समाचार
|| रोजगारोन्मुखी व्यवसायों में कौशल विकास प्रशिक्षण हेतु आवेदन आमंत्रित || कोविड-19 वैक्सीनेशन महाअभियान- मोनिटरिंग के लिए कंट्रोल रूम किया स्थापित || कोविड वैक्सीनेशन महाअभियान में सभी की सहभागिता जरूरी- कलेक्टर || वैक्सीन महाअभियान में कोरोना वॉलेंटियर्स की महत्वपूर्ण भूमिका - मुख्यमंत्री श्री चौहान || कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए तैयारियाँ जारी : मुख्यमंत्री श्री चौहान || टीकाकरण: कोविड संक्रमण से बचाव का सबसे बड़ा हथियार || कोविड-19 वैक्सीनेशन महाअभियान || स्वयं एवं परिवार की सुरक्षा व समाज हित में टीकाकरण करवाएं || रविवार को रहेगा कोरोना कर्फ्यू || एसडीएम सुसनेर ने किया ने मोड़ी टीकाकरण केन्द्र का निरीक्षण
अन्य ख़बरें
व्हाट्सएप समूह के माध्यम से अध्ययन- अध्यापन
कक्षा 1 से 7 वी तक की पढ़ाई अब वाट्सएप के माध्यम से
भोपाल | 29-मई-2021
   संचालक राज्य शिक्षा केन्द्र भोपाल धनराजू एस ने प्रदेश के सभी जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केंद्र को निर्देशित किया है कि कोविड-19 के कारण विद्यालय बंद रहने की स्थिति में शिक्षण प्रक्रिया को निरंतर रखने हेतु विभाग द्वारा पिछले वर्ष विभिन्न गतिविधियाँ संचालित की गई। जिसके अन्तर्गत प्रदेश के सभी शासकीय विद्यालयों के विद्यार्थियों तक विभिन्न माध्यमों जैसे - टी.वी ., रेडियो, व्हाट्सएप्प, गृहसंपर्क, फोन काल आदि के माध्यम से गुणवत्तायुक्त शिक्षण सामग्री पहुंचाने में शिक्षकों ने अत्यन्त महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। 
   वर्तमान में COVID - 19 के बढ़ते संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए यह सुनिश्चित करना आवश्यक है कि हमारे विद्यार्थी सुरक्षित रहे एवं नियमित रूप से उनकी शिक्षा भी जारी रह सकें। शिक्षण व्यवस्था को निर्बाध रूप से जारी रखने हेतु निम्नानुसार गतिविधियाँ संचालित की जानी हैं 
व्हाट्सएप समूह से सम्बंधित गतिविधियाँ
      कक्षावार व्हाट्सएप समूहों का निर्माण- वर्तमान में प्रदेश में संकुल स्तर पर व्हाट्सएप समूह बने हुए हैं, जिसमें विद्यार्थियों व शिक्षकों को जोड़कर डिजिलेप कार्यक्रम का क्रियान्वयन किया जा रहा है। राज्य से लेकर संकुल / कक्षा स्तर तक व्हाट्सएप समूहों की वर्तमान संरचना संलग्न है। इसके अतिरिक्त राज्य द्वारा पिछले वर्ष सभी शिक्षकों को कक्षा स्तर पर व्हाट्सएप समूह बनाने के निर्देश भी दिए गए थे। इन समूहों के माध्यम से शिक्षक अपनी कक्षा के विद्यार्थियों के साथ व्यक्तिगत संपर्क स्थापित कर सकते हैं, जो संकुल स्तर के समूहों में संभव नहीं होता है। इसके अतिरिक्त शिक्षक इन समूहों के माध्यम से -
    राज्य स्तर से भेजी गई सामग्री को सभी विद्यार्थियों के साथ दोबारा साझा करेंगे।  विद्यार्थियों को अपने गृहकार्य वर्कशीट आदि के चित्र लेकर शिक्षक के साथ साझा करने के लिए कहेंगे। राज्य स्तर से भेजी गई सामग्री बच्चों की कक्षा एवं सीखने के स्तर अनुरूप है। शिक्षकों के द्वारा राज्य स्तर से भेजी गई सामग्री से भिन्न अपने स्तर से चयनित सामग्री का उपयोग ऐसी स्थिति में ही किया जाए जब ऐसा किया जाना अत्यन्त आवश्यक हो। यदि शिक्षकों द्वारा कक्षा स्तर के समूह नहीं बनाए गए हैं, तो इस पर त्वरित कार्यवाही की जाना अपेक्षित है। सभी शिक्षकों से अपेक्षा है कि दिनांक 10 जून2021 तक कक्षावार समूहों का निर्माण कर लें। कक्षा स्तर के समूहों का नामकरण उदाहरण स्वरूप दिए गए फार्मेट अनुसार किया जाना है - स्कूल का नाम - शासकीय प्राथमिक विद्यालय कक्षा -3, डिजिलेप समूह कक्षा स्तर के व्हाट्सएप समूहों की ट्रैकिंग हेतु सभी शिक्षक संलग्न लिंक पर जानकारी भरना सुनिश्चित करें। इसके अतिरिक्त, जिन शिक्षकों ने पहले से ही कक्षा स्तर के व्हाट्सएप समूह बना लिए हैं, उन्हें अकादमिक सत्र 2021-22 में विद्यार्थियों की कक्षोन्नति के दृष्टिगत समूह में निम्नानुसार बदलाव करने होंगे - 1. कक्षा 1 से 7 के सभी शिक्षक अपने कक्षा के समूहों में अवाली कक्षा के शिक्षक को जोड़ेंगे, उन्हें सगृह का एडमिन बनाएंगे और स्वयं समूह से बाहर निकल जाएंगे। उदाहरण के लिए कक्षा 6 (अकादमिक सत्र 2020-21) के शिक्षक अपनी कक्षा के समूह में कक्षा 7 (अकादमिक सत्र 2021-22) के शिक्षक को जोड़ेंगे, उन्हें एडमिन बनाएंगे और स्वयं समूह से निकल जाएंगे। इस प्रकार कक्षा 6 के सभी विद्यार्थी जो इस वर्ष कक्षा 7 में पहुंच गए हैं अपने नए शिक्षकों से संपर्क बना पाएंगे, कक्षा में बदलाव अनुसार समूह के नामकरण में भी परिवर्तन किया जाएगा। कक्षा 8 के शिक्षक अपनी कक्षा के समूह को डिलीट कर देंगे। कक्षा 1 के शिक्षक अकादमिक सत्र 2021-22 में आने वाले नए विद्यार्थियों हेतु नया समूह बनाएंगे।
   अकादमिक सत्र 2021-22 में विद्यार्थियों की कक्षोन्नति के दृष्टिगत संकुल स्तर के व्हाट्सएप समूहों में बदलाव अकादमिक सत्र 2021-22 प्रारम्भ होने के साथ ही सभी विद्यार्थी पिछली कक्षा उत्तीर्ण कर अगली कक्षा में पहुंच गए हैं। विद्यार्थियों की कक्षोन्नति को ध्यान में रखते हुए कक्षा व संकुल स्तर के व्हाट्सएप समूहों में परिवर्तन की आवश्यकता होगी। जिसके लिए विद्यार्थियों को एक अलग समूह में स्थानांतरित करने की जगह हम उसी समूह में अगले कक्षा के शिक्षकों को जोड़ने की रणनीति पर काम करेंगे। इसके लिए निम्नानुसार गतिविधियों की जानी है -  CAC सभी संकुल स्तर के कक्षा 1-7 के समूहों से पिछली कक्षा (अकादमिक सत्र 2020-21) के शिक्षकों को निकालकर नई कक्षा (अकादमिक सत्र 2021-22) के शिक्षकों को जोड़ेंगे। उदाहरण के लिए यदि कक्षा 6 का समूह है, तो उसमें से कक्षा 6 के सभी शिक्षकों को निकालकर कक्षा के सभी शिक्षकों को जोड़ा जाएगा। इस प्रकार कक्षा 6 के सभी विद्यार्थी जो इस वर्ष कक्षा 7 में पहुंच गए हैं अपने दाए शिक्षकों से संपर्क बना पाएंगे। CAC द्वारा कक्षा में बदलाव अनुसार समूह के नामकरण में भी परिवर्तन किया जाएगा। CAC द्वारा अकादमिक सत्र 2020-21 के कक्षा 8 के समूह को डिलीट कर दिया जाएगा वे सभी विद्यार्थी कक्षा 9 के समूह में जोड़े जाएंगे। CAC द्वारा अकादमिक सत्र 2021-22 में कक्षा। में आने वाले नए विद्यार्थियों हेतु बाए समूह बनाए जाएगें, जिसमें कक्षा 1 के सभी शिक्षकों और विद्यार्थियों को जोड़ा जाएगा। वे विद्यार्थी जिनके पास स्मार्ट फोन नहीं है। ऐसे विद्यार्थियों को उनके आस - पास रहने वाले स्मार्ट फोन वाले विद्यार्थियों के साथ समूह बनाना। विद्यालय के उच्च कक्षाओं के बच्चे जिनके पास स्मार्ट फोन है उनके साथ जोडना, ऐसे पडोसी जिनके पास स्मार्ट फोन है उनके साथ जोडना।  कक्षा 1-8 के विद्यार्थियों हेतु समुदाय में से मेंटर की पहचान विद्यालय बंद होने कि स्थिति में विद्यार्थियों को नियमित रूप से अकादमिक समर्थन प्रदान करने में शिक्षकों की सहायता हेतु समुदाय की सहभागिता आवश्यक हो जाती है। इस उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए शिक्षण प्रक्रिया में विद्यार्थियों के नियमित सहयोग देत शिक्षकों द्वारा समदाय में से हर विद्यार्थी के लिए सेंटर की पहचान की जाए।
मेंटर का चयन
   मेंटर विद्यार्थी के आस - पड़ोस में रहने वाले समुदाय के कोई भी सदस्य जैसे माता - पिता, बड़े भाई - बहन, सेवानिवृत्त शिक्षक, पड़ोसी, रिश्तेदार इत्यादि हो सकते हैं। यदि माता - पिता के अलावा किसी अन्य व्यक्ति का मेंटर हेतु चयन किया जा रहा है, तो शिक्षक को चयनित व्यक्ति हेतु माता पिता की सहमति लेना अनिवार्य होगा। एक व्यक्ति अधिकतम 3-4 विद्यार्थियों हेतु मेंटर की भूमिका निभा सकता है। मेंटर की पहचान करते समय यह ध्यान रखा जाना है की मेंटर स्वयं शिक्षित हो और विद्यार्थी की सहायता करने में सक्षम हों। मेंटर का चयन करते समय ऐसे लोगों को प्राथमिकता दी जाए जिनके पास स्मार्ट फोन व इंटरनेट कनेक्टिविटी है, जिससे विद्यार्थी इनका उपयोग कर सकें। शिक्षक द्वारा सभी मेंटर्स को कक्षा के व्हाटएप गुप में जोड़ा जाएगा। 
मेंटर पहचान हेतु गतिविधियां
    सभी शिक्षक दिनांक 20 जून 2021 तक अपनी कक्षा अंतर्गत आने वाले सभी विद्यार्थियों के लिए मेंटर की पहचान करेंगे व उन्हें जिम्मेदारियों से अवगत कराएंगे। विद्यालय के सभी विद्यार्थियों के मेंटर की सूची संलग्न प्रपत्र अनुसार विद्यालय स्तर पर हेडमास्टर / प्रिंसिपल द्वारा एकत्रित की जायेगी। हेडमास्टर व शिक्षक दैनिक रूप से 5 मेंटर्स से फोन पर संपर्क करेंगे। मेंटर पहचान की ट्रैकिंग हेतु लिंक https://forms.gle/HeSNJxUS5eq2WMhT8 जिसे भरने की जिम्मेदारी CAC की रहेगी। सभी CAC उक्त लिंक में अपने संकुल अंतर्गत आने वाले सभी प्राथमिक व माध्यमिक शालाओं के सभी विद्यार्थियों की सूची अपलोड करेंगे। यदि किसी संकुल में दो CAC हैं तो एक CAC संकुल की जानकारी मारेंगे। सूची अपलोड करने हेतु गूगल अकाउंट होना आवश्यक है, तो यदि CAC का स्वयं का गूगल अकाउंट नहीं है तो नया अकाउंट बनाकर या किसी अन्य के गूगल अकाउंट से फार्म भर सकते हैं। मेंटर की भूमिका मेंटर विद्यार्थियों को दूरस्थ शिक्षण प्रक्रिया में भागीदारी हेतु सक्षम करेंगे, इसके लिए मेंटर विद्यार्थी को समय -सारणी अनुसार सीखने में सहायता करेंगे। अध्यापक से संपर्क स्थापित करने, शंका समाधान करने में सहायता करेंगे। गृहकार्य / प्रोजेक्ट इत्यादि करने में सहायता करेंगे। आवश्यकतानुसार विद्यार्थी को पेन, पेंसिल, कापी इत्यादि व वीडियो देखने हेतु मोबाइल उपलब्ध कराने का भी यथासंभव प्रयास करेंगे। व्हाट्सएप समूहों में बदलाव हेतु और रिपोर्टिग करने हेतु एक ट्रेनिंग वीडियो सभी शिक्षकों तक व्हाट्सएप के माध्यम से भेजा जाएगा। अत : सभी शिक्षक और CAC निर्धारित समय सीमा में उक्त सभी गतिविधियां करवाना सुनिश्चित करें, जिससे भीष्मावकाश समाप्त होने के बाद सभी विद्यार्थियों के लिए शिक्षण अधिगम प्रक्रिया प्रभावी रूप से संचालित की जा सकें। 
 संभागवार लिंक-
1 भोपाल +नर्मदा पुरम संभाग https://forms.gle/T5FSm5ZisCr2pGpx7 
2 ग्वालियर चंबल संभाग https://forms.gle/IHMSPzK60iUscu8Y8 
3 इंदौर संभागhttps://forms.gle/VZ1XgA9tBeRfowqp6 
4 जबलपुर संभाग https://forms.gle/  MarWuXaAVpd7e1sJ9
 5 रीवा + शहडोल संभाग https://forms.gle/yT3aUqCsPTEa2ZhQ8 
6 सागर संभाग https://forms.gle/mWtoKyaeSxLiSCas8 
7  उज्जैन संभाग https://forms.gle/EDfADLpcjCB4a29E7
(21 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2021जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
31123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
2829301234
567891011

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer