समाचार
|| मुँह बोली बहन श्रीमती जैनब बाई ने किया मंत्री श्री पवैया का तिलक || किसानों की मण्डी में विक्रय फसल का भुगतान सुनिश्चित करें - कलेक्टर || मंत्री श्रीमती माया सिंह आज विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगीं || स्मार्ट सिटी के तहत दो उद्यानों के विकास कार्यों का भूमि पूजन || स्वच्छता अभियान मोहम्मद गोस के मकबरे हजीरा पर चलेगा आज || गौशाला विस्तार हेतु कलेक्टर ने किया शासकीय भूमि का अवलोकन || मनोज शाक्य भी करा सकेंगे सरकारी मदद से अपना हृदय रोग उपचार "सफलता की कहानी" || भावांतर भुगतान योजना के लाभ से किसान वंचित नहीं रहें || प्रशिक्षण स्थल पर मिलेंगे डाक मतपत्र के आवेदन पत्र || डाक मतपत्र के लिये आवेदन करने की अंतिम तिथि 2 नवम्बर तक
अन्य ख़बरें
सीमांकन के लिये यह सबसे उचित समय, शत-प्रतिशत निपटारा करें
राजस्व अधिकारियों की बैठक में कलेक्टर ने दिये निर्देश
उज्जैन | 13-अक्तूबर-2017
 
   
   खरीफ की फसल लगभग कट चुकी है। सीमांकन के लिये यह समय सबसे उचित है। राजस्व अधिकारी अब शत-प्रतिशत सीमांकन कार्य का निपटारा करें। यह निर्देश कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने राजस्व अधिकारियों की समीक्षा बैठक में दिये। बैठक सिंहस्थ मेला कार्यालय सभाकक्ष में सम्पन्न हुई। अपर कलेक्टरद्वय श्री वसन्त कुर्रे व श्री नरेन्द्र सूर्यवंशी, संयुक्त कलेक्टर श्री केके रावत, एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार बैठक में उपस्थित थे।
   कलेक्टर ने निर्देश दिये कि सीमांकन के लिये उपलब्ध मशीन का उपयोग ज्यादा से ज्यादा किया जाये। इसके माध्यम से सीमांकन की प्रग‍ति ऑनलाइन प्रदर्शित होती है। इसलिये अधिकाधिक सीमांकन मशीन द्वारा हो। कलेक्टर ने सीमांकन मशीन के उपयोग हेतु पुन: एक प्रशिक्षण आयोजित करने के निर्देश दिये। जिले के राजस्व निरीक्षक तथा पटवारियों को एक बार फिर इस मशीन से कार्य हेतु प्रशिक्षित किया जायेगा। कलेक्टर ने राजस्व के लम्बित सामान्य नित्य कार्य आगामी 15 नवम्बर तक शत-प्रतिशत निपटाने के निर्देश दिये। कलेक्टर कार्यालय को प्राप्त हुई भूऋण पुस्तिकाओं के जिले में वितरण के लिये भी निर्देशित किया गया। राजस्व अधिकारियों को तीन-तीन हजार नई भूऋण पुस्तिकाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। जाति प्रमाण-पत्रों के वितरण तथा अपूर्ण आवेदनों की पूर्ति के लिये शिविर लगाने के निर्देश कलेक्टर द्वारा दिये गये।
   बैठक में कलेक्टर द्वारा प्राकृतिक घटनाओं में होने वाले नुकसानों की राहत राशि वितरण में तत्परता से कार्यवाही के निर्देश दिये। राजस्व अधिकारी आगजनी, सर्पदंश इत्यादि प्राकृतिक कारणों से होने वाली हानि के प्रकरणों में राहत राशि दो दिवस में पीड़ितों को उपलब्ध करा दें। कलेक्टर ने स्पष्ट किया कि इस प्रकार के प्रकरणों में पीड़ितों को जनसुनवाई में नहीं आना पड़े। इसके साथ ही जिले में कबाड़ दुकानों तथा रूई की दुकानों जैसे संवेदनशील जगहों, जहां आगजनी की संभावनाएं अधिक होती हैं, का सतत निरीक्षण करने तथा इस प्रकार की घटनाओं की संभावनाओं को समाप्त करने के लिये आवश्यक कार्यवाही के निर्देश राजस्व अधिकारियों को दिये गये। कलेक्टर ने कहा कि राजस्व अधिकारी किसी भी प्रकार के राजस्व प्रकरणों को गंभीरता से लेकर समय-सीमा में निपटारा करें।
   बैठक में भावान्तर योजना के तहत पंजीयन, पटवारी सत्यापन की जानकारी दी गई। बताया गया कि बड़नगर तहसील में 12315 किसानों के पंजीयन किये गये हैं। इसी तरह घट्टिया में 7274, खाचरौद में 4006, महिदपुर में 12845, नागदा में 5799 तथा तराना तहसील में 12948 किसानों के पंजीयन किये गये हैं। अविवादित नामांतरण तथा सीमांकन प्रकरणों के निराकरण की जानकारी में बताया गया कि राजस्व वर्ष 2016-17 में चिन्हांकित 17378 अविवादित नामांतरण प्रकरणों में से 17288 प्रकरणों का निराकरण किया गया है। इसी तरह सीमांकन हेतु लम्बित 28056 आवेदनों में से 27596 आवेदनों का निराकरण किया जा चुका है। इसी प्रकार राजस्व अधिकारियों द्वारा किये गये कृषि भूमि नामांतरण की जानकारी में बताया गया कि विगत अप्रैल-2015 से लेकर अब तक 18274 नामांतरण जिले में किये गये हैं। महिदपुर तथा बड़नगर तहसीलों में शत-प्रतिशत कार्य हुआ है। उज्जैन व तराना में 98 प्रतिशत, घट्टिया, खाचरौद में 97 प्रतिशत से अधिक नामांतरण कार्य किया गया है।
राष्ट्रपति से सम्मानित होने पर बैंकर्स ने भी किया कलेक्टर का सम्मान
   राष्ट्रपति से अपने उल्लेखनीय कार्यों के लिये सम्मानित हुए कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे के सम्मान का सिलसिला जारी है। राजस्व अधिकारियों की बैठक के पश्चात बैंकर्स द्वारा भी कलेक्टर का मेला कार्यालय सभाकक्ष में सम्मान तथा अभिनन्दन किया गया। इस अवसर पर जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक श्री अजय तंवर तथा बैंकों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के तहत लम्बित प्रकरणों की समीक्षा की
   कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने राजस्व अधिकारियों की बैठक के पश्चात बैंक सम्बन्धी मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के लम्बित प्रकरणों की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि बैंकर्स प्रतिदिन लम्बित प्रकरणों के निराकरण की स्थिति को स्वयं देखें। प्रतिदिन इसकी समीक्षा की जाये। समय-सीमा का ध्यान रखते हुए कार्य में प्रगति लाई जाये। अपर कलेक्टर श्री वसन्त कुर्रे ने भी समीक्षा की।
(8 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2017नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2526272829301
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer