समाचार
|| कलेक्टर भोपाल ने बाल विवाह रोकने के लिए ग्राम और वार्ड स्तर पर दलों का गठन किया || कलेक्टर एवं एसपी ने अकोडा खरीदी केंद्र का किया निरीक्षण || किल कोरोना सर्वे दल का कार्य अति महत्वपूर्ण, सर्वे कार्य को पूर्ण निष्ठा के साथ सम्पन्न करें-कलेक्टर || फैमिली हेल्थ इंडिया टीम द्वारा डेंगू एवं मलेरिया से बचाब के लिये नियमित रूप से घर - घर फीवर सर्वे || कोविड मरीज व परिजनों के घरों तक नि:शुल्क भोजन पहुचा रहे है कोरोना वालेंटियर (सफलता की कहानी) || जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए आगे आए युवा (सफलता की कहानी) || घर जैसे माहौल में मिली उपचार सुविधा से गदगद हैं जयप्रकाश (सफलता की कहानी) || जिला - प्रशासन के सहयोग से पत्रकारों को कोविशिल्ड का दूसरा डोज लगाया गया || उम्मीद नहीं रही पै डॉक्टर बचाय लिहिन (सफलता की कहानी) || कोरोना का टीकाकरण ही संक्रमण से बचाव का सर्वोत्तम उपाय - मंत्री श्री पटेल
अन्य ख़बरें
जिले में धारा 144 प्रभावशील
कोरोना वायरस रोकथाम एवं बचाव के लिए की गयी प्रतिबंधात्मक कार्यवाही
पन्ना | 11-अप्रैल-2021
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री संजय कुमार मिश्र द्वारा गृह विभाग द्वारा जारी निर्देशों के परिपालन में कोविड-19 महामारी की रोकथाम एवं बचाव के निर्णय के फलस्वरूप पन्ना जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण प्रभावी नियंत्रण एवं जनसामान्य के स्वास्थ्य हित एवं लोक शांति बनाए रखने के उद्देश्य से मध्यप्रदेश शासन गृह विभाग एवं जिला आपदा एवं संकट समूह की बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 (1) एवं मध्यप्रदेश पब्लिक हेल्थ एक्ट 1949 की धारा 71 (1) 71 (2) में प्रदत्त शक्तियों को प्रयोग लाते हुए सम्पूर्ण पन्ना जिले के नगरीय क्षेत्रों में (नगरपालिका/नगर परिषद) की समस्त राजस्व सीमाओं के अन्तर्गत वर्तमान में लागू लॉकडाउन (08 अप्रैल 2021 शाम 6 बजे से) को यथावत एवं निरंतर रखते हुए उसे दिनांक 14 अप्रैल को प्रातः 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यु (टोटल लॉकउाडन) घोषित करते हुए निम्नलिखित प्रतिबंध अधिरोपित किए जाते हैं।
    जिले के समस्त नगरपालिका/नगर परिषद क्षेत्रों की सीमा अन्तर्गत समस्त शासकीय, अर्द्धशासकीय, अशासकीय कार्यालय एवं प्रतिष्ठान बन्द रहेंगे। जिले के समस्त नगरपालिका, नगर परिषद क्षेत्रों की सीमा अन्तर्गत समस्त व्यवसायिक एवं व्यापारिक प्रतिष्ठान, दुकान, पार्क, स्टेडियम एवं अन्य समस्त सार्वजनिक गतिविधियां पूर्णतःप्रतिबंधित रहेंगी एवं व्यक्ति को इमरजेंसी कार्य के अतिरिक्त आवाजाही भी प्रतिबंधित रहेगी। 
    यह प्रतिबंध आवश्यक सेवा वाले विभाग यथा राजस्व, स्वास्थ्य, पुलिस, विद्युत, दूरसंचार, नगरपालिका, नगर परिषद, नगर सैनिक, आपदा प्रबंधन, पेयजल, प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया, समाचार पत्र वितरण, केवल टेलीकॉम, इन्टरनेट, पोस्टल सेवाए, कार्यालयों के लेखा शाखा, बैंक, एटीएम आदि कार्यमुक्त रहंेग। समस्त बैंक एवं जिनकी ड्यूटी सेवा कोविड-19 में संलग्न लगाई गयी है। वह इस आदेश से मुक्त रहेंगे। लेकिन उक्त कर्मचारी को अपने साथ परिचय पत्र रखना अनिवार्य होगा। मेडिकल दुकान एवं अस्पताल, दुध की दुकान, सांची पार्ल, पीडीएस दुकान, एम्बुलेन्स, फायर बिग्रेड आदेश मुक्त रहेंगे। समस्त नगरपालिका/नगर परिषद क्षेत्र की सीमा अन्तर्गत किसाना दुकान, पॉल्ट्री, पशु आहार, आटा चक्की दुकान प्रातः 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुली रहेंगी। इमरजेन्सी में राशन की लोम डिलेवरी की जा सकेगी। समस्त दुकानों एवं व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में रस्सी के माध्यम से अथवा चूने के गोले बनाकर सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित कराई जाए। दुकानदारों को स्वयं तथा स्टॉफ को मास्क लगाने तथा दुकान प्रतिष्ठनों में आने वालों के लिए मास्क का इस्तेमाल प्रतिष्ठान द्वारा सुनिश्चित कराया जाए। दुकान के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा। उपरोक्त आदेश का उल्लंघन करने पर 500 रूपये जुर्माना, दूसरी बार उल्लंघन होने दुकान, प्रतिष्ठान को 24 घण्टे के लिए सील किया जाएगा। इसके अलावा बार बार उल्लंघन करने पर विधि अनुसार दण्डात्मक कार्यवाही की जाएगी। खानपान प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। परन्तु खाने की होम डिलेवरी, होम टिफिन, पार्सल सेवाए इमरजेन्सी में की जा सकेंगी। होटल, लॉज केवल इन रूम डायनिंग व्यवस्था के साथ सेवा दे सकेंगे। औद्योगिक, मजदूरी, उद्योग हेतु कच्चा तैयार माल, उद्योगों के अधिकारी, कर्मचारियों को आवागमन की अनुमति रहेगी। परीक्षा केन्द्रों में आने जाने वाले परीक्षार्थी एवं परीक्षा आयोजन से जुडे कर्मी, अधिकारी प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। अस्पताल, नर्सिंग होम और टीकाकरण हेतु आवागमन कर रहे नागरिक एवं कर्मी प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। बस स्टैण्ड से आने जाने वाले नागरिक यात्री प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। मोबाइल कम्पनियों के सपोर्ट स्टॉफ एवं यूनिट, पेट्रोल पम्प, एलपीजी गैस सिलेण्डर की होम डिलेवरी प्रतिबंध से मुक्त रहेगी। जिले के समस्त नगरपालिका, नगर परिषद क्षेत्रों की सीमा अन्तर्गत सब्जी, फल की दुकानें प्रातः 10 बजे तक खुली रहेंगे। इसके उपरांत शेष दिवस में सब्जी, फल चलित माध्यम घर-घर विक्रय किया जा सकेगा। इलेक्ट्रानिक मोबाइल रिपेरिंग करने वाले होम सर्विस के रूप में इमरजेन्सी में घर पर सेवाएं दे सकेंगे। केवल वही निर्माण कार्य प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे जहां मजदूर निर्माण स्थल पर ही रहकर कार्य कर रहे हैं। संबंधितों के रूकने एवं भोजन की व्यवस्था ठेकेदार द्वारा की जाएगी। समस्त नगरपालिका, नगर परिषद क्षेत्रों की सीमा अन्तर्गत समस्त धार्मिक स्थल में आमजन का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। सामूहिक आरती, जुलूस, पूजा, तकरीर, लंगर, हवन, प्रवचन, प्रार्थना, सामूहिक भोज, भण्डारे प्रतिबंधित रहेंगे। धार्मिक स्थलों में केवल इनके पुजारी, मौलवी, पादरी, सिख धर्मगुरू को पूजा अर्चना/इबादत की छूट रहेंगी। अंतिम संस्कार में 20 व्यक्ति से अधिक लोग शामिल नही हो सकेंगे। आपातकाल उद्देश्यों के लिए दो या चार पहिया वाहनों का उपयोग हो सकेगा। दो पहिया पर एक व्यक्ति एवं चार पहिया पर दो व्यक्ति मेडिकल आपात स्थिति को छोडकर अनुमति रहेगी। समस्त शासकीय कार्यालय सप्ताह में 5 दिवस सोमवार से शुक्रवार तक खुलेंगे। शनिवार एवं रविवार को कार्यालय बंद रहेंगे। 5 दिवसों में कार्यालयीन समय प्रातः 10 बजे से शाम 6 बजे तक निर्धारित किया गया है। यह आदेश 31 जुलाई 2021 तक प्रभावशील रहेगा।
    लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुसार घोषित किए गए हॉट स्पॉट क्षेत्र/कन्टेनमेंट जोन पर आवाजाही पर नियमानुसार प्रतिबंधित रहेगा। प्रत्येक मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई आगामी आदेश तक बंद रहेगी। जनसुविधा को दृष्टिगत रखते हुए जनसुनवाई पेटी लगाई जाएगी जिसमें आवेदक अपना आवेदन डाल सकेंगे। कोरोना संक्रमण रोकथाम एवं बचाव के लिए पन्ना में बाहर से आने वाले समस्त व्यक्तियों को सात दिवस तक होम क्वारेंटाइन रहना अनिवार्य होगा। जिले के समस्त नगरीय क्षेत्रों में आगामी आदेश तक रात्रि 10 बजे से प्रातः 6 बजे तक कोरोना नाइट कर्फ्यू रहेगा। जिले के नगरीय क्षेत्र में आने वाले हॉट बाजार 30 अप्रैल तक बंद रहेंगे। जिले के नगरीय क्षेत्रों में ट्यूशन, कोचिंग संस्थान 30 अप्रैल तक ऑफ लाइन बंद रखे जाएंगे। ऑनलाईन गतिविधियां संचालित हो सकेगी। पूर्व में निर्धारित तिथियों में विवाह समारोह हेतु दोनों पक्ष मिलाकर 50 से अधिक व्यक्ति की अनुमति नही होगी। इस कार्यक्रम के आयोजन के पूर्व कार्यपालिक दण्डाधिकारी से अनुमति लेना आवश्यक होगा। विशेष परिस्थितियों में जिन गतिविधियों को कोरोना कर्फ्यू से मुक्त रखा गया है उनको सोशल डिस्टेंसिंग एवं फेस कव्हर तथा शासन के द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु जारी गाइड लाइन अक्षरशः पालन किया जाना अनिवार्य होगा। अन्यथा की स्थिति में उनके विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 की कार्यवाही की जाएगी।
चूंकि वर्तमान में ऐसी परिस्थितियां है कि जनसामान्य को जिन्हें यह आदेश निर्दिष्ट है को व्यक्तिशः सूचना सम्यक रूप से तामील किया जाना संभव नही है अतः मैं दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 (2) के अन्तर्गत एक पक्षीय रूप से आदेश पारित करता हॅू। आदेश से व्यथित व्यक्ति दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144(5) के अन्तर्गत जिला दण्डाधिकारी न्यायालय में आवेदन प्रस्तुत कर सकेगा। इस आदेश की सूचना का प्रकाशन जिला कार्यालय, पुलिस अधीक्षक कार्यालय, जिला अस्पताल कार्यालय, समस्त राजस्व अधिकारी कार्यालय, समस्त तहसील कार्यालयों, समस्त नगरीय निकाय के कार्यालयों, समस्त जनपद पंचायत कार्यालयों, पुलिस थानों के नोटिस बोर्ड पर चस्पा किया जाएं एवं दैनिक समाचार पत्रों में इसका प्रकाशन जनसम्पर्क विभाग के माध्यम से किया जा रहा है। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति अथवा एसडीएम द्वारा दी गयी अनुमति दर्शित लिखित शर्तो  के उल्लंघन करने पर आयोजनकर्ता के विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188, 269, 270, 271 कोविड-19 रेग्युलेशन 2020 आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 तथा अन्य संगत प्रावधानों के अन्तर्गत कार्यवाही की जाएगी।
(31 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer