समाचार
|| मध्यप्रदेश वृक्षारोपण प्रोत्साहन विधेयक-2021, स्टेक होल्डर्स एक महीने में अपने सुझाव प्रस्तुत कर सकेंगे || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रोपा नारियल का पौधा || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शहीद उधम सिंह की पुण्य-तिथि पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने साहित्यकार मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर किए श्रद्धा सुमन अर्पित || दाल भंडारण की अधिकतम सीमा निर्धारित || कोरोना वालंटियर कर रहे है वैक्सीनेशन में सहयोग || दिव्यांगों को वे सारी सुविधाएँ देंगे, जिससे वे सामान्य व्यक्ति की तरह जीवन जी सकें || टीकाकरण महाअभियान के तहत 28482 लोगों ने लगवाया कोविड टीका || विद्यार्थियों के लिए अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य दोनों महत्वपूर्ण - मुख्यमंत्री श्री चौहान || देश को मौजूदा परिपाटियों से आगे बढ़ाने के हो प्रयास हमारी मूल क्षमताओं का हो सर्वश्रेष्ठ उपयोग - श्री पटेल
अन्य ख़बरें
विभागीय अधिकारी अपने कर्मचारियों के साथ साथ जुड़ी हुई समितियों का कराएं वैक्सीनेशन- कलेक्टर
वायुदूत बनकर सभी लगाएं एक पेड़ और पर्यावरण संतुलन में निभाए सहभागिता- कलेक्टर, समय-सीमा की बैठक संपन्न
शहडोल | 07-जून-2021
   कोरोना महामारी संक्रमण रोकथाम के लिए वैक्सीनेशन में प्रगति सुनिश्चित करने के लिए सभी विभागीय अधिकारी अपने अधीनस्थ कर्मचारियों का वैक्सीनेशन शत-प्रतिशत कराएं। उन्होंने कहा कि जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक यह सुनिश्चित करें कि उनके अधीनस्थ पीडीएस की राशन दुकानों में विक्रेता के साथ साथ राशन लेने आने वाले सभी कार्डधारी वैक्सीनेशन कराएं, इसके लिए खाद्यान्न देने के पूर्व उनका टीकाकरण कार्ड अवश्य  रूप  से जांच किया जाए। इसी प्रकार सहकारी समिति, क्रेडिट कार्ड धारी, मछुआरों, किसान मित्र, कृषको, श्रमिकों, वन समिति के सदस्यों तथा स्व-सहायता समूह एवं ठेकेदारों के अधीनस्थ कार्य करने वाले श्रमिकों, क्रेशर मशीनों में कार्य करने वाले मजदूर, मनरेगा में कार्य करने वाले मजदूर सभी का वैक्सीनेशन कराने के लिए एक कार्य योजना बनाकर अधिक से अधिक व्यक्तियों का वैक्सीनेशन कराएं। उक्त निर्देश आज कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट डॉ. सतेन्द्र सिंह ने समय-सीमा की बैठक में दिए।
    बैठक में कलेक्टर ने कहा कि अगली समय-सीमा की बैठक में सभी अधिकारी अपने अधीनस्थ अधिकारियों एवं कर्मचारियों की वैक्सीनेशन की स्थिति का डेटाबेस लेकर आए, क्योंकि स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, पंचायत विभाग के मैदानी कार्यकर्ता अभी पूर्ण रूप से वैक्सीनेटेड नहीं हो पाए हैं। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि हर ब्लॉक में 5-5 पंचायतें एवं क्षेत्र में दो-दो बार चिन्हित कर 18 वर्ष से ऊपर व्यक्तियों का शत प्रतिशत वैक्सीनेशन कराने के लिए 2 दिन पूर्व से ही प्रचार प्रसार, मुनादी कराने के साथ-साथ संगोष्ठी बैठक करके उन्हें समझाइश देते हुए वैक्सीनेशन कार्य करवाए।
       बैठक में कलेक्टर ने जिले के सभी विभागीय अधिकारी राजस्व को निर्देशित किया कि अपने अनुभव स्तर पर सरपंच, उपसरपंच, पंच, सचिव एवं रोजगार सहायक तथा मैदानी कार्यकर्ताओं आदि की बैठक लेकर उन्हें वैक्सीनेशन करवाने की समझाइश दें। साथ ही सेक्टर अधिकारी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत एवं अन्य संबंधित अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि ग्राम स्तरीय टीम मतदाता सूची लेकर जो व्यक्ति वैक्सीनेशन नहीं कराए हैं, उन्हें चिन्हित कर उनका वैक्सीनेशन कराना सुनिश्चित करें। इसी प्रकार दिव्यांगजन का भी शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन कराएं तथा वैक्सीनेशन के पश्चात उनका अनुसरण भी करें।
     बैठक में कलेक्टर ने पर्यावरण प्रदूषण के लिए संतुलन स्थापित करने के उद्देश्य से अभिनव कार्यक्रम अंकुर कार्यक्रम की शुरुआत की है, इसके अंतर्गत सभी वायुदूत बनकर रजिस्ट्रेशन कराएं और एक पेड़ अवश्य लगाएं। सभी जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी तथा कर्मचारी, नागरिक स्वयंसेवी संस्था सभी बढ़-चढ़कर सहभागिता निभाएं तथा दूसरों को इस हेतु प्रोत्साहित करें और इस कोरोना काल में पर्यावरण संतुलन स्थापित कर ऑक्सीजन की उपलब्धता वायुमंडल में बढ़ाना सुनिश्चित करें।
   समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर ने वनाधिकार प्रकरणों की समीक्षा करते हुए कहा कि सभी एसडीएम यह सुनिश्चित करें उनके अनुभाग क्षेत्र में एक भी प्रकरण लंबित ना रहे, उसे डीएलसीसी में भिजवा ना सुनिश्चित करें। बैठक में कलेक्टर ने महिला एवं बाल विकास विभाग के आंगनवाड़ी केंद्रों एवं स्वास्थ्य विभाग के उप स्वास्थ्य केंद्रों की सुदृढ़ीकरण करने के निर्देश देते हुए कहा कि इस कार्य को प्राथमिकता के आधार पर किया जाए। इसी प्रकार स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया कि 1 सप्ताह के अंदर सभी एनआरसी में बेड पूर्ण रूप से भरे जाएं। साथ ही उसकी रिपोर्ट भी भिजवाना सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने तहसीलदार एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत गोहपारू को निर्देशित किया कि खन्नौधी सहकारी समिति के पास का अतिक्रमण आज ही हटवाए और मनरेगा चबूतरा भी बनवाना सुनिश्चित करें।
   बैठक में कलेक्टर ने गौशाला निर्माण, चालू एवं बंद हैंड पंप, स्वच्छता परिसर, जिले में बिजली, आपूर्ति खाद्यान्न का उठाव परिवहन एवं भुगतान एवं जिले में खाद की उपलब्धता की समीक्षा की। बैठक में कलेक्टर ने जिला आयुष अधिकारी को निर्देशित किया कि आयुर्वेद एवं आयुष के चिकित्सक जिन ग्रामों में कोरोना के पॉजिटिव केस निकल रहे हैं वहां कांटेक्ट ट्रेसिंग कर काढ़ा बटवाने के साथ-साथ वैक्सीनेशन के लिए भी प्रेरित एवं प्रोत्साहित करें। बैठक में कलेक्टर ने जिला समन्वयक जन अभियान परिषद के श्री विवेक पांडेय को निर्देशित किया कि अपनी पूरी टीम के साथ एवं कोरोना वॉलिंटियर के साथ इस अंकुर कार्यक्रम में जुड़ कर अधिक से अधिक पेंड लगवाना सुनिश्चित करें।
   बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री मेहताब सिंह, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व जैतपुर श्री धर्मेंद्र मिश्रा, उप संचालक कृषि श्री आर.पी. झारिया, कार्यपालन यंत्री पीडब्ल्यूडी श्री संजीव कुल्हारे, कार्यपालन यंत्री जल संसाधन विभाग श्री प्रदीप खरे, कार्यपालन यंत्री एमपीवी श्री आर.सी. पटेल, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एम.एस. सागर, खनिज अधिकारी सुश्री फरहाद जहां, डीपीसी डॉ. मदन त्रिपाठी, सहायक आयुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग श्री एम.एस. अंसारी, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. अंशुमन सोनारे सहित जिले के अन्य विभागों के विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
(55 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2021सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2627282930311
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer