समाचार
|| धारा-नीर सशक्तिकरण कार्यक्रम का आयोजन आज || अपनी पंचायत के बचे किसानों का पंजीयन करायें (मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना) || बाल श्रमिकों की जानकारी हेतु पेंसिल पोर्टल प्रारंभ || श्रमिकों से संबंधित जानकारी लिबर्टी पोर्टल पर दें || श्रमोदय आवासीय विद्यालय में प्रवेश हेतु आवेदन आमंत्रित || मीसा बंदी नियम में संशोधन || कुण्डेश्वर प्रक्रिया केन्द्र पर विक्रय हेतु बीज उपलब्ध || स्कॉलरशिप आवेदन वेरिफिकेशन की अंतिम तिथि 25 नवम्बर || लेखा प्रशिक्षण सत्र हेतु आवेदन आमंत्रित || प्रधानमंत्री आवास योजना का लक्ष्य 31 दिसम्बर तक पूर्ण करें
अन्य ख़बरें
कलेक्टर ने की पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा
नियमित फील्ड पर जाएं उपयंत्री-कलेक्टर, स्वच्छ भारत मिशन में अपेक्षित प्रगति न होने पर सचिव-उपयंत्रियों की वेतन कटौती के दिए निर्देश
पन्ना | 30-अगस्त-2017
 
 
 
   बार-बार निर्देश देने के बावजूद अभी भी शत प्रतिशत इंदिरा आवासों का निर्माण पूर्ण नही हुआ। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत प्रतिदिन मॉनीटरिंग कर आवासों का निर्माण पूर्ण कराएं। सभी पंचायत समन्वयक यह सुनिश्चित करें कि किसी भी इंदिरा आवास की द्वितीय किश्त लंबित न हो। यह निर्देश कलेक्टर जे.पी. आईरीन सिंथिया ने उस समय दिए जब वह पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक ले रही थी। बैठक का आयोजन जिला पंचायत कार्यालय के सभाकक्ष में किया गया। बैठक में कलेक्टर ने इंदिरा आवास, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, निःशक्तजन प्रमाण पत्र, आम आदमी बीमा, जनश्री बीमा, श्रमिक पंजीयन आदि की जनपदवार विस्तृत समीक्षा की। कलेक्टर ने उपयंत्रियों को अनिवार्य रूप से नियमित फील्ड पर जाकर कार्य पूर्ण कराने के सख्त निर्देश दिए।
    बैठक में ग्रामीण विकास के अन्तर्गत ग्रामीण यांत्रिकी सेवा द्वारा पिछले वर्षो में प्रारंभ कराए गए निर्माण कार्यो के अब तक पूर्ण न होने पर कलेक्टर ने नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कार्यपालन यंत्री ग्रामीण सेवा को अधूरे पडे निर्माण कार्यो को शीघ्र पूर्ण कराकर संबंधित विभाग को हस्तांतरित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि इनमें से आंगनवाडी भवनों का निर्माण प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण कराएं। स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत लक्ष्यपूर्ति की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि माहभर में शौचालय निर्माण में संतोषजनक प्रगति न लाने वाली पंचायतों के सचिव तथा उपयंत्रियों की 5 दिन की वेतन काटने की कार्यवाही करें। जिन पंचायतों में लक्ष्य के अनुरूप लगभग सभी शौचालयों का निर्माण पूर्ण हो चुका है, उपयंत्री ओडीएफ के लिए प्रस्ताव बनाकर भेजें। प्रस्ताव स्वीकृति के पूर्व शत प्रतिशत शौचालयों का निर्माण सुनिश्चित करें। संबंधित पंचायत के आंगनवाडी केन्द्रों एवं अन्य शासकीय भवनों में शौचालय निर्माण एवं उपयोग सुनिश्चित होने के बाद ही ओडीएफ घोषित करने के लिए प्रस्ताव भेजें। उन्होंने जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को विकास कार्यो की नियमित समीक्षा करने के निर्देश दिए।
    प्रधानमंत्री आवास योजना में लक्ष्यपूर्ति की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने कहा कि पूर्ण हुए आवासों की संख्या में और प्रगति लाएं। आवासों की तीसरी तथा चौथी किश्त भुगतान कर समयसीमा में निर्माण पूर्ण कराएं। उन्होंने सत्यापन उपरांत लंबित आदेश पत्र तत्काल जनरेट करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि आवासों के निर्माण में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें। किसी भी स्तर पर अनियमितता बरतने वाले तथा हितग्राहियों का सहयोग न करने वाले अधिकारी-कर्मचारी अप्रिय स्थिति के लिए तैयार रहें। उन्होंने महात्मा गांधी नरेगा योजना के अन्तर्गत प्रारंभ हुए पुराने कार्यो में प्रगति के संबंध में प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। सामाजिक सुरक्षा पेंशन की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने कहा कि एक सप्ताह के भीतर संभावित पात्र पेंशन हितग्राहियों में से वास्तविक पात्र-अपात्रों का सत्यापन कार्य पूर्ण करें। शासन द्वारा एक रूपये ट्रांसफर टेस्ट के दौरान फेल्ड हुए ट्रांजेक्शन में हितग्राही का सही खाता नम्बर एकत्र कर पोर्टल पर जुडवाने की कार्यवाही तीन दिन के अन्दर पूर्ण करें। श्रमिक पोर्टल तथा संनिर्माण कर्मकार मंडल के अन्तर्गत श्रमिकों का नवीन पंजीयन एक पंजीयन नवीनीकरण के कार्य में एक सप्ताह के भीतर अपेक्षित प्रगति सुनिश्चित करें। उन्होंने मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायतों को आम आदमी एवं जनश्री बीमा के स्वीकृत सभी प्रकरणों को तत्काल ऑनलाईन अग्रेषित करने के निर्देश दिए। बैठक के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी गिरीश कुमार मिश्रा, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अशोक चतुर्वेदी, परियोजना अधिकारी जिला पंचायत चन्द्रसेन सिंह, सहायक परियोजना अधिकारी जिला पंचायत एस.के. मिश्रा, जिला समन्वयक जयंती अहिरवार, सभी जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, पंचायत समन्वयक, सहायक यंत्री एवं उपयंत्री उपस्थित रहे।                            
 
(81 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अक्तूबरनवम्बर 2017दिसम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer