समाचार
|| निधि को मिला अपनों का साथ होम आईसोलेशन में रहकर दी कोरोना को मात (कोविड स्टोरी) || नगरीय निकायों सहित ग्रामीण क्षेत्रों में कराया गया सैनिटाईजेशन || किल कोरोना अभियान के तहत ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में घर-घर जाकर किया जा रहा सर्वे "खुशियों की दास्तां" || कोरोना वालेंटियर ईश्वर सिंह राठौर और टीम ग्रामीणों को संक्रमण से बचाने में बन रही मददगार "खुशियों की दास्ताँ" || जिले में 45 वर्ष से अधियु आयु वर्ग तथा 18 से 44 वर्ष तक के नागरिकों का कोविड-19 टीकाकरण जारी || समाज सेवी संस्था प्रस्फुटन एवं नवांकुर समिति दमक की अनूठी पहल "खुशियों की दास्तां" || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अंतर्राष्ट्रीय नर्सेस दिवस के अवसर पर प्रदेश की सभी नर्सों को किया संबोधित || कोरोना पर भारी, कील कोरोना अभियान जारी "खुशियों की दास्ताँ" || मुख्यमंत्री श्री चौहान विभिन्न पेंशन योजनाओं के हितग्राहियों के खाते में पेंशन राशि अंतरित करेंगे || देवेन्‍द्र लुटारे ने दी कोरोना को मात, खुशी-खुशी लौटे अपने घर (कहानी सच्ची है)
अन्य ख़बरें
कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट इलैयाराजा टी ने कोरोना संक्रमण के फैलते प्रभाव को देखते हुए जिले में धारा-144 के तहत आदेश जारी किये
शादी समारोह एवं सामाजिक कार्यक्रमों में दोनों पक्षों से अधिकतम 100 व्यक्ति ही शामिल हो सकते हैं
रीवा | 07-अप्रैल-2021
      कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट डॉ. इलैयाराजा टी ने कोविड संक्रमित व्यक्तियों के पुन: मामले प्रकाश में आने और कोरोना संक्रमण के फैलते प्रभाव पर नियंत्रण के लिए दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा-144 (1) एवं मध्यप्रदेश पब्लिक हेल्थ एक्ट 1949 की धारा 71 (1), 71 (2) के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किये हैं।
    कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट ने आदेश जारी किया है कि जिले में सामाजिक, राजनैतिक, धार्मिक आयोजन के लिए संबंधित थाना प्रभारी को सूचना देते हुए आयोजित किये जा सकेंगे। एसडीएम अपने-अपने क्षेत्र अन्तर्गत सतत निगरानी एवं निरीक्षण करेंगे। जिला आपदा प्रबंधन समिति के निर्णय के अनुसार शादी समारोह एवं अन्य सामाजिक कार्यक्रमों में अधिकतम 100 (दोनो पक्षों में 50-50) एवं तिलक कार्यक्रम में दोनों पक्षों से कुल 50 व्यक्ति ही शामिल हो सकेंगे। उठावना, मृत्यु भोज आदि कार्यक्रमों में अधिकतम 50 व्यक्ति शामिल हो सकेंगे। कार्यक्रमों में डीजे, हलवाई तथा अन्य स्टाफ 100 की संख्या में शामिल माने जायेंगे। उन्होंने आदेश जारी किया है कि बंद हाल में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में हॉल की क्षमता का 50 प्रतिशत (अधिकतम 100 व्यक्ति ) शामिल हो सकेंगे।
    कलेक्टर ने प्रत्येक मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई को आगामी आदेश तक स्थगित कर दिया है। इसके स्थान पर जनसुनवाई पेटी लगाई जायेगी जिसमें आवेदक अपना आवेदन डाल सकेंगे।
    उन्होंने बताया कि कोविड-19 प्रोटोकाल (फेस मास्क, सेनेटाइजर, सोशल डिस्टेंसिंग एवं थर्मल स्क्रीनिंग) का पालन किया जाय। मास्क नहीं लगाने पर 100 रूपये जुर्माना होगा तथा आवश्यकता होने पर अस्थाई जेल में भी भेजे जा सकेंगे। उन्होंने कहा कि समस्त दुकानों एवं व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में रस्सी के माध्यम से अथवा चूना के गोले बनाकर सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करायी जायेगी। दुकानदारों को स्वयं तथा स्टाफ को मास्क लगाने तथा दुकानों एवं प्रतिष्ठानों में आने वालों के लिए मास्क का इस्तेमाल प्रतिष्ठान द्वारा सुनिश्चित कराया जायेगा। दुकान के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित कराने हेतु गोले बनाना अनिवार्य होगा। उपरोक्त का उल्लंघन करने पर 500 रूपये जुर्माना होगा तथा दूसरी बार उल्लंघन करने पर 10 हजार रूपये का जुर्माना वसूला जायेगा तथा उपरोक्त दुकान एवं प्रतिष्ठान को सील कर दिया जायेगा। बार-बार उल्लंघन करने पर विधि के अनुसार दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।
    उन्होंने कहा कि नगर पालिका निगम क्षेत्र के अन्तर्गत आयुक्त नगर पालिक निगम एवं अनुविभाग अन्तर्गत उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार तथा नगर पुलिस अधीक्षक, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस, नगर परिषद क्षेत्र अन्तर्गत नगर पालिका अधिकारी, थाना प्रभारी के उड़नदस्ता द्वारा कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन नहीं करने पर अर्थदण्ड तथा आवश्यक वैधानिक कार्यवाही करेंगे। कोविड-19 की रोकथाम एवं बचाव के लिए रीवा जिले के बाहर से आने वाले समस्त व्यक्तियों को 7 दिवस तक होम क्वारेंटाइन रहना अनिवार्य होगा।
    कलेक्टर ने कार्यालयों, बैंक, अस्पताल परिसर में लोगों को शत-प्रतिशत मास्क लगाने तथा मुख्य गेट पर एक कर्मचारी की ड्यूटी लगाने के निर्देश दिये जो आने वाले सभी व्यक्तियों की जानकारी अंकित करेगा। आटो रिक्शा, बस तथा सार्वजनिक यात्री वाहनों में यात्रा करने वाले यात्रियों को मास्क लगाने के निर्देश दिये गये हैं तथा सार्वजनिक यात्री वाहनों में निर्धारित क्षमता से अधिक यात्रियों को बैठाना दण्डनीय होगा। कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिये पूर्व में गठित रैपिड रिस्पांस टीम पूर्ववत कार्य करेगी तथा आवंटित कार्य क्षेत्र में भ्रमण कर उपरोक्त आदेशों एवं अन्य कोविड प्रोटोकाल का अनुपालन सुनिश्चित करायेगी।
(35 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer