समाचार
|| तहसीलदार पहुंचे ग्राम कोयलारी राजस्व सेवा अभियान से जुड़े किसान || जिले में बीते 24 घंटे में 9.0 मिमी वर्षा दर्ज || 26 जून को 75 टीकाकरण केन्द्रों में आयोजित किया जाएगा टीकाकरण || कोरोना संक्रमण से मुक्त हो चुके व्यक्तियो को आयुष विभाग के माध्यम से दिया जा रहा है ऑनलाइन योगा का प्रशिक्षण || राज्य सेवा एवं वन सेवा प्रारंभिक परीक्षा संबंधी बैठक सम्‍पन्‍न || स्टेटिक पॉइंट में वेक्सिनेशन लगातार जारी || स्टेट बैंक द्वारा जिला अस्पताल को सौंपी गई चिकित्सा सामग्री || कलेक्‍टर श्री अग्रवाल की अध्‍यक्षता में जिलास्‍तरीय सर्तकता एंव मॉनिटरिंग || 24 जून को विभिन्न टीकाकरण केन्द्रों मे संपन्न हुआ टीकाकरण || जिले मे वर्तमान में दो केस एक्टिव
अन्य ख़बरें
जिला अस्पताल पहुंचे संभागायुक्त श्री चन्द्रशेखर
कोरोना की थर्ड वेब की तैयारियों का निरीक्षण कर लिया जायजा साफ-सफाई व्यवस्थायें रखें बेहतर, अन्यथा एजेन्सी का टेण्डर करें निरस्त ऑक्सीजन प्लान्ट की स्थापना के साथ ही सप्लाईन लाईन स्थापित कराने की दिशा में करें कार्य
कटनी | 11-जून-2021
    कोरोना संक्रमण की सेकेण्ड वेब के बाद अब संभावित तीसरी वेब की तैयारियों को लेकर प्रशासन द्वारा कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। शासन-प्रशासन इस दिशा में तेजी से काम कर रहा है। जिले में अधिक से अधिक चिकित्सीय संसाधन बढ़ाने की दिशा में कार्य हो रहे हैं। जिला अस्पताल के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र और उप स्वास्थ्य केन्द्रों को भी अपग्रेड किया जा रहा है। इसी कड़ी में जिला प्रशासन द्वारा कोरोना की थर्ड वेब से निपटने की तैयारियों का जायजा लेने संभागायुक्त बी. चन्द्रशेखर कटनी पहुंचे। इस दौरान उन्होने जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। साथ ही आवश्यक दिशा-निर्देश अस्पताल प्रबंधन को दिये। कलेकटर प्रियंक मिश्रा और पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी भी विजिट के दौरान मौजूद रहे।
    जिला अस्पताल के निरीक्षण के दौरान सर्वप्रथम संभागायुक्त श्री चन्द्रशेखर ने सिविल सर्जन से मौजूदा व्यवस्थाओं की जानकारी ली। कलेक्टर श्री मिश्रा ने उन्हें थर्ड वेब से निपटने के लिये स्थापित किये गये बच्चों के काविड वॉर्ड और निर्माणाधीन आईसीयू की जानकारी ली। अपने विजिट की शुरुआत संभागायुक्त ने निर्माणाधीन आईसीयू से की। उन्होने कहा कि सुव्यवस्थित कार्ययोजना के साथ ही आईसीयू का निर्माण करायें। किसी भी तरह की कोई कमी ना रहे।
    इसके बाद संभागायुक्त ने बच्चों के लिये स्थापित किये गये कोविड वॉर्ड का निरीक्षण किया। जहां की व्यवस्थायें उन्होने देखीं। साथ ही साफ-सफाई बेहतर रखने के निर्देश दिये। बच्चों के लिये स्थापित किये गये कोविड वॉर्ड के प्रसाधन कक्ष की साफ-सफाई दुरुस्त ना होने पर उन्होने नाराजगी जाहिर की और बेहतर साफ-सफाई रखने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि यह कार्य आप आउटसोर्स से करा रहे हैं, तो गुणवत्ता खराब क्यों है। यदि साफ-सफाई बेहतर ढंग से आउटसोर्स एजेन्सी नहीं करती है, तो उसका टेंण्डर निरस्त करें।
    संभागायुक्त बी. चन्द्रशेखर ने जिला अस्पताल में स्थापित हो रहे ऑक्सीजन प्लान्ट के कार्य की प्रगति का जायजा भी लिया। जहां कलेक्टर श्री मिश्रा ने अस्पताल में स्थापित होने वाले विभिन्न क्षमताओं के प्लान्ट्स की जानकारी विस्तार से दी। संभागायुक्त ने सिविल सर्जन को प्लान्ट के साथ-साथ समानांतर रुप से ऑक्सीजन की सप्लाई के लिये लाईन का कार्य कराने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि आप अभी से टेण्डर की प्रक्रिया अपनाकर इस कार्य को सुनिश्चित करायें। ताकि प्लान्ट लगने के बाद उसका लाभ शीघ्र मिल पाये।
    जिला अस्पताल में विद्युत व्यवस्था दुरुस्त रहे, इसके लिये उपलब्ध डीजी सिस्टम की जानकारी भी संभागायुक्त ने ली। उन्होने कहा कि अस्पताल प्रबंधन यह सुनिश्चित करे कि डीजी सिस्टम हमें चालू हालत में हों। ऑक्सीजन प्लान्ट के लिये भी पृथक से डीजी सिस्टम स्थापित करने की प्रक्रिया अभी से सुनिश्चित करने के निर्देश कमिश्नर ने दिये।
    अपने विजिट के दौरान जिला अस्पताल में उपचाररत परिजनों से संवाद भी कमिश्नर श्री चन्द्रशेखर ने किया। उन्होने उनके आने का कारण और उपचाररत मरीजों के बारे में जानकारी ली। दोनों ही मरीजों द्वारा प्रसव के लिये आने की बात बताई गई। इस पर सीएचसी और पीएचसी में किये गये उपचार के विषय में भी उन्होने जाना। साथ ही जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में सीएचसी और पीएचसी को मजबूत करने और अधिक से अधिक प्रसव वहां कराने के निर्देश संभागायुक्त ने दिये।
    जिला अस्पताल में उपचाररत मरीजों के परिजनों को बैठने की बेहतर व्यवस्था हो, यदि लंबा उपचार हो तो रुकने की व्यवस्था हो, इसके लिये व्यवस्थायें बनाने की बात संभागायुक्त ने कही। उन्होने कहा कि जिला अस्पताल में मरीजों के परिजनों के लिये डॉरमेटरी की व्यवस्था के लिये भी कार्य करें।
    इसके साथ ही जिला अस्पताल की अन्य व्यवस्थाओं का जायजा भी संभागायुक्त ने लिया। व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश भी संबंधितों को दिये।
    विजिट के दौरान सीईओ जिला पंचायत जगदीश चन्द्र गोमे, अपर कलेक्टर रोहित सिसोनिया, सहायक कलेक्टर अंजली रमेश, सीएमएचओ डॉ. प्रदीप मुढि़या, सिविल सर्जन डॉ. यशवंत वर्मा, एएससी संदीप मिश्रा, एसडीएम बलबीर रमन सहित अन्य संबंधित अधिकारी भी मौजूद रहे।
 
(14 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
मईजून 2021जुलाई
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
31123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
2829301234
567891011

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer