदार मानपुर के अनुपस्थित होने पर शो काज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है। बैठक में सीईओ जिला पंचायत सुश्री सोनिया मीना सहित अन्य जिला अधिकारी उपस्थित रहे।
   मुख्यमंत्री कौशल उन्नयन के प्रशिक्षण की कार्य योजना तैयार करने हेतु प्राचार्य आईटीआई को निर्देश दिए गए। भवन एवं संनिर्माण कर्मकार मण्डल में दर्ज 15286 हितग्राहियों के छात्र छात्राओं को शासन द्वारा सुलभ कराई जा रही समस्त योजनाओ का लाभ सुनिश्चित करने हेतु सीईओ जनपद, जिला शिक्षा अधिकारी एवं श्रम पदाधिकारी को निर्देशित किया गया है।
   कलेक्टर ने कहा कि आगामी टीएल की समीक्षा आनलाइन की जाएगी। अब टीएल हेतु कोई भी अधिकारी पेपर लेकर नही आयेंगे। पेपरलेश निराकरण की प्रक्रिया अपनाई जाएगी। जिले की समस्त नल जल योजनाओं का भौतिक सत्यापन करने हेतु राजस्व अधिकारी एवं इंजीनियर का दल गठित किया जाएगा जो निर्धारित प्रपत्र में कौन सी नल जल योजना संचालित है, बंद है की विस्तृत जानकारी सहित कितनी राशि का आवंटन एवं व्यय हुआ आदि जानकारी देंगे।
   कलेक्टर श्री माल सिंह ने टीएल बैठक में अधिकारियो से कहा है कि गरीब आवेदकों को समस्याओं के निराकरण हेतु सलाह नही दें बल्कि उनके काम का निपटारा कराकर त्वरित राहत प्रदान करें इससे बड़े पुण्य का काम और नही हो सकता। बैठक में यह बात सामने आई है कि विद्युत वितरण कंपनी द्वारा 60 लाख रूपये राजस्व वसूली के अभी तक जमा नही किए है इस पर कलेक्टर ने तत्काल राशि जमा करने के निर्देश डीई एमपीईबी को दिए है। इस दौरान यह भी बता गया कि जिले के विभिन्न सब स्टेशन की भूमि अभी भी एमपीईबी के नाम नही दर्ज हुई है। इस हेतु राजस्व एवं एमपीईबी के अधिकारियो से कहा है कि वे समन्वित प्रयास कर समस्त औपचारिकताएं पूर्ण कर भूमि का स्थानांतरण कराएं।
   कलेक्टर ने समस्त अधिकारियो एवं कर्मचारियो को हिदायत दी है कि जन सुनवाई में प्राप्त शिकायतों का निराकरण पूरी जवाबदेही के साथ करें। इसमें लापरवाही किसी भी तरह क्षम्य नही होगी। किसान क्रेडिट कार्ड की चर्चा के दौरान कलेक्टर ने सहायक पंजीयक सहकारिता, केंद्रीय सहकारी बैंक, एलडीएम, कृषि, उद्यान विभाग के अधिकारियो से कहा है कि वे जिले के शत प्रतिशत किसानों को केसीसी प्रदाय करे। जिससे वे कृषि कार्य हेतु अपनी आवश्यकतानुसार राशि बैंक से आहरित कर कृषि संबंधी कार्य समय पर कर सके।
वृक्षारोपण एवं शौचालय निर्माण को सर्वोच्च प्राथमिकता दें
   कलेक्टर श्री माल सिंह ने समस्त नोडल अधिकारियों से कहा है कि वे ग्रामीण क्षेत्रों के भ्रमण के दौरान वृक्षारोपण एवं शौचालय निर्माण को सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर देखे और लोगों को इस ओर प्रेरित करे। उन्होने कहा कि पेड लगाने से ज्यादा महत्वपूर्ण उनकी सुरक्षा का है इसलिए रोपे गये पौधों में फेसिंग अनिवार्य रूप से कराएं जिससे जानवर उन्हें नुकसान नही पहुचा सके।
   कलेक्टर ने कहा है कि निरीक्षण भ्रमण के दौरान स्कूल एवं आंगनबाडी केंन्द्रो में संचालित मध्यान्ह भोजन भी बच्चों के साथ बैठकर करें। यदि भोजन मीनू के आधार पर या गुणवत्तायुक्त नही हो तो उसकी तत्काल सूचना कलेक्टर को दें जिससे जिम्मेदार व्यक्ति के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जा सके।
अस्पताल की रसोई का भ्रमण करने हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त
   कलेक्टर श्री माल सिंह अस्पताल के मरीजों को उपलब्ध कराए जा रहे भोजन, नास्ता आदि के परीक्षण हेतु 14 अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है जिसमें सात अधिकारी प्रथम पाली एवं सात अधिकारी द्वितीय पाली का निरीक्षण कर उसकी गुणवत्ता के संबंध में अपना प्रतिवेदन प्रस्तुत करेगे। कलेक्टर ने कहा है कि अस्पताल में मरीजों को यदि चाय, नास्ता, भोजन ठीक नही मिला तो संबंधित जिम्मेदार अधिकारी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी और अधिक व्यय की गई राशि की वसूली भी सबंधित से की जाएगी।
हरियाली अमावस्यां के दिन 1.45 लाख पौधे लगाये जायेगे
समस्त आवश्यक तैयारियां पूरी करें- कलेक्टर
   कलेक्टर श्री माल सिंह ने बताया कि कमिश्नर शहडोल संभाग श्री बी एम शर्मा के मार्गदर्शन में 23 जुलाई 2017 हरियाली महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। जिसमें विभिन्न विभागों एवं हितग्राहियों के यहां लगभग एक लाख 45 हजार  पौधे लगाने की वृहद कार्य योजना तैयार की गई है। इस हेतु अधिकारियो से कहा गया है  कि वे चिन्हित स्थलों का निरीक्षण कर 20 जुलाई तक गढ्ढे खुदवाए, ताकि 23 जुलाई को पौधे रोपित किए जा सके। उन्होने यह भी कहा है कि लगाये गये समस्त पौधो की सुरक्षा हेतु फेसिंग भी कराएं।
   कलेक्टर ने बताया कि 1 लाख 45 हजार  मे से महिला बाल विकास के अंतर्गत आंगनबाड़ी भवनों में 14 हजार 366, नगर पालिका परिषद द्वारा 5400, औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था में 100, शिक्षा विभाग में 2260जिला कमाण्डेंट होमगार्ड में 150,  जल संसाधन, जिला जेल, केंन्द्रीय विद्यालय में 100-100, जन अभियान परिषद में 19615, जिला पंचायत में 55, ग्रामीण यांत्रिकीय सेवा में 200, कृषि विभाग में 490, पशु पालन विभाग में 450, जिला परिवहन कार्यालय में 600, जिला आयुश में 25 आदिवासी विकास में 1890, जनपद पंचायत करकेली में प्रधानमंत्री आवास के हितग्राहियों के यहां 36545, मानपुर में 28415, पाली में प्रधानमंत्री आवास के हितग्राहियो के यहां 9785, जनपद पंचायत करकेली में कृषकों की मेढ़ पर 8560, मानपुर में 6640, पाली में 3420, स्वयं सेवी संस्थाओं द्वारा 5255 के अलावा अन्य चिन्हित स्थलों पर पौधे लगाए जायेगे।
   वृहद वृक्षारोपण कार्यक्रम के तहत आम बीजों के 22846, नीबू के 23935, करौदा के 23945, आंवला के 23846, मुनगा के 24340, आम कलमी 7620, अमरूद कलमी 11 हजार, नीम, गुलमोहर, अमलतास, चंपा, गुडहल के 838-834 तथा बोगन बलिया के 800 पौधे लगाए जायेगे। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि पौध रोपण के पश्चात इन पौधो के सुरक्षा का दायित्व संबंधितों ने लिया है, इसके अतिरिक्त वन विभाग द्वारा भी पौध रोपण का कार्य हाथ मे लिया है।
(67 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2017अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
28293031123
45678910
11121314151617
18192021222324
2526272829301
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer