समाचार
|| खालवा में होम आइसोलेशन वाले मरीजों के घरों का निरीक्षण किया कलेक्टर ने || शासन द्वारा जिले में रेमडेसिविर इंजेक्शन की समुचित उपलब्धता कराई जा रही है सुनिश्चित || किल कोरोना अभियान के व्दितीय चरण के अंतर्गत अभी तक कुल 4 लाख 7273 व्यक्तियों का किया गया सर्वे और स्क्रीनिंग || जिला कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर द्वारा विगत 24 घण्टे में 102 प्रकरणों का निराकरण || द्वितीय चरण में सोमवार को लगवाया 2818 लोगो ने टीका || बड़वानी के कोरोना प्रभारी मंत्री श्री पटेल ने किया कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण || कोविड टीकाकरण उत्सव के दूसरे दिन 12 हजार 397 व्यक्तियों को लगा टीका || अज्ञात शत्रु से हम सबको मिलकर लड़ना है-पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर || रेमडेसिवीर इंजेक्शन का किया गया कोविड-19 अस्पतालों को वितरण || बीएमसी में कोविड मरीजों के लिए बैड की संख्या बढ़ाई
अन्य ख़बरें
मुख्यमंत्री ने प्रदेश के 1891 उद्यमों का किया वर्चुअली लोकार्पण
जिले में औद्योगिक निवेश को बढ़ावा देने किए जा रहे हैं निरंतर प्रयास- कलेक्टर, जिले में भी तीन नवीन औद्योगिक इकाईयों का हुआ लोकार्पण
रायसेन | 08-अप्रैल-2021
    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल स्थित मिंटो हॉल में आयोजित राज्य स्तरीय वर्चुअल कार्यक्रम में प्रदेश के 1891 सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों का प्रदेशव्यापी शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उत्कृष्ट एमएसएमई इकाईयों एवं स्टार्टअप उद्यमियों को सम्मानित किया और जिलों के उद्यमियों से संवाद भी किया। रायसेन कलेक्ट्रेट स्थित सभाकक्ष में आयोजित कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती अनीता किरार एवं कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव द्वारा जिले की तीन नवीन एमएसएमई इकाईयों का लोकार्पण किया गया तथा मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का लाईव प्रसारण देखा।
   कलेक्टर श्री भार्गव ने बताया कि आज जिले में 575 लाख रू निवेश वाली तीन नवीन एमएसएमई इकाईयों का लोकार्पण किया गया है। जिनमें औद्योगिक क्षेत्र पीपलखिडिया में स्थापित मेसर्स देव इंटरप्राईजेस प्रो. श्रीमती रमा रजक और मेसर्स विंध्वासिनी मेटल्स प्रो. श्री अनादि मिश्रा तथा मंडीदीप स्थित मेसर्स साईं बाबा सेफ्टी सिस्टम्स प्रो. श्रीमती सीमा मित्तल शामिल है।
   कार्यक्रम में कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा कि जिले में औद्योगिक निवेश को बढ़ावा देने के लिए लगातार काम किया जा रहा है। हमारा यह प्रयास है कि उद्योगपतियों को जिले में उद्योग स्थापित में किसी प्रकार की कठिनाई ना हो। उन्होंने कहा कि उद्योगों के माध्यम से यह अपेक्षा है कि जिले के लोगों को अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिले में औद्योगिक क्षेत्र मण्डीदीप पूर्ण रूप से विकसित हो गया है। इसके साथ ही जिले के तामोट, पीपलखिरिया और खेजड़ा में भी निरंतर विकास कार्य कराए जा रहे हैं तथा यहां भी उद्योग स्थापित हो रहे हैं।
   कलेक्टर श्री भार्गव ने बताया कि जिले में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग के अंतर्गत मार्च 2021 तक 29 नवीन औद्योगिक इकाईयां स्थापित हुई है, जिसमें 9327 लाख रू का पूंजी निवेश हुआ है। इन इकाईयों में 470 से अधिक लोगों को रोजगार प्राप्त हुआ है। मप्र सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत पात्र नवीन एवं विस्तार इकाईयों को प्लांट मशीनरी एवं भवन में किए गए वैद्य निवेश का 40 प्रतिशत उद्योग विकास अनुदान प्रदान किया जाता है। यह अनुदान 10-10 प्रतिशत की चार समान वार्षिक किस्तों में उत्पादन दिनांक के अनुसार प्रत्येक वर्ष दिया जाता है। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री अनिल डामोर, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक श्री सुनोरिया, डॉ जय प्रकाश किरार, उद्योगपति एवं संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।
 
(4 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मार्चअप्रैल 2021मई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2930311234
567891011
12131415161718
19202122232425
262728293012
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer