समाचार
|| कोरोना प्रभारी मंत्री एवं राज्यसभा सांसद ने किया वैक्सीनेशन महा अभियान का शुभारंभ || केंट विधायक ने किया टीकाकरण केंद्रों का अवलोकन || रेडक्रॉस सोसायटी द्वारा लगाये गये शिविर में 808 व्यक्तियों को लगे कोरोना के टीके || आधारताल में आयोजित टीकाकरण शिविर में 350 व्यक्तियों को लगा टीका || जिले में 60 हजार लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य पूरा || स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने के लिये लोगों में दिखा उत्साह || मध्यप्रदेश ने एक दिन में वैक्सीनेशन का नया रिकार्ड बनाया || वेलनेस और स्पिरिचुअल टूरिज्म डेस्टिनेशन बनेगा मध्यप्रदेश- मुख्यमंत्री श्री चौहान || जिले अब तक 3 लाख 37 हजार 188 वैक्‍सीनेशन डोज लगाये गये (टीकाकरण महा-अभियान) || वैक्सीन लग गई तो बाजार भी खुले रहेंगे और मेहनत-मजदूरी भी चलती रहेगी - मुख्यमंत्री श्री चौहान
अन्य ख़बरें
घर में रह कर तोड़ें संक्रमण की चेन, 30 अप्रैल तक सुनिश्चित हो जनता कर्फ्यू - मुख्यमंत्री श्री चौहान
निजी चिकित्सक भी देंगे होम आयसोलेशन मरीजों को चिकित्सा परामर्श, कोरोना संक्रमण रोकथाम व जागरूकता के लिए मंत्रियों को सौंपे गए दायित्व, कोरोना संक्रमण पर मंत्रि-परिषद की आपात बैठक सम्पन्न
देवास | 22-अप्रैल-2021
 
      मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रभारी मंत्री होम आयसोलेशन में रह रहे कोरोना मरीजों से फोन के माध्यम से सम्पर्क में रहें। इससे डिस्ट्रिक्ट कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर की व्यवस्थाओं को सजग और निरंतर सक्रिय बनाने में मदद मिलेगी। होम आयसोलेशन और कोविड केयर सेंटर की व्यवस्था को बेहतर बनाकर इनमें जनता का विश्वास जगाना आवश्यक है। इससे कोरोना संक्रमण के कारण अस्पतालों पर बढ़ रहे बोझ को कम करने में मदद मिलेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए जिले से लेकर प्रत्येक गाँव में 30 अप्रैल तक जनता कर्फ्यू का शत-प्रतिशत क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए। प्रभारी मंत्री इसके लिए सभी स्तरों पर आवश्यक वातावरण बनायें। इस संबंध में किसी भी स्तर पर कोई ढिलाई नहीं की जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान की अध्यक्षता में कोरोना संक्रमण पर आयोजित मंत्रि-परिषद की आपात बैठक में उक्त आशय के निर्णय लिए गए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निवास से बैठक को वर्चुअली संबोधित किया। बैठक वंदे मातरम गान के साथ आरंभ हुई। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान ने मंत्रि-परिषद के सम्मुख प्रदेश में कोरोना की स्थिति के संबंध में प्रस्तुतीकरण दिया।
मंत्रि-परिषद की बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रतिष्ठित निजी चिकित्सकों की सलाह, मार्गदर्शन और काउंसलिंग होम आयसोलेशन में रह रहे मरीजों को मिल सके, इसकी व्यवस्था सभी जिलों में सुनिश्चित की जाएगी। इसके साथ ही होम आयसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों को बेहतर कॉउंसलिंग और आवश्यक व्यवस्थाएँ उपलब्ध कराने में जन-अभियान परिषद के माध्यम से कोरोना वॉलेंटियर्स का सहयोग लिया जाएगा।
विकासखंड और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र स्तर पर कोविड केयर सेंटर की व्यवस्थाओं को सुदृढ़ किया जाएगा। इन केन्द्रों पर कुछ ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था भी रहेगी। वर्तमान में 136 कोविड केयर सेंटर संचालित हैं। आवश्यकता होने पर इनमें वृद्धि की जाएगी। इन केन्द्रों में आयुष के स्टॉफ को दायित्व सौंपा जाएगा। इनमें इलाज, देखभाल, सफाई और भोजन आदि की बेहतर व्यवस्था स्थापित की जाएगी, जिससे इन केन्द्रों पर जनता का विश्वास विकसित हो।
मंत्रि-परिषद द्वारा निर्णय लिया गया कि सभी जिला अस्पतालों में कोविड-19 के उपचार की आवश्यक व्यवस्थाएँ की जाएंगी। बुरहानपुर, खण्डवा, छिंदवाड़ा सहित अन्य जिन जिलों में कोरोना संक्रमितों की संख्या नियंत्रित हुई है, उन जिलों में हुए नवाचारों और वहाँ स्थापित की गई व्यवस्थाओं के संबंध में अन्य जिलों को जानकारी दी जाएगी, जिससे संबंधित जिले अपनी परिस्थितियों के अनुरूप तद्नुसार व्यवस्थाएँ स्थापित करें।
मंत्रि-परिषद द्वारा निर्णय लिया गया कि रेमडेसिविर इंजेक्शन के उपयोग के संबंध में वरिष्ठ चिकित्सकों तथा विशेषज्ञों की सलाह से प्रोटोकॉल विकसित किया जाएगा। इसकी जिम्मेदारी चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग तथा लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी को सौंपी गई है।
मंत्रि-परिषद ने निर्णय लिया कि प्रदेश में 18 साल से ऊपर के उम्र वालों को भी टीका लगाया जाएगा। प्रदेश में अधिक से अधिक व्यक्तियों का टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए अभियान को गति दी जाएगी। मंत्रि-परिषद द्वारा निर्णय लिया गया कि अस्पतालों में कोरोना सहायता केन्द्र स्थापित किए जाएंगे। इन केन्द्रों पर सर्दी, खाँसी, जुकाम के मरीजों को मेडिकल किट उपलब्ध कराने और इलाज के लिए सलाह दी जाएगी। हरिद्वार कुंभ से लौट रहे व्यक्तियों और अन्य राज्यों से आ रहे लोगों की जाँच करने और ग्राम स्तर पर उन्हें क्वारेंटाइन करने की उपयुक्त व्यवस्था स्थापित करने का भी निर्णय लिया गया।
मंत्रि-परिषद ने निर्णय लिया कि जिन विकासखंडों में कोरोना संक्रमित व्यक्ति तथा सर्दी, जुकाम और खांसी से प्रभावित व्यक्तियों की संख्या अधिक है वहाँ किल कोरोना अभियान-2 चलाया जाएगा। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता तथा स्वास्थ्य विभाग अमले के सहयोग से घर-घर सर्वे कर प्रभावित व्यक्तियों को चिन्हित किया जाएगा। ऐसे व्यक्तियों को मेडिकल किट उपलब्ध कराने, उपयुक्त जाँच कराने और आवश्यकता होने पर उनके होम आयसोलेशन या कोविड केयर सेंटर में रखने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। गाँवों में चौकीदारों को यह जिम्मेदारी सौंपी जाएगी कि वे सर्दी, जुकाम से प्रभावित व्यक्तियों की तत्काल सूचना दें।
मंत्रि-परिषद ने निर्णय लिया कि कोरोना संक्रमण और उससे बचाव के संबंध में सही जानकारी उपलब्ध कराने और जन-जागरूकता के लिए पेम्फलेट विकसित कर वितरण कराया जाएगा। रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए काढ़ा वितरण कार्यक्रम तथा योग से निरोग कार्यक्रम आरंभ किया जाएगा। इसके साथ ही मीडिया में सकारात्मक, तथ्यपरक और सही जानकारी आए, इसके लिए जिला स्तर पर व्यवस्था स्थापित की जाएगी।
मंत्रि-परिषद द्वारा निर्णय लिया गया कि कोरोना संक्रमण के विरूद्ध युद्ध में लगे डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ की समानंतर व्यवस्था विकसित करने के लिए पात्र व्यक्तियों के आवश्यक प्रशिक्षण सत्र आयोजित किए जाएंगे। डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ के उत्साह को बनाए रखने के लिए विशेष कार्यक्रम आयोजित होंगे।
मंत्रि-परिषद ने निर्णय लिया कि गावों में कोरोना संक्रमण की संभावनाओं को कम करने के लिए पृथक उप स्वास्थ्य केन्द्रों में डिलेवरी की व्यवस्था की जाएगी, इससे प्रसूताओं को संक्रमण की संभावना से बचाया जा सकेगा। मंत्रि-परिषद ने राशन दुकानदारों के टीकाकरण के लिए विशेष कार्यक्रम चलाने की संभावना पर विचार किया।
मंत्रियों को दी गई जिम्मेदारी
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रि-परिषद की बैठक में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए राज्य स्तर पर मंत्रियों को कार्य सौंपे। मंत्री श्री गोपाल भार्गव को प्रदेश में कोविड केयर सेंटर और ऑक्सीजन प्लांट के निर्माण की कार्रवाई को समय-सीमा में पूर्ण कराने का दायित्व सौंपा गया। मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट इंदौर में राधा स्वामी सत्संग ब्यास परिसर में बन रहे 2000 बिस्तर के अस्पताल का प्रभावी संचालन और इसी प्रकार के अन्य कोविड-केयर सेंटर का निर्माण देखेंगे। मंत्री श्री विजय शाह प्रदेश में होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों को मेडिकल किट ब्रोशर का वितरण और दिन में दो बार डॉक्टरों के कॉल और चिकित्सा सलाह को सुनिश्चित करेंगे। इस कार्य मे स्वास्थ्य विभाग और नगरीय प्रशासन की टीम भी रहेगी। मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह और मंत्री श्री ओपीएस भदौरिया इसका समन्वय करेंगे।
मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह बीना रिफाइनरी के पास बन रहे 1000 बिस्तर के निर्माण का समन्वय करेंगे। मंत्री श्री बृजेंद्र प्रताप सिंह प्रदेश में कोविड केयर सेंटर्स में रह रहे मरीजों को मेडिकल किट ब्रॉशर का वितरण, चिकित्सा सलाह योग प्राणायाम, भोजन आदि की सुविधाएँ सुनिश्चित करेंगे। मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह सिसोदिया प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए आवश्यक उपाय, गाँव में होम आइसोलेशन और कोविड-19 सेंटर में मरीजों को मेडिकल किट, ब्रॉशर का वितरण देखेंगे। इस कार्य में मंत्री श्री रामखेलावन पटेल का सहयोग रहेगा।
मंत्री श्री विश्वास सारंग भोपाल में विभिन्न संस्थाओं के सहयोग से कोविड केयर सेंटर का निर्माण और भोपाल के अस्पतालों में बिस्तर बढ़वाने का कार्य देखेंगे। मंत्री सुश्री उषा ठाकुर जन अभियान परिषद के सहयोग से ''''''''''''''''मैं कोरोना वालंटियर'''''''''''''''' अभियान का प्रभावी क्रियान्वयन और वॉलिंटियर का कोरोना कार्यों में प्रभावी उपयोग सुनिश्चित करेंगी। मंत्री श्री अरविंद भदौरिया को प्रदेश में राज्य के बाहर से ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने का दायित्व दिया गया है। राज्य मंत्री श्री राम किशोर कांवरे राज्य के एक करोड़ परिवारों को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए काढ़े के नि:शुल्क वितरण की व्यवस्था और योग से निरोग अभियान का प्रभावी क्रियान्वयन देखेंगे। मंत्री डॉ. राजवर्धन सिंह दत्तीगांव उद्योगों से ऑक्सीजन की आपूर्ति के संबंध में समन्वय देखेंगे। मंत्री श्री ओपीएस भदौरिया नगरों में कोविड संक्रमण रोकने के उपाय, नगरों का सैनेटाईजेशन, नगरों में होम आइसोलेशन की व्यवस्था और मेडिकल किट वितरण का कार्य देखेंगे।
(61 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2021जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
31123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
2829301234
567891011

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer