समाचार
|| कलेक्टर टीकाकरण केन्द्र पर पहुंचे || सिविल अस्पताल थांदला में ऑक्सीजन प्लांट लगाने में जन सहयोग कीे राशि 15 लाख जिला प्रशासन को सौंपे || कोविड संक्रमण के दौरान मध्यान्न भोजन का वितरण || कोरोना संक्रमण रोकने में मदद हेतु समाजसेवी श्री लाखनसिंह सोलंकी द्वारा 300 पीपी कीट एवं 130 डेडबॉडी कीट प्रदान किये गए || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वरिष्ठ पत्रकार श्री शिव अनुराग पटेरिया के निधन पर शोक व्यक्त किया || ग्राम पंचायत भदौरा में भाप केंद्र स्थापित || कलेक्ट्रेट कार्यालय को सैनेटाइज किया गया || नगर के विभिन्न क्षेत्रों में कराया गया सैनिटाईजेशन || कोरोना कर्फ्यू के दौरान दुकान खोलने पर 5 हजार रूपये का जुर्माना || ऑक्सीजन की आपूर्ति पर विशेष ध्यान रखें - कलेक्टर
अन्य ख़बरें
सामाजिक कार्यकर्ताओं, संस्था, कंपनी, बैंक, औद्योगिक इकाई, ट्रस्ट आदि जरूरतमंद बच्चो को सहायता प्रदान करने हेतु संपर्क करें
-
मुरैना | 09-अप्रैल-2021
      मध्यप्रदेश शासन महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा देखरेख एवं संरक्षण के जरूरतमंद बालकों की वैकल्पिक देखरेख हेतु मध्यप्रदेश पालन पोषण देखरेख (फोस्टर केयर) एवं बाल प्रयोजन (स्पॉन्सरशिप) दिशा निर्देश 2020 जारी किये गये हैं।                             
     मुरैना जिले में कई बच्चे एवं परिवार कठिन परिस्थितियों में जीवन यापन कर रहे हैं, उनकी पारिवारिक एवं आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है, बच्चे अनाथ हैं, परित्यक्त हैं, जिनके परिवार उनका पालन पोषण, देखरेख करने की स्थिति में नहीं हैं या सक्षम नहीं हैं। जिसके कारण बच्चे संस्थाओं में रहने को मजबूर हैं। भिक्षावृत्ति, कूड़ा कचरा पन्नी बीनने के काम में संलग्न हैं। ऐसे बच्चों को भी प्रेम सुहानुभूति तथा परिवार आधारित देखरेख की, उनको भी पढ़ने, लिखने एवं माता पिता के प्यार की आवश्यकता है। समुदाय में रहने वाले बालकों एवं बाल देखरेख संस्थाओं में निवासरत बालकों को उनके अधिकारों के   संरक्षण, बेहतर पालन पोषण देखरेख शिक्षा स्वास्थ्य, प्रेम, पारिवारिक वातावरण प्रदान करने के उद्देश्य से उक्त दिशानिर्देशों में निजी सहायता प्राप्त स्पांसरशिप (प्रायोजन) का प्रावधान किया गया है। जिसके अंतर्गत निजी सहायता प्राप्त प्रयोजन, व्यक्तिगत सहायता (Individual Sponsorship/Foster care), सामूहिक प्रायोजन (Group Sponsorship/foster care), सामुदायिक प्रायोजन (Community Sponsorship) अंतर्गत इच्छुक प्रायोजक व्यक्ति, सामाजिक कार्यकर्त्ता, सेवा भावी संस्था आदि स्पोंसर सहायता प्रदान कर सकते हैं। निजी सहायता प्राप्त प्रायोजन हेतु माता-पिता, एकल माता, पिता, परिवार के मामले में इच्छुक प्रायोजक द्वारा न्यूनतम 2 हजार रुपये प्रतिमाह के मान से जमा की जाएगी, परन्तु सामान्यतः प्रायोजन की अवधि एक वर्ष से कम नहीं होगी। प्रदाय राशि का उपयोग प्रथमतः मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति जैसे भोजन वस्त्र, शिक्षा, चिकित्सा तत्पश्चात अन्य सहायता हेतु किया जायेगा।   
    निजी सहायता प्राप्त प्रायोजन में इच्छुक व्यक्ति, सामाजिक कार्यकर्ताओं, संस्था, कंपनी,  बैंक, औद्योगिक इकाई, ट्रस्ट आदि देखरेख एवं संरक्षण के जरूरतमंद बच्चो को सहायता प्रदान करने हेतु अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए जिला बाल संरक्षण अधिकारी कार्यालय हाउस नं. 1106 पानी की टंकी के पास न्यू हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में संपर्क किया जा सकता है।
 
(33 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer