समाचार
|| कोविड-19 मीडिया बुलेटिन - जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण से 139 नये व्यक्ति हुये स्वस्थ || किसानों को 5 दिनों के मौसम को देखते हुये कृषि कार्य करने की सलाह || अभी तक जिले में 178046 व्यक्तियों ने लगवाया टीका || कोरोना कर्फ्यू के दौरान पथ विक्रेताओं के माध्यम से फल-सब्जी की आपूर्ति है जारी || जिले के खरीदी केन्द्रों में गेहूं की खरीदी जारी || विकासखंड चौरई के एक ग्राम व चौरई नगर के 2 वार्डों का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित || विकासखंड परासिया के 2 नगरों का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित || ट्रेन से आने वाले 7 यात्रियों को किया गया कोरेंटाईन || विकासखंड जुन्नारदेव के एक ग्राम व दो नगरों का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित || विकासखंड चौरई के एक ग्राम व एक नगर का निर्धारित क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया घोषित
अन्य ख़बरें
जो दुकानदार मास्क न लगाएँ और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करें उनकी दुकानें सील्ड करें - प्रमुख सचिव श्री संजय दुबे
ग्वालियर जिले के प्रभारी सचिव ने की कोरोना से निपटने की रणनीति व उपायों की समीक्षा
ग्वालियर | 05-अप्रैल-2021
 
    कोरोना संक्रमण पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिये कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन जरूरी है। इसलिये जिन दुकानों एवं प्रतिष्ठानों पर कोरोना गाइडलाइन का पालन न हो उन्हें सील्ड करें। साथ ही बार-बार आगाह करने के बाद भी जो दुकानदार मास्क न लगाएँ, दो गज दूरी के नियम का पालन न कराएँ और सेनेटाइजर न रखें, उनके खिलाफ पुलिस में प्राथमिकी भी दर्ज कराई जाए। इस आशय के निर्देश ग्वालियर जिले के प्रभारी सचिव एवं प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री संजय दुबे ने दिए। श्री दुबे ग्वालियर जिले में कोरोना की रोकथाम एवं कोरोना टीकाकरण की समीक्षा कर रहे थे। ज्ञात हो राज्य शासन ने प्रमुख सचिव श्री दुबे को ग्वालियर जिले में कोरोना की रोकथाम संबंधी उपायों की मॉनीटरिंग के लिये प्रभारी सचिव की जिम्मेदारी सौंपी है।
    सोमवार को यहाँ मोतीमहल स्थित मानसभागार में आयोजित हुई बैठक में प्रमुख सचिव श्री दुबे ने कहा कि शहर के सभी बाजारों के दुकानदारों को स्पष्ट संदेश पहुँचा दें कि उन्हीं दुकानों व प्रतिष्ठानों को खोलने की अनुमति रहेगी, जिन दुकानों में कोरोना गाइडलाइन का पालन होगा। उन्होंने यह भी हिदायत दी कि सरकारी व निजी दफ्तरों में कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन सामने आए तो उनके कार्यालय प्रमुख के खिलाफ भी कार्रवाई की जाए। साथ ही जन मानस को भी अनिवार्यत: मास्क लगाने के लिये प्रेरित करें। जो लोग समझाने के बाबजूद मास्क का उपयोग नहीं कर रहे हैं उन पर जुर्माना लगाएँ। प्रमुख सचिव ने कहा कि प्रयास ऐसे हों जिससे जन मानस में संदेश पहुँचे कि आप सबके सहयोग से ही कोरोना की रोकथाम संभव है। आप सब सुरक्षित रहेंगे तभी कोरोना को हराया जा सकता है।
    समीक्षा बैठक में प्रमुख सचिव श्री संजय दुबे ने सरकारी व निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों के लिये कुल बैड, ऑक्सीजन सुविधा युक्त बैड व आईसीयू बैड उपलब्धता की जानकारी ली। साथ ही  लक्ष्य के अनुरूप हर दिन सेम्पल लेकर कोरोना की जाँच, अधिक संक्रमण वाले क्षेत्र व इन इलाकों में कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण, कोरोना से हुई मृत्यु की ऑडिट की भी समीक्षा की।
    बैठक में संभाग आयुक्त श्री आशीष सक्सेना, कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी, नगर निगम आयुक्त श्री शिवम वर्मा, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री किशोर कान्याल, स्मार्ट सिटी की सीईओ श्रीमती जयति सिंह, जीआर मेडीकल कॉलेज के डीन डॉ. एस एन अयंगर व जेएएच के अधीक्षक डॉ. केआरएस धाकड़, एडीएम श्री टी एन सिंह व श्री रिंकेश वैश्य, संयुक्त संचालक स्वास्थ्य डॉ. आर के दीक्षित, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनीष शर्मा तथा ग्वालियर शहर के इंसीडेंट कमाण्डर व अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।
संभाग आयुक्त श्री आशीष सक्सेना एवं कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने ग्वालियर जिले में कोरोना की रोकथाम के लिये बनाई गई रणनीति एवं लागू किए गए उपायों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।
जगह कम हो तो होम आइसोलेशन वाले मरीजों को अस्पतालों में शिफ्ट कराएँ
    प्रमुख सचिव श्री संजय दुबे ने जोर देकर कहा कि इंसीडेंट कमाण्डर की टीम इस बात का पता लगाए कि होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना संक्रमितों के घर पर पर्याप्त जगह है कि नहीं। यदि जगह न हो तो उन्हें कोविड अस्पताल / केयर सेंटर में शिफ्ट कराएँ। उन्होंने कहा उन्हीं मरीजों को होम आइसोलेशन की अनुमति दी जाए, जिनके घर पर पर्याप्त जगह हो, जिससे घर के और सदस्य संक्रमण से बच सकें। श्री दुबे ने प्रभावी ढंग से माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने की बात भी कही। साथ ही कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग पर बल देते हुए संबंधितों की कोरोना जाँच कराने के लिये कहा।
एहतियात बतौर 4000 मरीजों के एक साथ इलाज की व्यवस्था रखें
    जिले के प्रभारी सचिव श्री संजय दुबे ने बैठक में यह भी निर्देश दिए कि बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण से निपटने के लिये हर प्रकार के एहतियाती उपाय किए जाएं। उन्होंने कहा कि सरकारी एवं निजी अस्पतालों को मिलाकर एहतियात बतौर ऐसे इंतजाम की पुख्ता प्लानिंग करें, जिससे जरूरत पड़ने पर एक साथ 4 हजार मरीजों का इलाज संभव हो सके।
टीकाकरण की लक्ष्यपूर्ति के लिये पुख्ता रणनीति के साथ लगवाएँ टीके
    प्रमुख सचिव श्री संजय दुबे ने बैठक में कहा कि प्रदेश सरकार का कोरोना टीकाकरण की लक्ष्यपूर्ति पर विशेष जोर है। इसलिये पुख्ता रणनीति बनाकर वैक्सीनेशन का काम किया जाए। पहले से तयशुदा कार्यक्रम के अनुसार विभिन्न वार्डों में अभियान बतौर पर्याप्त संख्या में वैक्सीनेटर व अन्य कर्मचारी तैनात कर कोरोना का टीकाकरण कराएँ। साथ ही जहाँ टीकाकरण होना हो वहाँ के निवासियों को पहले से ही इसकी सूचना दी जाए जिससे टीकाकरण केन्द्रों पर भीड़ जमा न हो और लोग भी निर्धारित तिथि को टीका लगवाने पहुँच सकें।
वीडियो कॉलिंग के जरिए कोरोना मरीज से पूछे हालचाल
    समीक्षा बैठक के पहले प्रमुख सचिव श्री संजय दुबे ने स्मार्ट सिटी के कंट्रोल एण्ड कमाण्ड सेंटर पहुँचकर कोरोना रणनीति को लागू किए गए उपायों की जानकारी ली। साथ ही यहाँ से वीडियो कॉलिंग के जरिए एक कोरोना मरीज से बात कर उसके हालचाल जाने। कोरोना मरीज ने उन्हें बताया कि कमाण्ड सेंटर से वीडियो कॉलिंग के जरिए मुझे लगातार चिकित्सकीय सलाह मिल रही है। इस मौके पर स्मार्ट सिटी की सीईओ श्रीमती जयति सिंह ने उन्हें कंट्रोल कमाण्ड सेंटर से कोरोना मरीजों के सहायतार्थ चल रही गतिविधियों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी।
(11 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मार्चअप्रैल 2021मई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2930311234
567891011
12131415161718
19202122232425
262728293012
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer