समाचार
|| कार्यक्रमों के सफल आयोजन पर कलेक्टर ने जताया अधिकारियों-कर्मचारियों का आभार || साहित्यकार व कवि समाज के मार्गदर्शक हैं – विधानसभा अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम || जिले में 12 हजार 887 लोगों को लगाया गया कोविड- 19 का टीका || स्वच्छता कार्यक्रम के तहत कलेक्टर सहित जनसहयोग ने किया नरसिंह मंदिर व नरसिंह तालाब में श्रमदान || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि के लिये की प्रार्थना || आरटीई के तहत नि:शुल्क प्रवेश के लिए संशोधित समय सारणी जारी || डॉ. मिश्रा चिकित्सा जगत के आदर्श और प्रेरक व्यक्तित्व थे : मुख्यमंत्री श्री चौहान || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सप्तपर्णी का पौधा लगाया || मुख्यमंत्री श्री चौहान 21 सितंबर को 103 आंगनबाड़ी भवनों और 10 हजार पोषण वाटिका का लोकार्पण करेंगे || सरकार के खजाने पर पहला हक जनजातियों का : मुख्यमंत्री श्री चौहान
अन्य ख़बरें
कोविड-19 संक्रमण पर प्रभारी नियंत्रण हेतु नये दिशा निर्देश जारी
-
भिण्ड | 16-जुलाई-2021
    म.प्र.शासन गृह विभाग मंत्रालय बल्लभ भवन भोपाल के निर्देशानुसार कोविड-19 संकमण की दर में कमी को दृष्टिगत रखते हुये कोरोना कर्फ्यू के प्रतिबंधों के संबंध में जारी पूर्व आदेशों को अधिकमित करते हुये नये दिशा निर्देश जारी किये गये है।
    कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी डॉ सतीश कुमार एस द्वारा म.प्र.शासन गृह विभाग एवं 15 जुलाई को जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समूह की आयोजित बैठक में लिए गए निर्णय अनुसार भिण्ड जिले की राजस्व सीमा अन्तर्गत दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 में निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए निम्नानुसार आदेश प्रसारित किए गए है।
1. सभी सामाजिक, राजनैतिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक आयोजन/मेले आदि जिनमें जनसमूह एकत्रित होता है, प्रतिबंधित रहेंगे।
2. स्कूल एवं कॉलेज खोले जाने के संबंध में संबंधित विभागों द्वारा पृथक से आदेश जारी किये जा रहे है तत्संबंधी आदेश उक्तानुसार जारी होने तक स्कूल/कॉलेज बंद रहेगे। समस्त कोंचिग संस्थान बंद रहेंगे। ऑनलाईन क्लासेस चल सकेगी। प्रशिक्षण कार्यक्रम हॉल की 50 प्रतिशत क्षमता की सीमा तक संचालित किये जा सकेंगे।
3. समस्त धार्मिक/पूजा स्थल खुल सकेंगे। किन्तु एक समय में 06 से अधिक व्यक्तियों की उपस्थिति नहीं रह सकेगी तथा उपस्थितजनों को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना बंधनकारी होगा।
4. समस्त प्रकार की दुकाने, व्यावसायिक प्रतिष्ठान तथा निजी कार्यालय, शॉपिंग मॉल, जिम अपने नियत समय तक खुल सकेंगे। सिनेमाघर एवं थिएटर कुल क्षमता के 50 प्रतिशत तक की सीमा तक संचालित किये जा सकेंगे। सिनेमाघर संचालक को कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित कराना होगा।
5. समस्त बृहद, मध्यम, लघु एवं सूक्ष्म उघोग अपनी पूर्ण क्षमता पर कार्य कर सकेंगे तथा निर्माण गतिविधियां सतत् चल सकेगी।
6. जिम एवं फिटनेस सेंटर्स 50 प्रतिशत क्षमता पर कोविड प्रोटोकॉल शर्त का पालन करते हुये खुल सकेगे।
7. समस्त खेलकूद के स्टेडियम खुल सकेंगे किंतु खेल आयोजनों में दर्शक शामिल नहीं हो सकेगे।
8. समस्त रेस्टोरेंट एवं क्लब 100 प्रतिशत क्षमता से कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन करते हुये रात्रि 10 बजे तक खुल सकेगे।
9. विवाह/शादी आयोजनों में दोनों पक्षों को मिलाकर अधिकतम 100 लोगों की उपस्थिति की ही अनुमति रहेगी। इस प्रयोजन के लिये आयोजक को संबंधित अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं संबंधित पुलिस थाना को अतिथियों के नाम की सूची आयोजन से पूर्व प्रदाय करना आवश्यक होगी।
10. अंतिम संस्कार में अधिकतम 50 लोगों के सम्मिलित होने की अनुमति रहेगी।
11. रूल ऑफ सिक्स-अनुमत्य गतिविधियों के अलावा किसी भी स्थान पर 06 से अधिक व्यक्तियों के एकत्रित होने पर प्रतिबंध रहेगा।
12. अन्तर्राज्जीय (inter state) तथा राज्यांतरिक (intra state) व्यक्तियों, माल (हववके) एवं सर्विसेज का आवागमन निर्वाध रहेगा।
13. जिला अंतर्गत समस्त नगरीय क्षेत्रों में रात्रि 11 बजे से प्रातः 06 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा।
14. परिशिष्ट-1 में संलग्न कोविड उपयुक्त व्यवहार (ब्वअपक ।चचतवचतपंजम ठमींअपवनत) का पालन समस्त जन को करना अनिवार्य होगा।
    संलग्न परिशिष्ट 01 उक्त आदेश का मूल भाग होगा जिसके अनुसार दिये दिशा निर्देशों पालन करना अनिवार्य होगा। यह आदेश 15 जुलाई 2021 से प्रभावी होकर अन्य आदेश तक लागू रहेगा। आदेश का उल्लंघन करने की दशा में संबंधित के तहत भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 तथा अन्य अधिनियमों के अन्तर्गत दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।
परिशिष्ट-1
कोविड-19 प्रोटोकाल एवं कोविड उपयुक्त व्यवहार/अनुशासन
1. मध्यप्रदेश के व्यक्तियों और वस्तुओं अन्तर राज्य (inter state) एवं राज्यांतरिक (intra state) आवागमन निर्बाध रूप से संचालित होगा। अंतर राज्य मार्गों पर राज्य की सीमा पर प्रवेश कर रहे नागरिकों की थर्मल स्कीनिंग की व्यवस्था की जाना अनिवार्य होगी।
2. दुकानों/प्रतिष्ठानों में गोले बनाकर ग्राहकों के मध्य पर्याप्त दूरी सुनिश्चित कर सोशल डिस्टेसिंग का पालन किया जावे ’’नो मास्क नो सर्विस’’ अर्थात् जिस ग्राहक ने फेस मास्क नहीं पहन रखा होगा तो उसको दुकानदार द्वारा कोई सामान विकय नहीं किया जायेगा। दुकानदार स्वयं भी अनिवार्य रूप से मास्क का उपयोग करेंगे। यदि कोई दुकानदार ’’नो मास्क नो सर्विस’’ प्रोटोकॉल का उल्लघंन करता पाया जाता है, तो दुकान को नियमानुसार सील करने की कार्यवाही की जायेगी।
3. अनुमत्य सामाजिक कार्यक्रमों (जैसे 10 व्यक्तियों की उपस्थिति में शवयात्रा अथवा 50 व्यक्तियों की उपस्थिति में विवाह आयोजन) में सामाजिक दूरी का पालन हो, हैण्डवॉश/सैनिटाइजेशन की व्यवस्था हो तथा सभी शामिल व्यक्ति फेस मास्क लगावें, इसे आयोजक द्वारा सुनिश्चित किया जाना आवश्यक होगा।
4. कोविड उपयुक्त व्यवहार-
4.1 फेस मास्क (Face Mask) फेस मास्क पहनना एक आवश्यक निवारक उपाय है। फेस मास्कपहनने में निम्न का पालन किया जाना चाहिये-
  1. अपना मास्क पहनने से पहले, साथ ही इसे उतारने से पहले और बाद में, और किसी भी समय इसे छूने के बाद अपने हाथों को साफ करें।
  2. सुनिश्चित करें कि यह आपकी नाक, मुंह और ठुड्डी को पूरी तरह से कवर करें।
  3. जब आप किसी मास्क को उतारते हैं, तो उसे साफ प्लॉस्टिक बैग में स्टोर करें। कपड़े का मास्क है, तो उसे प्रतिदिन धो लें और मेडीकल मास्क को कूड़ेदान में फेंक दें।
  4. सभी सार्वजनिक व कार्य स्थलों एवं परिवहन के दौरान फेस मास्क पहनना अनिवार्य होगा। ’’नो मास्क नो मूवमेंट’’ का सख्ती से पालन सुनिश्चित किया जाये।
4.2 सामाजिक दूरी ( Social distancing)-
सामाजिक दूरी बनाये रखने के लिये जहां तक संभव हो प्रत्येक परिवार घर के अंदर ही रहें (Stay at home) एवं अन्य बाहरी व्यक्तियों से मेल-जोल कम रखें (Social distancing) जिससे कोविड संक्रमण को प्रभावी रूप से रोका जा सके। सार्वजनिक स्थानों में प्रत्येक व्यक्ति 6 फिट यानी (’’2 गज की दूरी’’) बनाये रखेगा। भीड-भाड वाली जगहों, विशेषकर बाजारों, साप्ताहिक बाजारों और सार्वजनिक परिवहन में सामाजिक दूरी बनाये रखना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिये महत्वपूर्ण है। कार्यस्थलों के प्रभारी व्यक्तियों द्वारा श्रमिकों/कर्मियों के बीच पर्याप्त दूरी, पारियों को बदलने में पर्याप्त अंतराल तथा लंच ब्रेक में उपयुक्त अंतराल आदि के माध्यम से सामाजिक दूरी को सुनिश्चित किया जाये।
4.3 सभी व्यक्तियों को यह सलाह दी जाती है कि वे किसी ऐसी सतह, जो सार्वजनिक संपर्क में है, को छूने के उपरांत साबुन और पानी से हाथ धोये/सैनिटाइजर का उपयोग करें।
दण्डात्मक निर्देश-
1. दुकानदार/प्रतिष्ठान अपनी दुकान/ प्रतिष्ठान के बाहर सोशल डिस्टेसिंग का पालन सुनिश्चित कराने हेतु गोले बनाना, रस्सी लगाना, सेनेटाईजर एवं मास्क की व्यवस्था तथा कोविड 19 प्रोटोकाल का पालन करना अनिवार्य होगा। प्रथम उल्लंघन करने पर न्यूनतम राशि रू0 1000/-से लेकर अधिकतम राशि रू. 5,000/- जुर्माना वसूलनीय होगा। लगातार उल्लघंन करने पर उल्लघंनकर्ता की दुकान/प्रतिष्ठान को 48 घण्टे की अवधि तक सील्ड किया जावेगा तथा अर्थदण्ड की वसूला जायेगा।
2. सार्वजनिक स्थान व कार्य स्थल पर तथा परिवहन के दौरान कोई भी व्यक्ति बिना मुंह को ढ़के हुये अर्थात् विना मास्क अथवा बिना कपड़ा से ढ़के घर से बाहर नहीं निकलेगा। आवश्यक सेवाओं की पूर्ति हेतु मुंह को मास्क अथवा कपड़े से ढ़कना अनिवार्य होगा। बिना मास्क के पाये जाने से प्रथम उल्लघंन पर राशि रूपये 100/- एवं द्वितीय उल्लंघन पर राशि रूपये 500/- का अर्थदण्ड अधिरोपित किया जायेगा।
3. कोविड-19 संकमण को दृष्टिगत रखते हुये समस्त कार्यालयों/बैंक/हास्पीटल/ न्यायालय परिसर को  zero tolerance zone घोषित किया गया है जिसमें शत प्रतिशत मास्क लगाया जाना तथा ’’No- MASK No- ENTRY’’ अनिवार्य होगा।
4. होम आइशालेशन अथवा कोरोना संक्रमण के दौरान चिकित्सक द्वारा दिये गये परामर्श का उल्लघंन करना इस आदेश का उल्लघंन माना जाकर दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।
 
(66 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2021अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer