समाचार
|| वैक्सीनेशन के लिए घर-घर जाकर सकारात्मक वातावरण तैयार कर रहे हैं वालेंटियर्स || जिले की 11 और ग्राम पंचायतों में हुआ शत-प्रतिशत टीकाकरण || टीकाकरण महाअभियान के दूसरे दिन भी दिखा लोगों में उत्साह || वेक्सीनेशन महा-अभियान के तहत 24 जून के लिये टीकाकरण केन्द्र निर्धारित,कटनी शहरी क्षेत्र के लिये बनाये गये 13 टीकाकरण केन्द्र || प्रदेश व्यापी रक्तदान महा शिविर का आयोजन 26 को || वैक्सीनेशन में मध्यप्रदेश अभी भी अव्वल, बनाया वर्ल्ड रिकार्ड || कोरोना वेक्सीनेशन महाअभियान || रानी दुर्गावती बलिदान दिवस पर समाधि स्थल पर होगा कार्यक्रम || जिले में निर्धारित लक्ष्य के विरुद्ध शाम 5 बजे तक 120 प्रतिशत से अधिक हुआ वेक्सीनेशन || वेक्सीनेशन महा-अभियान के तहत 24 जून के लिये टीकाकरण केन्द्र निर्धारित
अन्य ख़बरें
छतरपुर में कोरोना कर्फ्यू 15 मई तक बढ़ा
राजस्व सीमा में होगा प्रभावशील, आदेश जारी
छतरपुर | 07-मई-2021
      जिला दण्डाधिकारी एवं कलेक्टर छतरपुर शीलेन्द्र सिंह द्वारा जिले की सम्पूर्ण राजस्व सीमा में 15 मई की रात्रि 12 बजे तक कोरोना कर्फ्यू प्रभावशील रहने के आदेश जारी किए गए हैं। 6 मई को वीडियो कॉन्फ्रेंस में प्राप्त निर्देश तथा जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों की सहमति के अनुसार जिले में फैल रहे संक्रमण को रोकने के लिए 29 अपै्रल द्वारा जारी कार्यालयीन आदेश में आंशिक संशोधन करते हुए कोरोना कर्फ्यू को 15 मई तक बढ़ाया गया है।
    जारी आदेश के तहत कोरोना कर्फ्यू अवधि में सभी प्रकार के धार्मिक एवं अन्य जुलूस आयोजन पर प्रतिबंध रहेगा। ऑटो, ई-रिक्शा, टैक्सी तथा निजी चार पहिया वाहनों में ड्रायवर और दो पेसेंजर को कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए अति आवश्यक कार्य हेतु यात्रा करने की अनुमति होगी।
    जारी आदेशानुसार केन्द्र सरकार के ऐसे कार्यालय जो अतिआवश्यक सेवा से नहीं जुड़े हैं वह 10 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ कार्यालय चालू रखेंगे। इसके अलावा राज्य सरकार के अतिआवश्यक सेवा देने का कार्य करने वाले कार्यालय जिनमें जिला कलेक्ट्रेट, पुलिस, आपदा प्रबंधन, फायर, स्वास्थ्य, चिकित्सा, जेल, राजस्व, पेयजल, खाद्य आपूर्ति, नगरीय प्रशासन, ग्रामीण विकास, विद्युत प्रदाय, सार्वजनिक परिवहन तथा जिला कोषालय चालू रहेंगे।
    आईटी कम्पनियां, बीपीओ एवं मोबाइल कम्पनियों का सपोर्ट स्टॉफ एवं यूनिट्स को छोड़कर शेष निजी कार्यालय में भी केवल 10 कर्मचारी ही उपस्थित रहेंगे। जो विभाग नहीं खुलेंगे उनके कर्मचारी वर्क फ्राम होम करेंगे। आटो, ई-रिक्शा में दो सवारी बैठ सकेंगी। टेक्सी तथा निजी चार पहिया वाहनों में ड्रायवर तथा दो पेसेंजर को मास्क पहनकर यात्रा की अतिआवश्यक कार्य हेतु अनुमति होगी। सामाजिक, राजनैतिक, खेलकूद, मनोरंजन, शैक्षणिक, सामाजिक एवं धार्मिक, सांस्कृति कार्यक्रमों के आयोजनों के लिए न तो आयोजन होगा और न ही लोग एकत्रित हो सकेंगे। इस अवधि में शादी समारोह नहीं होंगे। ग्रामीणों को समझाईश दी जाएगी कि शादी समारोह टाल दें।
कोरोना कर्फ्यू में प्रतिबंध से निम्मानुसार रहेगी छूट
छतरपुर जिले में 15 मई तक प्रभावशील किए गए कोरोना कर्फ्यू की अवधि में प्रतिबंध से निम्मानुसार छूट भी रहेगी, जिसके तहत दूध की दुकानें प्रातः 6 बजे से 11 बजे तक और शाम 6 से रात्रि 8 बजे तक खुली रहेंगी। सब्जी विक्रेता प्रातः 7 से 11 बजे तक केवल होम डिलेवरी कर सकेंगे।
कर्फ्यू के दौरान किराना एवं राशन की होम डिलेवरी भी प्रातः 10 से शाम 6 बजे तक हो सकेगी। होम डिलेवरी के कर्फ्यू पास एडीएम से लेना होगा। अन्य राज्यों से आने वाले माल एवं सेवाओं का आवागमन तथा अस्पताल, नर्सिंग होम, मेडिकल, बीमा कम्पनी, अन्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेवाएं, कैमिस्ट, पेट्रोल पम्प, बैंक, एटीएम, दूध एवं सब्जी की दुकानें तथा ठेले, रेस्टोरेंट केवल टेक होम डिलेवरी के लिए चालू रहेंगे।
इस दौरान एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड, टेली कम्युनिकेशन, विद्युत प्रदाय, रसोई गैस, होम डिलेवरी सेवाएं, दूध एकत्रीकरण एवं वितरण के परिवहन की छूट रहेगी। औद्योगिक इकाईयों मजदूरों, उद्योग हेतु कच्चा एवं तैयार माल तथा उद्योगों के अधिकारियों तथा कर्मचारियों के आवागमन पर छूट होगी। उचित मूल्य दुकानें, केन्द्र एवं राज्य सरकार, स्थानीय निकायों के अधिकारी-कर्मचारियों के शासकीय कार्य से आवागमन पर प्रतिबंध नहीं होगा।
इलैक्ट्रिशियन, प्लम्बर, कार्पेंटर का आवागमन, कंस्ट्रैक्शन गतिविधियां (यदि मजदूर कम्पनी के कैम्पस या परिसर में रूके हों), कृषि संबंधी सेवाएं जिसमें कृषि उपज मण्डी, उपार्जन केन्द्र, खाद, बीज एवं कीटनाशक दवाएं, अन्य राज्यों से माल एवं सेवाओं का आवागमन पर छूट रहेगी। अस्पताल एवं नर्सिंग होम के अलावा कोविड टीकाकरण हेतु आवागमन कर रहे नागरिक एवं कर्मचारी, फसलों के उपार्जन कार्य से जुड़े कर्मचारी एवं उपार्जन स्थल पर आवागमन कर रहे किसान, बस स्टैण्ड, रेल्वे स्टेशन तथा एयरपोर्ट से आने-जाने नागरिक, अखबार वितरण एवं अधिमान्यता प्राप्त पत्रकारगण तथा होटल (केवल इन-रूम) डायनिंग व्यवस्था के साथ को प्रतिबंध से छूट रहेगी।
यह आदेश सर्वसाधारण को संबोधित है और वर्तमान परिस्थिति में प्रत्येक व्यक्ति को तामील कर सुनवाई किया जाना संभव नहीं है। इसीलिए धारा 144 द.प्र.स. 1973 के तहत एक पक्षीय रूप से पारित किया गया है। इस आदेश का उल्लंघन आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 के प्रावधान तथा आईपीसी की धारा 188 में दण्डनीय होगा।
 
(48 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2021जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
31123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
2829301234
567891011

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer