समाचार
|| किल कोरोना अभियान में कोरोना वालेंटियर्स कर रहे सहयोग "खुशियों की दास्तां" || अब तक 4558 कोरोना संक्रमित मरीज उपचार उपरांत हुए स्वस्थ "खुशियों की दास्तां" || जिले के सात निजी एवं पांच शासकीय चिकित्सालयों को आयुष्मान योजना से सूचीबद्ध करने का निर्णय || जिला चिकित्सालय के कोविड वार्ड का राज्यमंत्री श्री परमार ने किया आकस्मिक निरीक्षण || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुदनी में निर्माणाधीन कोविड केयर सेंटर का जायजा लिया || घबराएँ नहीं, मनोबल बनाए रखें, सभी जल्द स्वस्थ होंगे: मुख्यमंत्री श्री चौहान || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की प्रधानमंत्री श्री मोदी से फोन पर चर्चा || कोरोना कर्फ्यू के निर्धारित समय के पश्चात भी दुकानें खोलने पर 3 दुकानें किए सील || नगर निगम द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु सैनिटाइजेशन के साथ-साथ सभी क्षेत्रों में मच्छरों से बचाव के लिए किया जा रहा है फागिंग || मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना का किया जाये प्रभावी क्रियान्वयन- कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने दिय निर्देश
अन्य ख़बरें
चिकित्सकों व स्टॉफ की कड़ी मेहनत और मनोबल से कोरोना पॉजीटिव गंभीर मरीज स्वस्थ्य होकर घर पहुंचने (सफलता की कहानी)
-
छिन्दवाड़ा | 17-अप्रैल-2021
      जिले में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान भी हमारे कोरोना योद्धा डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ अपनी कड़ी मेहनत से गंभीर कोरोना पॉजिटिव मरीजों की जान बचाने में सफलता प्राप्त कर रहे हैं। उनके द्वारा दिया गया मनोबल भी इन पॉजिटिव मरीजों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ में रामबाण साबित हो रहा है। इसी कड़ी में कोविड केयर सेंटर पांढुर्णा के चिकित्सक और स्टाफ की मेहनत और मनोबल से गंभीर भर्ती 3 मरीज स्वस्थ्य होकर अपने घर पहुंच चुके हैं।
        मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जी.सी. चौरसिया ने बताया कि कोविड-19 पॉजीटिव मरीज 40 वर्षीय निवासी चांगोवा पांढुर्णा को 10 अप्रैल को, पांढुर्णा निवासी 41 वर्षीय को 03 अप्रैल को और  66 वर्षीय को 07 अप्रैल को कोविड केयर सेंटर (सीसीसी) पांढुर्णा में भर्ती किया गया था। कोविड केयर सेंटर पांढुर्णा में कार्यरत चिकित्सकों और अन्य पैरामेडिकल स्टॉफ द्वारा कोरोना के पॉजीटिव मरीजों का भर्ती होने के तुरंत बाद से उपचार प्रारंभ कर दिया गया। भर्ती होने से पूर्व इन मरीजों की स्वास्थ्य स्थिति ठीक नहीं थी, लेकिन कोविड केयर सेंटर में कार्यरत चिकित्सकों एवं अन्य सेवारत स्टॉफ द्वारा उन्हें बचाने और स्वस्थ्य करने के भरपूर प्रयास किये गये। दवाईयां, इंजेक्शन के साथ इन मरीजों का मनोबल बढ़ाने हेतु पर्याप्त समझाईश भी समय-समय पर दी गई। उपचार के कुछ ही दिनों बाद इन मरीजों की स्थिति में सुधार होना शुरू हुआ। इनके परिजन गंभीर स्थिति के कारण बार-बार हिम्मत हार रहे थे, लेकिन चिकित्सक और पैरामेडिकल स्टॉफ उन्हें बचाने के लिये बेहतर उपचार देकर जी-जान लगाकर प्रयास कर रहे थे।
         कोविड केयर सेंटर पांढुर्णा में सेवारत चिकित्सकों और स्टॉफ के द्वारा किये गये बेहतर चिकित्सकीय उपचार से तीनों कोविड-19 पॉजीटिव मरीज पूर्णतः स्वस्थ हो गये हैं तथा 15 अप्रैल को एक और  14 अप्रैल को दो मरीजों को कोरोना संक्रमण से ठीक होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया है। डिस्चार्ज के दौरान स्वस्थ हुये कोरोना के मरीजो एवं उनके परिजनों के चेहरे पर खुशी के भाव थे तथा उन्होंने अस्पताल के चिकित्सकीय सेवाओं से संतुष्ट होकर चिकित्सकों एवं सभी स्टॉफ का आभार व्यक्त किया। कोविड केयर सेंटर के स्टॉफ द्वारा इन्हें घर में रहते हुये किन-किन सावधानियों का पालन करना है तथा घर में होम आईसोलेशन पर रहने की समझाईश भी दी गई।
 
(21 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer