समाचार
|| लोकसेवकों और उनके परिजनों के आकस्मिक निधन पर कलेक्टर ने व्यक्त किया शोक || बुधवार को 1418 लाभार्थियों को लगाया गया कोविड-19 वैक्सीन || जिला पंजीयक व उप पंजीयक कार्यालय 10 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ खुल सकेंगे || कोरोना से लड़ाई में आगे आये डीएफओ श्री विश्वकर्मा (कोविड स्टोरी) || प्रशासन द्वारा कराया जा रहा है जनता कर्फ्यू का पालन || निधि को मिला अपनों का साथ होम आईसोलेशन में रहकर दी कोरोना को मात (कोविड स्टोरी) || नगरीय निकायों सहित ग्रामीण क्षेत्रों में कराया गया सैनिटाईजेशन || किल कोरोना अभियान के तहत ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में घर-घर जाकर किया जा रहा सर्वे "खुशियों की दास्तां" || कोरोना वालेंटियर ईश्वर सिंह राठौर और टीम ग्रामीणों को संक्रमण से बचाने में बन रही मददगार "खुशियों की दास्ताँ" || जिले में 45 वर्ष से अधियु आयु वर्ग तथा 18 से 44 वर्ष तक के नागरिकों का कोविड-19 टीकाकरण जारी
अन्य ख़बरें
जिला अस्पताल बन रहा है सर्वसुविधा युक्त
जिला अस्पताल में स्थापित सेंटर लैब के माध्यम मरीज अब, त्याधुनिक मशीनों से 101 प्रकार की जांच करा सकेंगे- कलेक्टर श्री शुक्ला, कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला ने जिला अस्पताल का किया निरीक्षण निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री शुक्ला ने दिए आवश्यक दिशा निर्देश
देवास | 07-अप्रैल-2021
कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला ने बुधवार को जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिला अस्पताल में स्थापित सेंटर लैब का अवलोकन किया। कलेक्टर श्री शुक्ला ने बताया कि जिला अस्पताल अब सर्वसुविधा युक्त बन रहा है। जिला अस्पताल में सेंटर लैब स्थापित की गई, जिसमें  मरीज अत्याधुनिक मशीनों से 101 प्रकार की जांचे करवा सकेंगे। निरीक्षण के दौरान एसडीएम श्री प्रदीप सोनी, सीएमएचओ डॉ. एमपी शर्मा, सिविल सर्जन डॉ. अतुल कुमार बिड़वई, लैब इंजार्च डॉ. अजय पटेल, लैब सुपरवाइजर नितिश साहू सहित अन्‍य संबंधित उपस्थित थे।
    निरीक्षण के दौरान कलेक्टर श्री शुक्ला ने निर्देश दिए कि अस्पताल की पूरी व्यवस्थाएं सुदृढ़ हों। मरीजों को किसी भी प्रकार की तकलीफ न हो इसका विशेष ध्यान रखा जाएं। उन्होंने निर्देश दिए अस्पताल परिसर की नियमित साफ-सफाई हों तथा कहीं भी गंदगी न हो। इसका भी विशेष ध्यान रखें। उन्होंने सीएमएचओ को स्वास्थ्य संबंधी आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं।
    सीएमएचओ डॉ. शर्मा ने बताया जिला अस्पताल में पूर्व पुरानी लैब संचालित हो रही थी, जिसमें 40 से अधिक जांचे हो रही थी। शासन द्वारा जिला अस्पताल को उन्नयन करते हुए सेंटर लैब बनाई गई है, जिसमें अत्याधुनिक मशीनों को स्थापित किया गया है। इन मशीनों के माध्यम से 101 प्रकार की जांचे नि:शुल्क की जाएगी। इन मशीनों में 5 मशीनें आधुनिक तकनीकी पद्धति की हैं। जिनमें में सीबीसी जांचे हेतु सिस्मेक्स एक्स 550 मशीन जिसमें ब्लड संबंधी हीमोग्लोबिन, प्लेट्लेट्स, आरबीसी, ड्ब्ल्यूबीसी काउंट की जांचें होंगी। इसी प्रकार दूसरी मशीन बीए 400 मशीन द्वारा ब्लड की बायो केमेस्ट्री की जांच होगी जैसे एलएफ-टी, आरएफ-टी, लिपिड प्रोफाइल, शुगर, यूरिक एसिड, इलेक्ट्रोलाइट आदि है। इसी प्रकार 03 मशीन के माध्यम से यूरिन संबंधी संपूर्ण जांच हेतु यूरी स्केन होगी। चौथी मशीन बी-टीगो- (कॉगोलोमीटर) ये पीटी, एपीटीटी, डी-डायमर, ब्लड सीरम संबंधी जांचे होगी। पांचवीं में सीमैनस, एडीविया सेंटर सीपी, थायराइड संबंधी टी-3, टी-4, टी-एसएच, पी-एसए टोटल जांचे  जांच होगी। छटी वीं मशीन एचपीसीएल इसमें एच-6 एसी, थैलीसिमिया  होगी।
    सीएमएचओ डॉ शर्मा ने बताया कि जिला अस्पताल में कोविड-19 की जांचे सीटी स्केन की सुविधा उपलब्ध है, जिसका संचालन सिद्धार्थ सिटी स्केन एमआरआई सेंटर प्रायवेट लिमिटेड द्वारा किया जाता है। जिला चिकित्सालय में भर्ती होने वाले बीपीएल कार्डधारी एवं दीनदयाल कार्ड धारी की नि:शुल्क सीटी स्केन की जाती है। साथ ही सामान्य परिवारों के व्यक्तियों के लिए 933 रुपए का शुल्क निर्धारित है। जिला अस्पताल में एक्स-रे की डिजिटल एवं मैन्यूअल मशीन के माध्यम से जांचे की जा रही है। उन्होंने बताया कि जिले के आम नागरिक चिकित्सीय परामर्श एवं चिकित्सक के द्वारा उपरोक्त जांचे नि:शुल्क की जाएगी। जिसमें कोरोना से संबंधी पैथोलॉजी जांचे निशुल्‍क होगी।
(35 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer