समाचार
|| मध्यप्रदेश वृक्षारोपण प्रोत्साहन विधेयक-2021, स्टेक होल्डर्स एक महीने में अपने सुझाव प्रस्तुत कर सकेंगे || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रोपा नारियल का पौधा || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने शहीद उधम सिंह की पुण्य-तिथि पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने साहित्यकार मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर किए श्रद्धा सुमन अर्पित || दाल भंडारण की अधिकतम सीमा निर्धारित || कोरोना वालंटियर कर रहे है वैक्सीनेशन में सहयोग || दिव्यांगों को वे सारी सुविधाएँ देंगे, जिससे वे सामान्य व्यक्ति की तरह जीवन जी सकें || टीकाकरण महाअभियान के तहत 28482 लोगों ने लगवाया कोविड टीका || विद्यार्थियों के लिए अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य दोनों महत्वपूर्ण - मुख्यमंत्री श्री चौहान || देश को मौजूदा परिपाटियों से आगे बढ़ाने के हो प्रयास हमारी मूल क्षमताओं का हो सर्वश्रेष्ठ उपयोग - श्री पटेल
अन्य ख़बरें
कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के दृष्टिगत गंभीरता से सैंपल चेकिंग की जाएं, स्वास्थ्य संस्थाओं में उपचार के ठोस प्रबंध सुनिश्चित करें
जिले के प्रभारी मंत्री ने संकट प्रबंधन समूह की बैठक में दिए निर्देश
रतलाम | 22-जुलाई-2021
    जिला संकट प्रबंधन समूह की बैठक जिले के प्रभारी मंत्री श्री ओपीएस भदौरिया की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में गुरुवार को संपन्न हुई। प्रभारी मंत्री ने निर्देश दिए कि कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के दृष्टिगत सैंपल चेकिंग गंभीरता के साथ सतत रूप से की जाए। जिले के सीमावर्ती क्षेत्रों में खासतौर पर रेंडम चेकिंग करते रहें, इसके उपचार हेतु जिले की स्वास्थ्य संस्थाओं में नियोजित ढंग से प्रबंध सुनिश्चित करें।
   बैठक में सांसद श्री गुमानसिंह डामोर, विधायक श्री चैतन्य काश्यप, विधायक श्री दिलीप मकवाना, विधायक डॉ. राजेंद्र पांडे, विधायक श्री मनोज चावला, विधायक श्री हर्षविजय गहलोत, जिला पंचायत प्रधान श्री परमेश मईडा, सांसद प्रतिनिधि श्री प्रदीप चौधरी, कलेक्टर श्री कुमार पुरुषोत्तम, पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती मीनाक्षीसिंह, अपर कलेक्टर श्रीमती जमुना भिड़े, सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर ननावरे, मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. जितेंद्र गुप्ता आदि उपस्थित थे।
   बैठक में प्रभारी मंत्री श्री भदोरिया ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण निबटने के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा अल्प समय में सुनियोजित ढंग से प्रबंध किए गए और कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण हुआ। यदि तीसरी लहर आती है तो रतलाम जिले में उससे निबटने के लिए पूर्व से ही पर्याप्त संख्या में संसाधन उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी। प्रभारी मंत्री ने जिला बाल चिकित्सालय को कोविड उपचार के लिए अपडेट रखने के निर्देश दिए।
   बैठक में बताया गया कि रतलाम जिले में कोविड-उपचार प्रबंधन की दिशा में ठोस कार्य करते हुए सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर कार्यरत 25 सेक्टर मेडिकल ऑफिसर को प्रशिक्षित किया गया है। इसके अलावा मैदानी कार्यकर्ताओं जैसे एएनएम, आशा तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को भी प्रशिक्षित किया जा रहा है। नवनियुक्त नर्सिंग स्टाफ को कोविड-केयर संबंधी प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। शासकीय मेडिकल कॉलेज में 114 नवनियुक्त नर्सिंग स्टाफ को आईसीयू कोविड- एचडीयू कोविड-आइसोलेशन में मरीजों के प्रबंधन तथा देखभाल के लिए प्रशिक्षित किया गया है। जिला चिकित्सालय तथा बाल चिकित्सालय के समस्त पैरामेडिकल स्टाफ को बच्चों में कोविड-उपचार आईवी फ्लूड ऑक्सीजन देने के साधनों एवं निमोनिया के उपचार हेतु प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
   बताया गया कि जिले के प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर बच्चों के लिए 5-5 बिस्तर इलाज के लिए आरक्षित किए गए हैं, 2-2 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपलब्ध कराए गए हैं। प्रत्येक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर एवं सिविल अस्पताल जावरा तथा आलोट में सेंट्रलाइज्ड ऑक्सीजन की व्यवस्था बनाकर 20-20 बेल्ट लगाए गए हैं। इसके अलावा और शिवगढ़, सरवन, रावटी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में 10-10 बेड की व्यवस्था की गई है। मेडिकल कॉलेज में 30 बिस्तरी पीआईसीयू एवं एनआईसीयू का निर्माण किया गया है। जिला चिकित्सालय में 20 बिस्तरी पीआइसी यूनिट का निर्माण किया गया है। बाल चिकित्सालय में ऑक्सीजनयुक्त 70 बिस्तरी वार्ड बनाया जा रहा है जिसका कार्य प्रगति पर है जो आगामी 15 दिवस में पूरा कर लिया जाएगा। मरीजों विशेषकर बच्चों के अटेंडेंट के रुकने के लिए मेडिकल कॉलेज परिसर में व्यवस्था बनाई गई है।
   बैठक में सांसद श्री गुमानसिंह डामोर ने कहा कि आगामी स्वतंत्रता दिवस पर मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. जितेंद्र गुप्ता को विशेष रूप से सम्मानित किया जाए क्योंकि उनके द्वारा कोरोना काल में दिन-रात समर्पित ढंग से कार्य किया गया है। विधायक श्री चेतन्य काश्यप ने कहा कि चिकित्सा संस्थाओं में उपलब्ध कराए गए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनों को चलाएमान रखने के लिए प्रत्येक 6 माह में ऑपरेट किया जाए ताकि वह खराब नहीं हो। श्री गोविंद काकानी ने डेंगू रोग के संबंध में जानकारी दी। रोग से बचाव के लिए प्रभारी मंत्री द्वारा निर्देशित किया गया कि कील कोरोना सर्वे टीम अपने भ्रमण के दौरान डेंगू रोग के उपचार तथा प्रबंधन का कार्य करें। स्कूल कक्षाओं के संचालन के संबंध में बताया गया कि शासन के निर्देशानुसार कार्रवाई की जाएगी।

 
(9 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
जूनजुलाई 2021अगस्त
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
2829301234
567891011
12131415161718
19202122232425
2627282930311
2345678

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer