समाचार
|| कोरोना पर भारी, कील कोरोना अभियान जारी "खुशियों की दास्ताँ" || मुख्यमंत्री श्री चौहान विभिन्न पेंशन योजनाओं के हितग्राहियों के खाते में पेंशन राशि अंतरित करेंगे || देवेन्‍द्र लुटारे ने दी कोरोना को मात, खुशी-खुशी लौटे अपने घर (कहानी सच्ची है) || केन्द्रीय जेल होशंगाबाद में 131 बंदियों को लगाई गई वैक्सीन || सांसद श्री सिंह द्वारा होशंगाबाद जिले के 8 लोगों को उपचार के लिए प्रदान किये 40 हजार रुपए || बोहरा समाज ने दीनदयाल रसोई के लिए कलेक्टर को 30 हजार रूपये भेंट किये - खुशियों की दास्ताँ || इच्छाशक्ति और आत्मबल से कोरोना पर जीत निश्चित || कोविड केयर सेंटर में भर्ती मरीजों का उपचार के साथ-साथ हौसला भी बढ़ा रहे हैं निजी चिकित्सक - खुशियों की दास्ताँ || मुख्यमंत्री श्री चौहान के स्वेच्छानुदान मद से जिले के एक हितग्राही को 20 हजार रूपए की सहायता राशि स्वीकृत || कोरोना वालेंटियर्स ने कोरोना महामारी से बचाव के लिए शपथ दिलायी -  खुशियों की दास्ताँ
अन्य ख़बरें
अप्रैल माह से नवीन राजस्व वर्ष प्रारंभ
इस वर्ष से नवीन खसरा तैयार किया जायेगा
उमरिया | 06-अप्रैल-2021
      भू-अभिलेख आयुक्त ने बताया कि अप्रैल माह से नवीन राजस्व वर्ष प्रारंभ हो गया है। अप्रैल 2021 से नवीन खसरा तैयार किया जायेगा। उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश भू-राजस्व 1959 में प्रत्येक ग्राम के लिए भू-अभिलेख संधारित करने का प्रावधान है। संहिता के अन्तर्गत एवं मध्यप्रदेश भू-राजस्व संहिता (भू-सर्वेक्षण एवं भू-अभिलेख) नियम, 6 जुलाई 2020 में किये गये प्रावधानों के अनुसार इस राजस्व वर्ष से खसरे का नवीन प्रारूप लागू किया जा रहा है।
    उन्होंने नवीन भू-राजस्व संहिता की जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान खसरे में कालम नंबर-1 में सर्वे संख्या अंकित किया जाता था अब नवीन खसरे के कालम नंबर-1 में प्रत्येक भूमि के भाग को एक यूनिक आईडी दी जायेगी जो सिस्टम जनरेटेड होगी। भविष्य में जैसे-जैसे जीआईएस नक्शे वर्तमान नक्शों का स्थान लेंगे उसी अनुसार यूनिक आईडी का स्थान ले लेंगे। खसरे के कालम नंबर-2 में अब यह जानकारी दी जायेगी कि भूमि का वास्तविक प्रकार क्या है। भूमि कृषि के उपयोग में है या कृषि भिन्न है। यदि कृषि भूमि है तो सर्वे संख्या के साथ (एस) लिखा जायेगा। कृषि भिन्न उपयोग की स्थित में ब्लाक संख्या के साथ (बी) एवं भूखण्ड संख्या के साथ (पी) का उल्लेख करना होगा। भू-अभिलेख आयुक्त ने बताया कि वर्तमान खसरा के कालम नंबर-3 में अभी कब्जेदार का नाम, निवास स्थान, स्वामित्व का अधिकार एवं लगान का उल्लेख होता था। नवीन खसरे के कालम नंबर-3 में भू-खण्ड संख्या को दर्शाया जायेगा। कालम नंबर-3 में यदि भूमि कृषि भिन्न उपयोग की है तो उसका भूखण्ड संख्या अंकित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि वर्तमान खसरे के कालम नंबर-4 में अभी भू-स्वामी या पट्टेदार का या किसी मौरूषी कास्तकार के उपपट्टेदार का नाम पट्टे की रकम और उपपट्टे के भाग का क्षेत्रफल दर्शाया जाता था। नवीन खसरे के कालम नंबर-4 में भूमि का क्षेत्रफल, उपयोग भू-राजस्व या भू-भाटक का उल्लेख किया जायेगा। यदि भूमि कृषि है तो क्षेत्रफल हेक्टेयर में और कृषि भिन्न उपयोग की स्थिति में वर्गमीटर में क्षेत्रफल का उल्लेख होगा।
    उन्होंने बताया कि नवीन खसरा के कालम नंबर-5 में भूमि स्वामी का संपूर्ण विवरण और यदि भूमि शासकीय है तो उसका विवरण अंकित होगा। भूमि स्वामी का नाम, उसके माता-पिता, पति का नाम, निवास का पता का विवरण होगा। भूमि के शासकीय होने पर उसकी स्थित का स्पष्ट विवरण दिया जायेगा। नवीन खसरा के कालम नंबर-6 में भूमि स्वामियों के नाम अंश सहित अंकित किये जायेंगे। कालम नंबर-7 में सरकारी पट्टेदार का नाम, माता-पिता, पति का नाम उसका पता, पट्टे अवधि एवं उसके क्षेत्रफल का उल्लेख होगा। उन्होंने बताया कि कालम नंबर-8 में नवीन खसरे में पड़ती भूमि का उल्लेख नहीं किया जायेगा। जब कभी पड़ती की जानकारी की  आवश्यकता होगी तो उसे कालम नंबर-4 के अंकित क्षेत्रफल से कालम नंबर-11 में अंकित क्षेत्रफल से घटाने से प्राप्त किया जा सकेंगा। कालम नंबर-9 में बंधक, दृष्टि बंधक एवं भू-अर्जन की प्रक्रियाधीन भूमि का उल्लेख आयेगा। कालम नंबर-10 में फसल का विवरण अर्थात रबी, खरीफ, जायद फसल का उल्लेख किया जायेगा। असिंचित को (अ) एवं सिंचित को (सि) का उल्लेख होगा। उन्होंने बताया कि कालम नंबर-12 में भूमि पर स्थाई संरचना एवं ऐसी जानकारियां जो खसरे के कालम नंबर-1 एवं 11 में नहीं आयीं है का उल्लेख होगा।
 
(36 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer