समाचार
|| किल कोरोना अभियान में कोरोना वालेंटियर्स कर रहे सहयोग "खुशियों की दास्तां" || अब तक 4558 कोरोना संक्रमित मरीज उपचार उपरांत हुए स्वस्थ "खुशियों की दास्तां" || जिले के सात निजी एवं पांच शासकीय चिकित्सालयों को आयुष्मान योजना से सूचीबद्ध करने का निर्णय || जिला चिकित्सालय के कोविड वार्ड का राज्यमंत्री श्री परमार ने किया आकस्मिक निरीक्षण || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुदनी में निर्माणाधीन कोविड केयर सेंटर का जायजा लिया || घबराएँ नहीं, मनोबल बनाए रखें, सभी जल्द स्वस्थ होंगे: मुख्यमंत्री श्री चौहान || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की प्रधानमंत्री श्री मोदी से फोन पर चर्चा || कोरोना कर्फ्यू के निर्धारित समय के पश्चात भी दुकानें खोलने पर 3 दुकानें किए सील || नगर निगम द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम हेतु सैनिटाइजेशन के साथ-साथ सभी क्षेत्रों में मच्छरों से बचाव के लिए किया जा रहा है फागिंग || मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना का किया जाये प्रभावी क्रियान्वयन- कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने दिय निर्देश
अन्य ख़बरें
मृतक के परिजनों को दिलाया मृत्यु प्रमाण पत्र और दस्तावेज
-
जबलपुर | 04-मई-2021
    राईट टाउन स्थित एक निजी अस्पताल द्वारा कोरोना संक्रमित व्यक्ति की उपचार के दौरान मृत्यु हो जाने के बाद मृत्यु प्रमाण पत्र एवं अन्य दस्तावेज नहीं दिये जाने की परिजनों की शिकायत पर कार्यवाही करते हुये प्रशासनिक अधिकारियों ने न केवल निर्धारित दरों के मुताबिक बिल तैयार करने के निर्देश अस्पताल प्रबंधन को दिये बल्कि परिजनों को मृतक कोरोना पेशेण्ट का मृत्यु प्रमाण पत्र एवं अन्य सभी दस्तावेज भी तुरंत उपलब्ध करा दिये।
    अस्पताल प्रबंधन द्वारा मृतक कोरोना पेशेण्ट के मृत्यु प्रमाण पत्र, बिल, डिस्चार्ज कार्ड एवं अन्य दस्तावेज अस्पताल प्रबंधन द्वारा कब्जे में ले लेने की यह शिकायत कलेक्टर कर्मवीर शर्मा से मृतक की पत्नी द्वारा की गई थी।
    शिकायतकर्ता द्वारा कहा गया था उसके पति संजय झा का राइट टाउन स्थित अंनत अस्पताल में कोरोना का उपचार चल रहा था। ईलाज के दौरान 17 अप्रैल को उनकी मृत्यु हो गई। अस्पताल को 2 लाख 93 हजार रूपये का बिल चुका दिया गया था। अस्पताल प्रबंधन द्वारा करीब इतनी ही राशि की और मांग की जा रही थी एवं इस राशि को चुकाने के लिये दबाव बनाया जा रहा है तथा ईलाज से संबंधित सभी कागजात जप्त करके रख लिये गये हैं। शिकायतकर्ता ने बताया कि अस्पताल द्वारा मृत्यु प्रमाण पत्र, उपचार से संबंधित बिल और डिस्चार्ज कार्ड नहीं दिये जाने के कारण बीमा कपंनी से क्लेम भी नहीं मिल पा रहा है।
    कलेक्टर ने मृतक की पत्नी की इस शिकायत पर तत्काल संज्ञान लेकर संयुक्त कलेक्टर शाहिद खान और डॉ. संजय छत्तानी को तत्काल जांच करने के और मृतक के परिजनों को दस्तावेज उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। कलेक्टर के निर्देश पर दोनों अधिकारियों ने अनंत अस्पताल पहुंचकर शिकायत की जांच की और अस्पताल प्रबंधन को निर्धारित दरों के अनुसार संशोधित बिल तैयार करने के निर्देश दिये। जांच अधिकारियों द्वारा अस्पताल प्रबंधन से मृत्यु प्रमाण पत्र सहित सभी जरूरी दस्तावेज मृतक के परिजनों को तत्काल उपलब्ध भी कराये गये।

 
(4 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अप्रैलमई 2021जून
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
262728293012
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31123456

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer