समाचार
|| इंदौर के एमवाय अस्पताल में सरकारी क्षेत्र का देश का पहला अत्याधुनिक चिकित्सा सुविधाओं से युक्त बोन मैरो ट्रांसप्लांट सेंटर स्थापित || स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंह ने दस व्यक्तियों को सहायता राशि स्वीकृत || गणतंत्र दिवस की संध्या पर भारत पर्व का होगा आयोजन || राष्ट्रीय पल्स पोलियो के संबंध में बैठक 23 जनवरी को || रेरा में पंजीकृत न होने पर प्रोजेक्ट्स पर लगेगा जुर्माना || विशाल हृदय वालों के लिये पूरा विश्व है - मुख्यमंत्री || सामाजिक सुरक्षा पेंशन पाने वालों के लिए बैंकिंग सेवाओं में बदलाव "समसामयिक लेख" || एनआईसी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन हुए शुरू || कॉलेज में लेटरल एंट्री से डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश शुरू || पीएससी परीक्षा की फीस वापसी के लिए प्रक्रिया शुरू
अन्य ख़बरें
साहब, फौती नामांतरण हो गया है, मुझे पटवारी से ऋण पुस्तिका दिलवाएं, संपतबाई की जनसुनवाई में कलेक्टर से गुहार
कलेक्टर ने विष्णुप्रसाद को गन्ने का भुगतान कराने के दिए निर्देश, बी.पी.एल.सूची से नाम काटने पर तहसीलदार को जांच के आदेश
गुना | 14-नवम्बर-2017
 
   
    “साहब, फौती नामांतरण हो जाने के बावजूद हल्के की महिला पटवारी द्वारा मुझे भू-अधिकार ऋण पुस्तिका नहीं दी जा रही है। पटवारी द्वारा ऐसा जानबूझकर किया जा रहा है। साहब, मुझे पटवारी से जल्द भू-अधिकार ऋण पुस्तिका दिलवा दें।” यह गुहार ग्राम भूराखेड़ी निवासी संपतबाई ने आज यहां जनसुनवाई में अपनी व्यथा सुनाते हुए कलेक्टर श्री राजेश जैन से लगाई। कलेक्टर श्री राजेश जैन ने इस प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए उसी वक्त वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए तहसीलदार बमौरी से बात कर निर्देश दिए कि मैं संपतबाई को आप की तरफ भिजवा रहा हूँ। उनको तुरंत भू-अधिकार ऋण पुस्तिका दिलवाकर मुझे दूरभाष पर अवगत कराना सुनिश्चित करें। साथ ही उन्होंने संपतबाई से कहा कि अगर यह आपको भू-अधिकार ऋण पुस्तिका नहीं दिलवाते हैं, तो मुझे जरूर बताना।
    ग्राम हनुमंतपुरा के रहने वाले श्री विष्णु प्रसाद किरार ने कलेक्टर को अपनी व्यथा सुनाते हुए बताया कि दो वर्ष गुजरने के बावजूद उसको कृषक सहकारी शक्कर कारखाना नारायणपुर से गन्ने की राशि का भुगतान प्राप्त नहीं हुआ है, जबकि उसको पैसों की सख्त जरूरत है। विष्णुप्रसाद ने गन्ने की राशि का जल्द भुगतान दिलाने की कलेक्टर से फरियाद की। कलेक्टर ने विष्णुप्रसाद को गन्ने की राशि का भुगतान कराने हेतु जल्द उचित कदम उठाने के उपसंचालक कृषि को निर्देश दिए। गुना निवासी सोनम भार्गव ने कलेक्टर से शिकायत की कि उनकी मां स्वास्थ्य विभाग में स्वास्थ्य कार्यकर्ता के पद पर पदस्थ थीं, जिनकी मृत्यु हुए काफी समय गुजर चुका है। मगर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय के बार-बार चक्कर काटने के बावजूद उसको अब तक अनुकम्पा नियुक्ति नहीं दी गई है। सोनम ने जल्द अनुकम्पा नियुक्ति दिलाने की कलेक्टर से फरियाद की। कलेक्टर ने उसी वक्त वहां मौजूद मुख्य चिकित्सा  एवं स्वास्थ्य अधिकारी के प्रतिनिधि को इस मामले को संवेदनशीलता से लेते हुए तुरंत उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
    ग्राम रेझाई के बाशिंदे श्री विक्रम प्रजापति ने कलेक्टर से शिकायत की कि व्यक्तिगत द्वेष भावना से उसका नाम बी.पी.एल. सूची से काट दिया गया है, जिस कारण उसको शासन की सुविधाओं का लाभ प्राप्त नहीं हो पा रहा है। इससे उसको जीवनयापन करने में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। विक्रम ने बी.पी.एल.सूची में पुन: नाम जुड़वाने की कलेक्टर से फरियाद की। कलेक्टर ने इस मामले में तुरंत जांच कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के तहसीलदार गुना को निर्देश दिए, ताकि विक्रम प्रजापति को न्याय दिया जा सके।
    खामखेड़ा निवासी श्री रामसिंह गडरिया ने कलेक्टर से शिकायत की कि म.प्र.विद्युत मंडल के पास वांछित धन राशि जमा कराने के बावजूद म.प्र. विद्युत मंडल के अधिकारी सिर्फ आश्वासन देने के सिवाए उसके खेत में डी.पी. नहीं रखवा रहे हैं, जिस वजह से वह कृषि भूमि में सिंचाई नहीं कर पा रहा है। रामसिंह ने खेत में जल्द डी.पी.रखवाने हेतु उचित कदम उठाने की कलेक्टर से फरियाद की। कलेक्टर ने अधीक्षण यंत्री म.प्र.विद्युत मंडल को इस मामले में जल्द उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
    गुना निवासी श्री नवदीप सोलंकी ने कलेक्टर से शिकायत की कि मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत उसका मंजूरशुदा ऋण प्रकरण भारतीय स्टेट बैंक में 6 माह से लंबित पड़ा है और बैंक के लगातार चक्कर काटने के बावजूद उसको ऋण नहीं दिया जा रहा है। इसी प्रकार शुभम भार्गव ने भी कलेक्टर से शिकायत की कि उसको भी मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अन्तर्गत ऋण प्रकरण मंजूर हो जाने के बावजूद भारतीय स्टेट बैंक द्वारा साल भर से चक्कर कटवाए जा रहे हैं और उसको ऋण नहीं दिया जा रहा है। कलेक्टर ने इन दोनों शिकायतकर्ताओं  के आवेदन-पत्रों को गंभीरता से लेते हुए इन प्रकरणों में जांच कर जल्द उचित कार्रवाई करने के लीड बैंक प्रबंधक को निर्देश दिए।
    मुरादपुर के ग्रामवासियों ने आज कलेक्टर से मिलकर शिकायत की कि गांव का रोजगार सहायक शौचालय निर्माण के लिए उन्हें तंग कर रहा है। कलेक्टर ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए उसी वक्त वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद बमौरी को निर्देश दिए कि वे स्वयं मुरादपुर जाएं और चौपाल लगाकर ग्रामवासियों की बात सुनें और फौरन शिकायत का निराकरण करें। रोजगार सहायक को उसकी हद में रखना सुनिश्चित करें। कमलापुर निवासी श्रीमती शांतिबाई ने कलेक्टर से शिकायत की कि उसको दो वर्ष से विधवा पेंशन नहीं मिल रही है, जबकि उसके पहले उसको बराबर पेंशन दी जाती थी। शांतिबाई ने पेंशन पुन: शुरू कराने की कलेक्टर से फरियाद की। कलेक्टर ने इस प्रकरण में शीघ्र उचित कार्रवाई करने के उप संचालक सामाजिक न्याय को निर्देश दिए। शंकरपुरा निवासी भूतया ने कलेक्टर से शिकायत की कि उसकी कृषि भूमि पर गांव के दबंगों ने जबरिया कब्जा कर रखा है। भूतया ने अपनी जमीन को दबंगों के कब्जे से मुक्त कराने की कलेक्टर से गुहार लगाई। कलेक्टर ने उक्त भूमि से दबंगों का कब्जा हटाने हेतु जल्द आवश्यक कार्रवाई करने के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व राघोगढ़ को निर्देश दिए।
(68 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
दिसम्बरजनवरी 2018फरवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
25262728293031
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930311234

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer