समाचार
|| लिक्विड ऑक्सीजन लाने वाली गाड़ियों की जानकारी || वैक्सीनेशन के लक्ष्य को पूर्ण करने के लिए ब्लॉक स्तर पर पर कंट्रोल रूम स्थापित करने के निर्देश || वार्डवार करें संकट प्रबंधन समूह का गठन- मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह || शासन की गाइडलाइन के अनुसार हो फीवर क्लीनिक में सैंपलिंग-कलेक्टर श्री सिंह || बिना पात्रता पर्ची वाले भी ले सकेंगे तीन माह का नि:शुल्क राशनःखादय मंत्री श्री सिंह || समय सीमा में पूर्ण करें संपूर्ण उपार्जन का कार्य-कलेक्टर श्री सिंह || साढ़े 13 लाख से अधिक किसानों से समर्थन मूल्य पर एक करोड़ मी. टन गेहूँ-चना की खरीदी || किल कोरोना अभियान में गाँव में डोर-टू-डोर सर्वे शीघ्र कराये जायें - स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी || अब बच्चों के लिए कम पावर की मेडीकल किट || प्रदेश में निरंतर नियंत्रण में आ रहा है कोरोना - मुख्यमंत्री श्री चौहान
अन्य ख़बरें
कोरोना को रोकने के लिए जो भी निर्णय ले, वह अवश्य लिये जाये- केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर
सही समय पर निर्णय लिये जाये तो कोरोना को कावू में किया जा सकता है- प्रभारी मंत्री श्री भारत सिंह, 16 अप्रैल को सांय 6 बजे से 22 अप्रैल को प्रातः 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू, जिला दण्डाधिकारी द्वारा धारा-144 के तहत आदेश जारी
मुरैना | 15-अप्रैल-2021
   जिले में बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुये 16 अप्रैल शुक्रवार सांय 6 बजे से 22 अप्रैल 2021 को प्रात 6 बजे तक कोरोना कफ़र्यू लगाने का निर्णय लिया गया है। शासन द्वारा 16 अप्रैल शुक्रवार को सायं 6 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक पूर्व से कोरोना कर्फ्यू घोषित है। 19 अप्रैल को सोमवार को सुबह 6 बजे से 22 अप्रैल गुरूवार को प्रातः 6 बजे तक जिला स्तरीय क्राइसेस मैनजमेन्ट गु्रप (जिला आपदा प्रबंधन समिति) की बैठक में सर्व सम्मति से कोरोना कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है। बैठक में कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री बी कार्तिकेयन और पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार पाण्डेय उपस्थित थे। निर्णय में भारतीय दण्ड संहिता की धारा-144 के तहत इस आशय का आदेश जारी किया है।                 
    जिला स्तरीय क्रायसिस मैनेजमेंट की बैठक में गुगल मीट से जुडे केन्द्रीय मंत्री एवं सांसद मुरैना श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि वायरस को रोकने के लिये जो भी निर्णय लिये जायें, वह अवश्य लिये जायें । क्योंकि कोरोना वायरस का प्रभाव लोगों में तेजी से फैल रहा है। इसके लिये और कुछ दिनों के लिये इंतजार करना पडा तो इस पर काबू पाना कठिन होगा। हमें कठोर निर्णय लेने होंगे। जनता को भी निर्णयों का समर्थन करना होगा। कुछ दिनों तक के लिये मंदिर मस्जिद में केवल पुजारी पूजा करेंगे। आमजन नहीं जायें। उपलब्ध व्यवस्थाओं में सुधार, क्रायसिस मैनेजमेंट गु्रप के निर्णयों का पालन करने की जरूरत है। उन्होने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं को ओर कितना बडा सकते है उन्हे भी बढायें । 
    उद्यानिकी खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री एवं मुरैना जिले के प्रभारी मंत्री श्री भारत सिंह कुशवाह ने गूगल मीट के माध्यम से जुडकर कहा कि प्रदेश के अन्य शहरों के अलावा ग्वालियर में भी सात दिन का लॉकडाउन लगा दिया गया है। शादी विवाह को देखते हुये ऐसा न हो कि लोग खरीदी कार्य के लिये मुरैना रूख करने लगें। जब मुरैना से खरीददारी करेंगे तब मुरैना में भी कोविड के मरीज की संख्या बडी तेजी से बढेगी। इसलिये जिला स्तरीय क्रायसिस मैनेजमेंट की बैठक में निर्णय लिया है कि प्रदेश सरकार द्वारा शनिवार, इतवार को पूरे जिले में तथा मुरैना नगर निगम क्षेत्र में सोमवार, मंगल, बुध तीन दिन के लिये कर्फयू अतिरिक्त बढा दें। इस निर्णय का सभी जनता एवं व्यापारियों को समर्थन करना चाहिये।
    कलेक्टर ने बताया कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के मरीजों की बढ़ती हुई संख्या को नियंत्रित करने, आम जन के स्वास्थ्य एवं जान-माल की रक्षा के उद्देश्य से जिले में प्रदेश सरकार का कर्फयू दो दिवस के अलावा सोमवार से बुधवार तक रहेगा । यह प्रतिबंधात्मक आदेश नगरीय क्षेत्र की सीमा में लागू किया गया है। कोरोना कर्फ्यू संबंधी प्रतिबंधात्मक आदेश मुरैना नगर निगम सीमा क्षेत्र में प्रभावशील होगा। आदेश में यह भी स्पष्ट किया गया है कि इस आदेश का उल्लंघन भारतीय दण्ड संहिता की धारा-188 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम में वर्णित धाराओं के अनुसार दण्डनीय होगा।
    ज्ञात हो राज्य शासन के गृह विभाग एवं लोक स्वास्थ्य व परिवार कल्याण विभाग द्वारा जारी एसओपी और विभिन्न सामाजिक व धार्मिक संस्थाओं द्वारा कोरोना कर्फ्यू लगाने के संबंध में दिए गए ज्ञापनों के परिप्रेक्ष्य में गुरूवार को जिला स्तरीय क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक बुलाई गई थी।
कोरोना कर्फ्यू में इन गतिविधियों पर प्रतिबंध से छूट रहेगी
    अन्य राज्यों एवं जिलों से माल तथा सेवाओं का आवागमन। अस्पताल, नर्सिंग होम, मेडिकल इंश्योरेंस कम्पनीज, अन्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेवाएँ। केमिस्ट, किराना दुकानें (केवल होम डिलेवरी के लिये), रेस्टॉरेंट (केवल होम डिलीवरी के लिये), पेट्रोल पम्प, बैंक, एटीएम एवं आईटी कंपनियाँ। प्रातः 7 बजे से प्रातः 10 बजे तक दूध, सब्जी ठेले के माध्यम से वार्डों में विक्रय होगी। औद्योगिक इकाइयाँ, औद्योगिक मजदूरों, उद्योगों के लिये कच्चा तैयार माल, उद्योगों के अधिकारियों-कर्मचारियों का आवागमन रहेगा। परिचय पत्र कंपनी प्रबंधन द्वारा जारी किये जायेंगें।
    एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड, टेली-कम्युनिकेशन, विद्युत प्रदाय, रसोई गैस, होम डिलीवरी सेवाएँ, दूध एकत्रीकरण वितरण के लिये परिवहन।  
सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानें (पीडीएस)
      केन्द्र सरकार, राज्य सरकार एवं स्थानीय निकाय के अधिकारियों-कर्मचारियों का शासकीय कार्य से किया जा रहा आवागमन। इलेक्ट्रीशियन, प्लम्बर, कारपेंटर आदि द्वारा सेवा प्रदाय के लिये आवागमन। कंस्ट्रक्शन गतिविधियाँ (यदि मजदूर कंस्ट्रक्शन कैम्पस परिसर में रुके हों)। कृषि संबंधी सेवाएँ (जैसे कृषि उपज मण्डी, उपार्जन केन्द्र, आदि)।
    परीक्षा केन्द्र आने-जाने वाले प्रशिक्षणार्थी तथा परीक्षा केन्द्र एवं परीक्षा आयोजन से जुड़े कर्मी, अधीकारीगण। अस्पताल नर्सिंग होम और टीकाकरण के लिये आवागमन कर रहे नागरिक कर्मी।
    राज्य शासन द्वारा फसलों के उपार्जन कार्य से जुड़े कर्मी तथा उपार्जन स्थल आवागमन कर रहे किसान बन्धु। बस स्टैण्ड, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट से आने-जाने वाले नागरिक। अखबार वितरण, अधिमान्यता प्राप्त पत्रकारगण तथा प्रिंट एवं इलेक्ट्रोनिक इत्यादि मीडिया संस्थानों से जुड़े पत्रकारगण व ऐसे कर्मचारी जिनके पास मीडिया संस्थान के परिचय पत्र होंगे।     
ऐसे रहेगी फल एवं सब्जी की विक्रय व्यवस्था
    कोरोना कर्फ्यू के दौरान बडी सब्जी गल्ला मण्डी में रात्रि 3 बजे से प्रातः 7 बजे तक ही खोली जा सकेंगीं। जिसमें थोक व्यापारी एवं थोक क्रेता व्यक्ति ही पहुंच सकेंगे। निगम के विभिन्न वार्डों में सब्जी ठेले, दूध के माध्यम से पहुंचाने का प्रबंध निगम के द्वारा नियुक्त 4 पहिया हाथ ठेला से कराई जायेगी। तथा किराने की दुकान प्रातः 7 से 10 बजे तक खुलेगी।      
    इन अधिकारियों को सौंपी कोरोना कर्फ्यू के पालन की जिम्मेदारी
    पुलिस अधीक्षक और इंसीडेंट कमाण्डर कोरोना कर्फ्यू संबंधी आदेश का प्रभावी क्रियान्वयन सुनिश्चित करायेंगे। साथ ही पुलिस अधीक्षक, आयुक्त नगर निगम एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा विभागीय वाहनों एवं अन्य माध्यमों से कोविड-19 से बचाव के लिये मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग व रोको-टोको संबंधी संदेश प्रसारित कराएँगे। 
    बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार पांडेय, जौरा विधायक श्री सूबेदार सिंह रजौधा, मुरैना विधायक श्री राकेश मावई, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री योगेशपाल गुप्ता, सीईओ जिला पंचायत श्री रोशन कुमार सिंह, अपर कलेक्टर श्री नरोत्तम भार्गव, नगर निगम कमिश्नर श्री अमरसत्य गुप्ता, पूर्व मंत्री श्री गिर्राज दंडोतिया, पूर्व सभापति श्री अनिल गोयल सहित जिला स्तरीय क्रायसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्य, स्वास्थ्य एवं अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे। 
कलेक्टर ने की कोरोना कर्फ्यू में सभी से सहयोग करने की अपील
    कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री बी कार्तिकेयन ने जिले के सभी जनप्रतिनिधिगण, व्यवसायिक संगठनों, सामाजिक, धार्मिक एवं स्वयंसेवी संगठनों, मीडिया प्रतिनिधिगण, शासकीय एवं गैर शासकीय अधिकारी-कर्मचारी एवं समस्त नागरिकों से कोरोना कर्फ्यू में सहयोग करने की अपील की है। उन्होंने कहा है जिले में कोरोना का तेजी से बढ़ता संक्रमण चिंतनीय है। आप सबके सहयोग से ही कोरोना के खिलाफ जंग जीती जा सकेगी। सभी लोग मास्क लगाएँ, सुरक्षित दूरी बनाए रखें, नियमित रूप से हाथ धोते रहें और कोरोना गाइडलाइन के अन्य प्रावधानों का पालन करें। 
(27 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer