समाचार
|| देश की आजादी में शहीदों के योगदान को हम कभी भुला नहीं पायेंगे – गृह मंत्री डॉ. मिश्र || आज कोई केस सामने नहीं आया || पीएलवी की बैठक सम्पन्न || जिले में अभी तक 305.3 मि.मी. वर्षा दर्ज || आज 26 को जिले में होगा कोविड 19 वैक्सीनेशन || प्रदेश की प्रथम अत्याधुनिक वैक्सीनेशन बैन को सांसद एवं प्रदेश अध्यक्ष वी डी शर्मा द्वारा हरी झंडी दिखाकर आमजन को समर्पित किया || दमोह के विभिन्न केंद्रों पर आयोजित हुई राज्य सेवा एवं राज्य वन सेवा की प्रारंभिक परीक्षा || कोरोना गाईड लाइन और सभी सावधानियों के साथ सोमवार से शुरू हो सकेंगी 11वीं 12वीं की कक्षायें || मुख्यमंत्री श्री चौहान 26 जुलाई को ‘आयुष क्षेत्र में संभावनाएँ’ विषय पर बैठक लेंगे || कोरोना संक्रमण में कमी का मतलब यह नहीं की लापरवाह हो जाएं: मुख्यमंत्री श्री चौहान
अन्य ख़बरें
कृषि विज्ञान केन्द्र देवास द्वारा वैज्ञानिक सलाहाकार समिति बैठक का आयोजन
-
देवास | 07-जून-2021
कृषि विज्ञान केन्द्र देवास द्वारा वैज्ञानिक सलाहकार समिति की बैठक का आयोजन ऑनलाईन माध्यम से किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि निदेशक अटारी भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् जबलपुर डॉ. एस.आर.के सिंह एवं निदेशक विस्तार सेवायें रा.वि.सि.कृ.वि.वि. ग्वालियर डॉ. एस.एन. उपाध्याय तथा विशिष्ट अतिथि अधिष्ठाता कृषि महाविद्यालय इंदौर डॉ. अशोक कुमार शर्मा, निदेशक गेहूं अनुसंधान केन्द्र इंदौर डॉ. सांई प्रसाद मुख्य रूप से उपस्थित थे।
बैठक में सर्वप्रथम केन्द्र के प्रधान वैज्ञानिक एवं प्रमुख डॉ.ए.के. दीक्षित ने सभी सम्मानीय अतिथियों का स्वागत किया गया। तत्पश्चात डॉ. के.एस.भार्गव ने विगत 6 माह की आयोजित गतिविधियों का प्रगति प्रतिवेदन एवं आगामी 6 माह की प्रस्तावित कार्य योजना के बारे में विस्तृत प्रस्तुतिकरण दिया।
     कार्यक्रम के मुख्य अतिथि निदेशक अटारी डॉ. एस.आर.के. सिंह ने सुझाव दिया कि किसान सिर्फ फसलों को उगाने तक ही सीमित न रहे। किसान बंधु स्वरोजगार की तरफ बढ़े ताकि उनकी आमदनी में बढ़ोत्तरी हो सके। कार्यक्रम के अध्यक्ष निदेशक विस्तार सेवायें, रा.वि.सिं.कृ.वि.वि. ग्वालियर डॉ. एस.एन.उपाध्याय ने केन्द्र द्वारा की जाने वाली गतिविधियों की सराहना की। साथ ही यह सुझाव दिया कि नई तकनीकों को किसानों के मध्य में फैलाया जाये ताकि सभी के सामाजिक आर्थिक स्तर में सुधार हो सके। इसके अलावा उन्होंने सब्जियों की पौध तैयार करने की सलाह दी।
गेहूं अनुसंधान केन्द, इंदौर के निदेशक डॉ. सांई प्रसाद ने सोयाबीन एवं गेहूं की अधिक उपज वाली प्रजातियों को केन्द्र के फसल संग्रहालय एवं केन्द्र की गतिविधियों में शामिल करने का सुझाव दिया। अधिष्ठाता कृषि महाविद्यालय इंदौर डॉ. अशोक कुमार शर्मा ने केन्द्र के कार्यों को सराहा एवं उन्होंने बताया कि किसान की आय बढ़ोत्तरी पर कार्य किया जाये। प्रधान वैज्ञानिक एवं प्रमुख के.व्ही.के. उज्जैन डॉ. आर.पी.शर्मा ने कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा किए जाने वाले कार्यों की सराहना की। कृषि विज्ञान केन्द्र इंदौर के प्रधान वैज्ञानिक एवं प्रमुख डॉ. आलोक देशवाल ने लाइव स्टॉक और मिनरल मिक्सचर को केन्द्र की गतिविधियों में शामिल करने का सुझाव दिया। नाबार्ड के सहायक महाप्रबंधक श्री अविनाश तिवारी ने सुझाव दिया कि कृषक उत्पादक संगठन को कृषि विज्ञान केन्द्र के माध्यम से तकनीकी मार्गदर्शन दिया जाये ताकि वे अपने कार्यक्रम को सुचारू ढंग से संचालित कर सकें।
किसान कल्याण एवं कृषि विभाग के सहायक संचालक श्री लोकेश गंगराडे ने कहा कि इन दिनों डीएपी का संकट है। अतः कृषि विज्ञान केन्द्र के माध्यम से सोयाबीन की फसल में उर्वरक के दूसरे स्त्रोत जैसे कि एसएसपी एवं एनपीके आदि के बारे में जागरूक किया जाना चाहिए। कार्यक्रम का आयोजन गूगल मीट एप के माध्यम से किया गया। इस बैठक में प्रधान वैज्ञानिक एवं प्रमुख कृषि विज्ञान केन्द्र इंदौर डॉ. आलोक देशवाल, प्रधान वैज्ञानिक एवं प्रमुख कृषि विज्ञान केन्द्र उज्जैन डॉ. आर.पी.शर्मा, प्रधान वैज्ञानिक एवं प्रमुख कृषि विज्ञान केन्द्र शाजापुर डॉ. अम्बावतिया, द्वारा भागीदारी की गई। इसके साथ ही जिले के कृषि से संबद्ध विभागों के प्रमुख उप-संचालक कृषि देवास श्रीमती नीलम चौहान, उप-संचालक उद्यानिकी श्री नीरज सांवलिया, सहायक संचालक कृषि श्री लोकेश गंगराडे, सहायक महाप्रबंधक नाबार्ड श्री अविनाश तिवारी आदि उपस्थित थे। साथ ही केन्द्र के वैज्ञानिक डॉ. निशिथ गुप्ता, डॉ.के.एस.भार्गव, डॉ. महेन्द्र सिंह, डॉ. मनीष कुमार, डॉ. लक्ष्मी, श्रीमती अंकिता पाण्डेय एवं डॉ. सविता कुमारी की सराहनीय भूमिका रही।   
(49 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2021अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2829301234
567891011
12131415161718
19202122232425
2627282930311
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer