समाचार
|| वरदान साबित हो रहा पूर्णा अभियान || आंगनवाड़ी सहायिका का चयन हुआ || आयोडिन एवं कुपोषण की कमी को दूर करेगा डबल फोर्टिफाईड नमक-खाद्य मंत्री श्री सिंह || खाद्य मंत्री श्री सिंह और सहकारिता मंत्री डॉ. भदौरिया ने उच्च स्तरीय बैठक में अन्न उत्सव में अतिथियों की व्यवस्था सहित तैयारियों को दिया अंतिम रूप || “ये शाम मस्तानी’’ का ऑनलाइन आयोजन 4 अगस्त को || मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम में मास्टर ट्रेनर का प्रशिक्षण || अभी तक जिले में 7,99,268 व्यक्तियों ने लगवाया टीका || एक करोड़ से अधिक के भवन के निर्माण कार्य पीडब्ल्यूडी से कराने के निर्देश || नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) मीडिया बुलेटिन || मंत्री श्री पटेल ने केन्द्रीय कृषि मंत्री और मुख्यमंत्री का किया आभार व्यक्त
अन्य ख़बरें
गर्भवती महिलाओं को कोविड टीकाकरण की सुविधा आज से
जिला चिकित्सालय सहित सीएससी पर होगा टीकाकरण
श्योपुर | 22-जुलाई-2021
    गर्भवती महिलाओं का 23 जुलाई 2021 से कोविड-19 टीकाकरण शुभारंभ किया जा रहा है। इस टीकाकरण के संबंध में आज यूनीसेफ के सहयोग से एनएचएम टीकाकरण मप्र भोपाल द्वारा मीडिया कार्यशाला आयोजित की गई। कार्यशाला में बताया कि कोविड-19 के लक्षण जिन गर्भवती महिलाओं में पाए जाते है। उन्हें गंभीर बीमारी होने का खतरा अधिक होता है और भ्रूण पर भी इसका प्रभाव हो सकता है। इसलिए कोविड संक्रमण बीमारी से बचने के लिए गर्भवती महिलाओं को कोविड-19 वैक्सीन लगवाना चाहिए है। कोविड-19 वैक्सीन गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है और यह टीका कोविड-19 बीमारी से बचाता है। यह वैक्सीन कई देशो में गर्भवती महिलाओें में 3-4 महीने पहले ही लगाना प्रारंभ कर दिया है। अभी तक कोई गंभीर समस्या सामने नही आई है। विशेषज्ञों अनुसार गर्भवती महिलाओं को कोविड वैक्सीन लगाना इसलिए और जरूरी है कि प्रजनन उम्र की महिलाओं के गर्भावस्था में कोविड-19 बीमारी से गंभीर लक्षण और मृत्यु होने का खतरा अन्य सामान्य महिलाओं की तुलना में अधिकर बढ जाता है।
   इसी प्रकार टीकाकरण के बाद प्रतिकूल घटना ;एईएफआई) एक चिकित्सीय घटना है। जो कि किसी भी टीकाकण के बाद घटती है। अन्य टीके की तरह कोविड-19 वैक्सीन लगवाने के बाद हल्के दुष्प्रभाव हो सकते है। जैसे कि हल्का बुखार,  इंजेक्शन लगने की जगह पर दर्द या 1-3 दिन तक अस्वस्थ महसूस होना। वैक्सीन लगवाने के बाद 30 मिनिट तक केन्द्र पर रूकना चाहिए। यदि कोई समस्या होती है तो आप तुरंत 104, 108 एवं 1075 पर कॉल कर चिकित्सक को दिखाएं।
   टीकाकरण के बाद गर्भवती महिलाओं को और उसके परिवार को सदस्यों को सलाह दी है  कोविड-19 उपयुक्त व्यवहारों का पालन करना चाहिए। जैसे मास्क लगाना, हाथों को साबुन और पानी से अच्छी तरह औय नियमित रूप से धोना, शारीरिक दो गज की दूरी बनाए रखना और भीड-भाड वाली जगहों पर ना जाना। गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण 23 जुलाई 2021 से जिला अस्पताल सहित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र विजयपुर, बडौदा व कराहल में किया जावेगा। गंभीर ग्रसित बीमारी, हाई एलर्जिक, उच्च रक्तचाप को छोडकर गर्भवती महिलाऐं टीकाकरण केन्द्र पर जाकर अपना कोविड वैक्सीन लगवायें।
 
(12 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जुलाईअगस्त 2021सितम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2627282930311
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
303112345

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer