समाचार
|| उप संचालक पशुपालन द्वारा कामधेनु गौशाला मोहगांव हवेली का औचक निरीक्षण || जान बचाना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता सभी को मिले अच्छे से अच्छा उपचार, आई.सी.यू. बेड्स बढ़ाए जाएँ || चिकित्सालयीन उपचार सुविधाओं का विस्तार करें || कोई भी गरीब बिना राशन के नहीं रहेगा सार्वजनिक वितरण प्रणाली की व्यवस्थाएँ परफेक्ट हों || कोरोना संक्रमित मरीजों के परिवहन हेतु प्रायवेट एम्बुलेंस की दरें निर्धारित || अभी तक जिले में 199553 व्यक्तियों ने लगवाया टीका || कोविड-19 मीडिया बुलेटिन || टीकाकरण प्रारंभ होने से 18 + उम्र वाले युवाओं में खुशी की लहर "दास्तां खुशियों की" || जिले में कोविड-19 से बचाव एवं नियंत्रण के लिए सैंपलिंग का कार्य लगातार जारी || गौ-शालाओं के संचालन और पशु आहार के लिए राशि जारी
अन्य ख़बरें
कलेक्टर ने कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने धारा 144 के तहत जारी किए प्रतिबंधात्मक आदेश
जिले के सभी नगरीय क्षेत्रों में आज रात्रि 10 बजे से 21 अप्रैल को सुबह 06 बजे तक रहेगा कोरोना कर्फ्यू
रायसेन | 15-अप्रैल-2021
    जिले में कोविड-19 संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री उमाशंकर भार्गव द्वारा दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत संपूर्ण रायसेन जिले की राजस्व सीमाओं में आगामी आदेश तक प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए गए हैं। जिले की सम्पूर्ण राजस्व सीमा क्षेत्र के अंतर्गत नगरीय क्षेत्रों में 15 अप्रैल को रात्रि 10 बजे से 21 अप्रैल 2021 की सुबह 06 बजे तक कोरोना कर्फ्यू प्रभावशील रहेगा।
   कलेक्टर श्री भार्गव द्वारा जारी आदेश के तहत सम्पूर्ण रायसेन जिले में सभी प्रकार की धार्मिक यात्राएं, कलश यात्रा, चुनरी यात्रा, सभी प्रकार के चल समारोह और अत्याधिक भीड़ एकत्रित होने की संभावना वाले सभी प्रकार के धार्मिक आयोजन यज्ञ, मेले, पंचकल्याणक, भागवत कथा, सामूहिक भण्डारे, भोज, सामूहिक रोजा आफतारी आदि को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित किया गया है।
कोरोना कर्फ्यू के दौरान इन गतिविधियों पर रहेगी छूट
   जिले में कोरोना कर्फ्यू के दौरान अन्य राज्यों एवं जिलों से माल तथा सेवाओं का आवागमन, अस्पताल, नर्सिंगहोम, मेडिकल इंश्योनेन्स कम्पनीज, अन्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेवाओं को छूट रहेगी। इसी प्रकार मेडीकल स्टोर, केमिस्ट, राशन दुकानें, पेट्रोल पम्प, बैंक एवं एटीएम, दूध, फल एवं सब्जी की दुकानें, सब्जी के ठेले (हाट बाजार छोड़कर), औद्योगिक ईकाईयों औद्योगिक मजदूरो, उद्योग हेतु कच्चा एवं तैयार माल, उद्योगों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों का आवागमन कोरोना कर्फ्यू से मुक्त रहेगा।
   इसी प्रकार एम्बूलेंस, फायर ब्रिगेड, टेली-कम्यूनिकेशन, विद्युत प्रदाय, रसोई गैस, होम डिलेवरी सेवायें, दूध एकत्रिकरण एवं वितरण के लिये परिवहन, सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों को कोरोना कर्फ्यू से छूट दी गई है। केन्द्र सरकार, राज्य सरकार एवं स्थानीय निकायों नगरपालिका/नगर पंचायत/ग्राम पंचायत के अधिकारियों और कर्मचारियों को शासकीय कार्य से आवागमन की अनुमति रहेगी। इलेक्ट्रिशियन, प्लम्बर, कारपेंटर आदि के द्वारा सेवा प्रदाय के लिए आवागमन, मजदूरों के कन्सट्रक्शन केम्पस/परिसर में रूके होने पर कन्सट्रक्शन गतिविधियाँ कोरोना कर्फ्यू से मुक्त रहेंगी।
   कोरोना कर्फ्यू के दौरान कृषि संबंधी सेवाएँ जैसे कृषि उपज मंडी, उपार्जन केन्द्र (गेंहू एवं चना खरीदी केन्द्र) खाद, बीज, कीटनाशक दवाएँ, कस्टम हायरिंग सेंटर्स, कृषि यंत्र की दुकानों को कोरोना कर्फ्यू से छूट दी गई है। परीक्षा केन्द्र आने एवं जाने वाले परीक्षार्थी तथा परीक्षा केन्द्र एवं परीक्षा आयोजन से जुड़े कर्मी और अधिकारी, अस्पताल एवं नर्सिंग होम और टीकाकरण हेतु आवागमन कर रहे नागरिक तथा कर्मियों को भी छूट रहेगी।
   राज्य शासन द्वारा फसलों के उपार्जन कार्य गेंहू एवं चना खरीदी केन्द्र से जुड़े कर्मी/वेयरहाउस एवं सहकारी समितियों, नागरिक आपूर्ति निगम, खाद्य विभाग, मार्कफेड, कृषि विभाग, नोडल अधिकारी उपार्जन केन्द्र आदि विभाग से जुड़े तथा उपार्जन स्थल आवागमन कर रहे किसान बंधु, गेंहू एवं चना खरीदी केन्द्रों तथा गौदामों तक गेंहू, चना ले जाने वाले, वाहन, हम्मालों को भी कोरोना कर्फ्यू से छूट रहेगी। कोरोना कर्फ्यू के दौरान बस स्टेण्ड, रेल्वे स्टेशन एवं एयरपोर्ट से आने जाने वाले नागरिक, आईटी कम्पनियों, बीपीओ, मोबाईल कम्पनियों का सपोर्ट यूनिट्स, अखवार वितरण एवं अधिमान्यता प्राप्त पत्रकार तथा केवल इन-रूम डायनिंग व्यवस्था के साथ होटलों को छूट रहेगी।
   जिले में कोरोना कर्फ्यू के दौरान यदि किसी की मृत्यु होती है तो शव यात्रा में केवल 20 व्यक्ति ही सम्मिलित हो सकेगें। शादी समारोह में अधिकतम 50 व्यक्ति ही सम्मिलित हो सकेगें, परन्तु इसकी अनुमति संबंधित अनुविभागीय दण्डाधिकारी से लेनी होगी। जिले में कोरोना कर्फ्यू मुक्त किये कार्यों के संचालन में सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क, सैनेटाइजर सहित अन्य सुरक्षा नियमों का पालन एवं शासन द्वारा जारी कोविड गाईड लाईन का पालन किया जाना अनिवार्य होगा। मास्क नही पहनने पर 100 रू का जुर्माना लगाया जाएगा तथा विभिन्न दुकानों/व्यावसायिक संस्थानों के प्रबंधक या ग्राहकों के द्वारा बगैर मास्क के पाए जाने पर संबंधित दुकान/संस्थान पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं किये जाने की दशा में प्रतिष्ठान 24 घंटे के लिये सील किए जाने की कार्यवाही कार्यपालिक दण्डाधिकारी/पुलिस अधिकारी द्वारा की जाएगी। इसके लिए तत्काल सख्ती से कार्यवाही प्रारंभ किए जाने के आदेश दिए गए हैं। कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर संबंधित प्रतिष्ठान 24 घंटे के लिए बंद अथवा जेल भेजने की कार्यवाही की जा सकेगी। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूद्ध भादवि की धारा 188 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के प्रावधानों के अंतर्गत कार्यवाही की जाएगी।
 
(21 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer