समाचार
|| वाहनों के नम्बर प्लेट में पदनाम/विभाग का न लिखवाएं - पुलिस अधीक्षक || मास्टर ट्रेनर्स नियुक्त-मास्टर ट्रेनर्स का प्रशिक्षण 23 को || शासकीय कोष में राशि जमा होगी साइबर कोषालय के माध्यम से || वीडियों कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जनसम्पर्क विभाग की समीक्षा || मंत्री सुश्री मेहदेले ने दी उपचार सहायता || वस्तुपरक मूल्यांकन प्रपत्र 15 दिसंबर तक प्रस्तुत करने के निर्देश || आदिवासी परिवारों को मुनगा पौधे का वितरण एवं प्रशिक्षण || एकात्‍म यात्रा सामाजिक यात्रा बनें '''' श्री तपन भौमिक || कलेक्‍टर द्वारा अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तरीय बैडमिंटन कोर्ट का शुभारंभ || बिजली बिल का अग्रिम भुगतान करें और पाएं छूट
अन्य ख़बरें
भावांतर भुगतान योजना में पंजीयन की तिथि बढ़ी
अब 15 अक्टूबर तक होंगे पंजीयन
नरसिंहपुर | 06-अक्तूबर-2017
 
   ई-उपार्जन वर्ष 2017- 18 के अंतर्गत कलेक्टर डॉ. आरआर भोंसले ने जिले के किसानों से भावांतर भुगतान योजना में शीघ्र पंजीयन कराने की अपील की है। पंजीयन की अंतिम तिथि 11 अक्टूबर से बढ़ाकर 15 अक्टूबर कर दी गई है। इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान अपनी वर्ष 2017 की खरीफ फसलों सोयाबीन, मूंगफली, तिल, रामतिल, मक्का, मूंग, उड़द एवं तुअर के लिए पंजीयन करा सकते हैं।   
   किसान भावांतर योजना के अंतर्गत जिले के गेंहूं/ धान खरीदी केन्द्रों पर जाकर पंजीयन करा सकते हैं। साथ ही किसान द्वारा एमपी ऑनलाइन कियोस्क से, सीएससी- कॉमन सर्विस सेंटर पर अथवा वेबसाइट www.mpeuparjan.nic.in पर जाकर स्वयं अपने कम्प्यूटर से भी पंजीयन किया जा सकता है। पंजीयन के पश्चात संबंधित केन्द्र पर किसान को जो दस्तावेज जमा करने होंगे वे हैं ऑनलाइन आवेदन, आधार कार्ड, बैंक पासबुक, समग्र आईडी और भूमि के खाते/ ऋण पुस्तिका/ वनाधिकार पट्टा/ सिकमी के अनुबंध दस्तावेज की फोटोकापी/ स्केन कापी।
   उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश में किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिए खरीफ 2017 के लिए किसान कल्याण एवं कृषि विभाग ने भावांतर भुगतान योजना लागू की है। इस योजना में अधिसूचित कृषि उपज मंडी प्रांगण में किसान द्वारा चिन्हित फसल उपज का विक्रय किये जाने पर राज्य शासन ने घोषित मॉडल विक्रय दर और भारत सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य के अंतर की राशि किसानों को भुगतान करने का निर्णय लिया है। अंतर के भुगतान की राशि किसानों के खाते में सीधे जमा की जायेगी। भावांतर भुगतान योजना में खरीफ 2017 में सोयाबीन, मूंगफली, तिल, रामतिल, मक्का, मूंग, उड़द एवं तुअर की फसलें ली गई हैं।
(68 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2017जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer