समाचार
|| कोरोना संबंधित लक्षण महसूस होने पर तत्काल फीवर क्लीनिक पर जांच कराएं || अब जिले में लागू रहेगा 17 मई की प्रातः 6 बजे तक कोरोना कर्फ्यू || केंद्रीय एजेंसियों से समन्वय एवं विदेशी आयातित सामग्री के लिए राज्य नोडल अधिकारी नियुक्त || 15 मई तक सब कुछ बंद कर दें, संक्रमण की चेन तोड़ दें || ’कोरोना योद्धाओं की समर्पित सेवा एवं आत्मविश्वास से अप्रैल माह में 2619 मरीजों ने कोरोना पर पायी विजय’ || संजय गांधी अस्पताल में रेडक्रास द्वारा दो कोविड सहायता केन्द्र संचालित || संतोष साकेत ने जीती कोरोना से जंग "सफलता की कहानी" || राहत की बड़ी ख़बर - सात मई से प्रारंभ हो जाएगा कैंसर चिकित्सालय भवन में कोविड हास्पिटल || मुख्यमंत्री श्री चौहान 75 लाख किसानों के खाते में अंतरित करेंगे 1500 करोड़ रूपये || होम आइसोलेशन रोगियों की उपचार व्यवस्थाओं का सांसद ने लिया जायजा
अन्य ख़बरें
अशोकनगर जिले में 03 मई तक लागू रहेगा कोरोना कर्फ्यू
धारा-144 के अधीन आदेश जारी
अशोकनगर | 24-अप्रैल-2021
     जिले में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को दृष्टिगत रखते हुए जिला अशोकनगर के लिये कोरोना हेतु नियुक्त प्रभारी मंत्री श्री बृजेन्द्र सिंह यादव की अध्यक्षता में डिस्ट्रिक्ट क्राईसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक का आयोजन किया गया। शासन से प्राप्त निर्देशों, सभी सामाजिक संगठनों से प्राप्त ज्ञापन तथा 23 अप्रैल को आयोजित जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समूह की बैठक में उपस्थित सदस्यों द्वारा दिये गये सुझावों के आधार पर सर्वसम्मति से लिये गये।  निर्णय के अनुसार जिले में कोविड-19 के संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को नियंत्रित करने तथा आमजन के स्वास्थ्य एवं जानमाल की सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ ही इस संबंध में प्राप्त जानकारी व अनुशांगिक तथ्यों को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट, जिला अशोकनगर श्री अभय वर्मा द्वारा आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 के अधीन जारी दिशा निर्देशों का पालन सुनिश्चित कराते हुए इस क्रम में प्राप्त नवीन दिशा-निर्देशों के उद्देश्यों की पूर्ति के लिये तथा कोरोना वायरस महामारी से बचाव एवं नियंत्रण हेतु दण्ड प्रक्रिया संहिता, 1973 की धारा 144 में निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए जिला अशोकनगर की संपूर्ण राजस्व सीमा क्षेत्रों के भीतर आगामी दिनांक 03 मई, 2021 को प्रात: 06:00 बजे तक कोरोना कर्फ्यू लागू किया गया है।

जिले में कोरोना कर्फ्यू के दौरान निम्नानुसार सेवायें प्रतिबंध से मुक्त  रहेंगीं
  •    अन्य राज्यों एवं अन्य जिलों से आवश्यक वस्तुओं का परिवहन तथा माल ढुलाई एवं सेवाओं का आवागमन। सभी प्रकार की दवाओं की दुकानें, सार्वजनिक वितरण प्रणाली अंतर्गत संचालित होने वाली शासकीय उचित मूल्य की दुकानें, शासकीय/निजी चिकित्सालय, पेट्रोल पंप, बैंक,ए.टी.एम., इंश्योरेंश कंपनी, एल.पी.जी. गैस की डिलेवरी।
  •    औदयोगिक इकाईयां, औद्योगिक मजदूरों, उद्योगों हेतु कच्चा/तैयार माल, उद्योगों के अधिकारियों/कर्मचारियों का आवागमन। केन्द्र सरकार, राज्य सरकार एवं स्थानीय निकाय के अधिकारी/कर्मचारियों का आवागमन।
  •    परीक्षा केन्द्र आने एवं जाने वाले प्रशिक्षार्थी तथा परीक्षा केन्द्र एवं परीक्षा आयोजन से जुड़े कर्मी, अधिकारीगण। एम्बूलैंस एवं फायर ब्रिगेड सेवायें, टेली-कम्यूनिकेशन, विद्युत प्रदाय, दूध एकत्रीकरण/वितरण एवं उसका परिवहन। घर-घर जाकर कार्य करने वाले इलेक्ट्रीशियन, प्लम्बर, कारपेन्टर एवं निर्माण संबंधी गतिविधियों से जुड़े मजदूर एवं मिस्त्री। कृषि संबंधित सेवायें, खाद-बीज, कीटनाशक दवायें, कस्टम हायरिंग सेंटर, कृषि यंत्रों की दुकानें एवं कृषि यंत्रों को दुरुस्त करने से संबंधित दुकानें प्रात: 02:00 बजे तक खुली रहेंगी।
  •    अस्पताल/नर्सिंग होम, टीकाकरण हेतु आवागमन, एयरपोर्ट, बस स्टेंड, रेलवे स्टेशन आने जाने वाले नागरिक।अखबार वितरण एवं अधिमान्यता प्राप्त पत्रकारगण। होटल (केवल होम डिलेवरी व्यवस्था के साथ)। किराना दुकानें प्रात: 10:00 बजे तक होम डिलेवरी व्यवस्था दे सकेंगे परंतु दुकानें नहीं खोल सकेंगे।
  •    जी.एस.टी. रिटर्न समय पर दाखिल करने हेतु कर सलाहकार/सी.ए. के कार्यालय तथाबैंक ऑडिट में लगे सी.ए.।
  •    उपार्जन केन्द्र सोशल डिस्टेंसिंग के साथ संचालित हो सकेगें। उपार्जन केन्द्रों पर संबंधित कृषक, ट्रेक्टर ड्रायवर तथा उपार्जन केन्द्र के कर्मियों के अतिरिक्त अन्य व्यक्ति उपस्थित नहीं रहेंगे। जिले की समस्त कृषि उपज मंडियां दिनांक 03/05/2021 की प्रात: 06:00 बजे तक पूर्णत: बंद रहेंगी। ग्रेन मर्चेन्ट व्यावसायी/मंडी में क्रय-विक्रय करने वाले व्यापारीगण इस अवधि में किसी भी प्रकार के जिन्सों/कृषि उपज का क्रय-विक्रय (खरीदी) नहीं करेंगे। (पूर्व से भंडारित जिन्सों का जिले से बाहर परिवहन प्रतिबंध से मुक्त रहेगा।)     
  •    जिले की सभी सब्जी मंडियां पूर्ण रूप से बंद रहेंगी। फुटकर सब्जी-फल ब्रिकेता हाथ ठेलों/दो पहिया वाहनों के माध्यम से कॉलोनियों/मोहल्लों में दोपहर 02:00 बजे तक सब्जी/फलों आदि का विक्रय कर सकेंगे। थोक सब्जियों/फलों का बोली प्रतिदिन प्रात: 07:00 बजे तक लगाई जाकर, थोक फल/सब्जीयों का विक्रय किया जा सकेगा। इस दौरान क्रेता-विक्रेताओं द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाना अनिवार्य होगा।
  •    कोरोना कर्फ्यू के दौरान डेयरी प्रात: 10:00 बजे तक ही खुली रहेंगी। दो पहिया वाहनों के माध्यम से कॉलोनियों/मोहल्लों में डेयरी से संबंधित वस्तुओं की आपूर्ति की जा सकेगी।
  •    ऑटो व ई-रिक्शा में दो सवारी, टैक्सी तथा निजी चार पहिया वाहनों में ड्रायवर के साथ दो पैसेंजरों को (केवल 3 व्यक्ति) मास्क के साथ यात्रा करने की अनुमति होगी। दो पहिया वाहनों पर केवल दो व्यक्ति ही (मास्क के साथ) यात्रा कर सकेंगे।
  •    जिले के सभी ग्रामीण/शहरी क्षेत्रों में हाट-बाजारों पर पूर्णत: प्रतिबंध रहेगा। विवाह/शादी समारोह में वर-वधु दोनों पक्षों को मिलाकर केवल 25 व्यक्ति ही सम्मिलित हो सकेगें। आवेदक को विवाह की पूर्व सूचना तथा विवाह में सम्मिलित होने वाले व्यक्तियों की सूची संबंधित क्षेत्र के अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) एवं इंसीडेंट कमांडर को दिया जाना आवश्यक होगा। विवाह/शादी समारोह में बैंड-बाजा, डी.जे., आतिशबाजी इत्यादि पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे। शर्तों का उल्लंघन पाये जाने पर आयोजक पर 5000/- रूपये का अर्थदंड अधिरोपित करते हुए अन्य दांडिक कार्यवाही की जायेगी।
  •    मृत्युभोज, उठावनी तथा शवयात्रा आदि कार्यक्रमों में अधिकतम 25 व्यक्ति ही सम्मिलित हो सकेगें। सामाजिक/राजनैतिक खेलकूद/मनोरंजन/शैक्षणिक सांस्कृतिक/सार्वजनिक तथा धार्मिक कार्यक्रमों के आयोजनों के लिये 5 से अधिक व्यक्तियों का एकत्रित होना पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा।
  •    समस्त शैक्षणिक एवं कोचिंग संस्थान केवल ऑनलाईन क्लासों के माध्यम से ही क्लासेस संचालित कर सकेंगे। कोचिंग संस्थानों में विद्यार्थियों का प्रवेश पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। समस्त पार्क/उद्यान, जिम, स्वीमिंग पूल बंद रहेंगे। इनमें आमजन का प्रवेश पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। समस्त धार्मिक स्थलों पर परम्परागत रूप से पुजारी/इमाम/फादर/ग्रंथी/गुरु तथा उनकी प्रबंध समिति द्वारा पूजा अर्चना/इबादत की जा सकेगी। धार्मिक परिसर में किसी भी स्थिति में 05 से अधिक व्यक्तियों का जमावड़ा नहीं किया जा सकेगा।
  •    नगरीय निकाय एवं पुलिस के वाहनों में लगे लाउडस्पीकरों के माध्यम से कोरोना के प्रकरण में वृद्धि के परिपेक्ष्य में कोविङ-19 के संक्रमण से बचाव हेतु अनिवार्यत: मास्क लगाने एवं सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने हेतु रोको-टोको संबंधी संदेश आवश्यक रूप से प्रसारित कराये जायें।
  •    जिले में समस्त व्यक्तियों को मास्क पहनना तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना अनिवार्य होगा। पुलिस तथा स्थानीय निकार्यों द्वारा मास्क न पहनने वालों पर 100 रुपये स्पॉट फाईन अधिरोपित कर बसूल किया जायेगा।
  •    जिले की संपूर्ण राजस्व सीमाओं के अंतर्गत समस्त सामाजिक एवं धार्मिक कार्यक्रमो/त्यौहारों में जुलूस/मेले/रैली आदि आयोजित नहीं किये जायेंगे। समस्त प्रकार के प्रदर्शनों में सार्वजनिक रूप से लोगों का एकत्रित होना प्रतिबंधित किया जाता है।
  •    कोविड संक्रमण की रोकथाम व इससे बचाव के संबंध में शासन द्वारा समय-समय पर जारी दिशा-निर्देशों का पालन नहीं करने वाले छोटे दुकानदारों पर राशि रुपये 1000/- तथा बड़े दुकानदारों/प्रतिष्ठानों आदि पर राशि 2000/- रूपये की चालानी कार्यवाही के साथ-साथ दुकानों को सील करने की कार्यवाही की जायेगी। दोषी व्यक्तियों को खुली जेल में भेजने की कार्यवाही की जायेगी।
  •    जिले में कोरोना कयूं के दौरान अनुमति प्राप्त दुकानदारों एवं व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को"मास्क नहीं तो सामान नहीं" "मास्क नहीं तो सेवा नहीं" तथा "मास्क नहीं तो बात नहीं'''''''''''''''' आदि स्लोगन अपने प्रतिष्ठान पर लगाते हुए जन-सामान्य को मास्क व शोसल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित करने हेतु जागरूक किया जाये।
  • 19.जन-प्रतिनिधियों/शासकीय अधिकारी/कर्मचारियों, सामाजिक संगठनों द्वारा जन-सामान्य को कोविड टीकाकरण कार्यक्रम के संबंध में जागरूक किया जाकर टीकाकरण कराने हेतु प्रोत्साहित किया जाये।
  •    सोशल मीडिया या अन्य किसी भी माध्यम से टीकाकरण के बारे में आमक जानकारी फैलाने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध सख्त दंडात्मक कार्यवाही की जायेगी।
  •    जिला मुख्यालय अशोकनगर व अनुविभाग मुंगावली/चंदेरी/ईसागढ़ के साथ-साथ समस्त तहसील मुख्यालयों यथा शाढौरा/पिपरई/नईसरांय/बहादुरपुर में भी खुली जेल बनाई जाकर उपर्युक्त निर्देशों का पालन नहीं करने वाले व्यक्तियों को खुली जेल में 5 घंटे तक रखने की कार्यवाही की जायेगी।
  •    माईक्रो कन्टेनमेंट जोन में रह रहे कोरोना पॉजीटिव पाये गये व्यक्तियों तथा उनके परिवार के सदस्यगणों को शासन द्वारा जारी कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना अनिवार्य होगा। कोरोना पॉजीटिव व्यक्तिों द्वारा निर्देशों का पालन नहीं करते पाये जाने पर संबंधित के विरुद्ध एफ.आई.आर. दर्ज कराते हुए सख्त कार्यवाही की जायेगी।
  •    समस्त व्यक्तियों को अनिवार्य रूप से गृह मंत्रालय, भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर कोविड-19 संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए स्वास्थ्य एवं सुरक्षा के बारे में जारी किये गये दिशा-निर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा।
  •    सार्वजनिक स्थानों पर थूकना पूर्ण रूप से प्रतिबंधित होगा। सार्वजनिक स्थानों पर थूकते पाये जाने पर संबंधित व्यक्तियों पर राशि 100/- रुपये का जुर्माना किया जावेगा। दोषी व्यक्तियों को खुली जेल में भेजने की कार्यवाही की जायेगी।
  •    अशोकनगर जिला अंतर्गत कोरोना कफ्यू के दौरान मंगलवार को आयोजित होने वाले जनसुनवाई कार्यक्रम को निरस्त किया जाता है।
  •    यह आदेश सार्वजनिक माध्यमों, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया एवं समाचार-पत्रों के माध्यम से सर्व-साधारण को अवगत कराया जा रहा है। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति/संगठन/संस्था/समूह सुसंगत अधिनियमों के तहत दण्डात्मक कार्यवाही की जावेगी। यह आदेश तत्काल प्रभावशील होगा।
(12 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer