समाचार
|| मुख्यमंत्री का डुमना आगमन आज || आदि शंकराचार्य ने मध्यप्रदेश की भूमि से दिया सांस्कृतिक एकता का संदेश - शिवराज सिंह चौहान "ब्लॉग " || ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर आज से || आदि गुरू शंकराचार्य जी की प्राकट्य पंचमी पर दौड़ आज प्रातः 6 बजे || आदि शंकराचार्य ने मध्यप्रदेश की भूमि से दिया सांस्कृतिक एकता का संदेश - शिवराज सिंह चौहान "ब्लॉग" || जननी सेवा के लिए 16 एम्बुलेंस को कलेक्टर ने दिखाई हरी झंडी || मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान 1 मई को शाहपुर आयेंगे || माँ नर्मदा की कृपा से लगातार मिल रहा है कृषि कर्मण अवार्ड - मुख्यमंत्री श्री शिवराज चौहान || आदि शंकराचार्य प्राकट्योत्सव पर आज गरिमामय आयोजन || आदि गुरू शंकराचार्य की प्राकट्य पंचमी पर आयोजित दौड़ और संगोष्ठी में शामिल होने कलेक्टर ने नागरिकों से की अपील
आस-पास
बड़वानी
...और खबरें
बुरहानपुर
...और खबरें
धार
...और खबरें
इन्दौर
...और खबरें
झाबुआ
...और खबरें
खण्डवा
...और खबरें
खरगौन
अलिराजपुर
...और खबरें
जिला :: इन्दौर
इतिहास
11/9/2011 2:57:59 AM

इंदौर मध्य प्रदेश प्रान्त का एक प्रमुख शहर है। आर्थिक दृष्टि से यह मध्य प्रदेश की व्यावसायिक राजधानी है। इस शहर में अनेक महल और दो बड़े विश्वविद्यालय हैं। वास्तव मे इन्दौर शहर का संस्थापक जमीन्दार परिवार है जो आज भी बड़ा रावला जूनी इन्दौर मे निवास करता है। सन् 1715 में बसा यह शहर मराठा वंश के होल्कर राज में मुख्यधारा में आया। इंदौर एक पठार पर स्थित है। भौगोलिक स्थिति के कारण यहाँ की जलवायु अच्छी है, और यहाँ का तापमान भारत के अन्य शहरों कि तुलना मे काफी स्थिर रहता है।

 

इन्दौर एक औद्योगिक शहर है। यहाँ लगभग 5000 से अधिक छोटे-बडे उद्योग हैं। पीथमपुर औद्योगिक क्षेत्र मे 400 से अधिक उद्योग हैं और इनमे 100 से अधिक अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के उद्योग हैं। इंदौर व्यवसायिक क्षेत्र मे मध्य प्रदेश का प्रमुख वितरण केन्द्र और व्यापार मंडी है। यहाँ मालवा क्षेत्र के किसान अपने उत्पादन को बेचने और औद्योगिक वर्ग से मिलने आते है। यहाँ के आस पास की जमीन कृषि-उत्पादन के लिये उत्तम है और इंदौर मध्य-भारत का गेहूँ, मूंगफली और सोयाबीन का प्रमुख उत्पादक है। यह शहर, आस-पास के शहरों के लिए प्रमुख खरीददारी का केन्द्र भी है। इन्दौर अपने नमकीनों के लिये भी जाना जाता है।

 

इंदौर वैज्ञानिक तकनीकी अनुसन्धान और शिक्षा के क्षेत्र मे भी एक मुख्य शहर है। यहाँ राजा रामन्ना प्रगत प्रौद्योगिकी केन्द्र, (RRCAT) तथा भारतीय प्रबंधन संस्थान (आई.आई.एम.) जैसे भारत के महत्त्वपूर्ण संस्थान हैं। 2007 में इन्दौर में लगभग 30 इंजीनियरिंग कालेज हैं। महात्मा गांधी मेडिकल कालेज, एक दन्त-चिकित्सा महाविद्यालय, एक कृषि महाविद्यालय, होल्कर विज्ञान महाविद्यालय, तथा अनेक पब्लिक स्कूल हैं। यहाँ पर भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान की एक शाखा भी खुल गयी है।

District Information
Area
3898 Sq. Km
PANCHAYAT
335
VILLAGE
677
No. Of Blocks
04
No. Of Tehsils
04
Population
2585321
Male
1352849
Female
1232472
Literacy %
64.21 %
Male
72.71 %
Female
54.88 %
एक नज़र

पाठकों की पसंद
जिले के महत्वपूर्ण फोटो

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer