समाचार
|| मध्यप्रदेश ने वैक्सीनेशन में फिर बनाया नया कीर्तिमान || जनकल्याण और सुराज अन्तर्गत कार्यक्रमों का आयोजन || अमानक पाये जाने पर 9 उर्वरक का विक्रय एवं परिवहन प्रतिबंधित || जिलें में 1302.1 मि.मी. औषत वर्षा || वेक्सीनेशन महा अभियान 3.0 महामारी से लड़ने जंग दिखा उत्साह - 17 सितम्बर को वेक्सीनेशन महा-अभियान 3 के तहत को निर्धारित लक्ष्य से अधिक हुआ वेक्सीनेशन || विधानसभा अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम ने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना 2.0 का किया शुभारंभ || जो दिव्यांग या वृद्धजन टीकाकरण केंद्र नहीं आ सकते उन्हें घर जाकर टीका लगाया जाए- मुख्यमंत्री श्री चौहान || उज्ज्वला योजना 2.0 के तहत नगर निगम ऑडिटोरियम में आयोजित हुआ जिलास्तरीय कार्यक्रम || 20 सितंबर को दिव्यांग मेडिकल बोर्ड स्थगित रहेगा || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा 26 सितंबर तक सभी पात्र व्यक्तियों को लगे वैक्सीन
अन्य ख़बरें
राष्ट्रीय शिक्षा नीति क्रियान्वयन कार्य समय-सीमा में हो
सभी विश्वविद्यालय कोविड सेल बनाए: राज्यपाल श्री पटेल, राज्यपाल ने विश्वविद्यालयों के संबंध में प्राप्त की जानकारी
उमरिया | 31-जुलाई-2021
   राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने सभी विश्वविद्यालयों में कोविड सेल बनाने के निर्देश दिए है। उन्होंने समस्त कुलपतियों को विश्वविद्यालय परिसर में स्थित आवास में रहने के निर्देश भी दिए है। उन्होंने कहा है कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 को लागू करने संबंधी कार्यों को समय-सीमा में पूर्ण किया जाए। प्रभावी क्रियान्वयन के लिए निरंतर मानीटरिंग की व्यवस्था भी की जाए। राज्यपाल ने आज राजभवन में बी.आर. अम्बेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय महू, मध्यप्रदेश भोज मुक्त विश्वविद्यालय भोपाल, पं. एस.एन. शुक्ल विश्वविद्यालय शहडोल और अटल बिहारी वाजपेयी हिन्दी विश्वविद्यालय भोपाल के कुलपतियों के साथ विश्वविद्यालय की गतिविधियों के संबंध में जानकारी प्राप्त करने के दौरान निर्देश दिए।
    राज्यपाल श्री मंगुभाई पटेल ने कहा है कि विशेषज्ञ कोविड की तीसरी लहर की आशंका बता रहे है। ईश्वर से प्रार्थना है कि तीसरी लहर नहीं आए। लेकिन सावधानी में कोई कमी नहीं होना चाहिए। कोविड सेल द्वारा स्थिति की निरंतर निगरानी की जाए और आवश्यक तैयारियाँ कर ली जाए। ऐसा करने से तीसरी लहर का सामना करने के लिए व्यवस्थाओं के क्रियान्वयन में समस्याएँ नहीं आएगी। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय डिजिटल प्लेटफॉर्म का भरपूर उपयोग करे। आवश्यकता होने पर तकनीकी विशेषज्ञों का मार्गदर्शन और विशेषज्ञ सेवाएँ भी प्राप्त की जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि कुलपतियों को विश्वविद्यालय परिसर स्थित आवास में ही रहना चाहिए, इससे परिसर की व्यवस्थाओं की नियमित निगरानी भी होती रहेगी। उन्होंने कहा कि कुलपति विश्वविद्यालय और समाज के प्रेरणा के केन्द्र होते हैं, उनका कार्य व्यवहार आदर्श और पारदर्शी होना चाहिए।
    राज्यपाल श्री पटेल ने कहा कि बच्चें देश के भविष्य के नागरिक हैं। उन्हें पुस्तकीय ज्ञान पर निर्भर नहीं बनाया जाए। उन्हें सामाजिक दायित्वों के प्रति भी सजग किया जाए। विश्वविद्यालय के प्राध्यापक को सामाजिक सरोकारों के संस्कार विद्यार्थियों में अपने अनुभवों और अपने व्यवहार से प्रवाहित किए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि शिक्षित व्यक्ति से पहले परिवार फिर समाज और इसी क्रम से प्रदेश देश शिक्षित होते हैं। अतः छात्रों को शिक्षा अर्जित कर सामाजिक उत्थान के प्रयासों में योगदान की प्रेरणा भी देनी चाहिए। उन्होंने कुलपतियों को निर्देशित किया कि विश्वविद्यालय द्वारा जो भी पाठ्यक्रम, विषय, डिप्लोमा और प्रमाण-पत्र के कोर्स चलाये जा रहे हैं, उनमें छात्रों की अभिरूचि का भी अध्ययन किया जाए। यह जानकारी नियमित आधार पर संचालित की जाए। इससे छात्रों की अपेक्षाओं के अनुरूप कोर्स संचालित किये जा सकेंगे। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय द्वारा जो भी नए कोर्स शुरू किए जाए। उनकी व्यवसायिक  उपयोगिता, शोध, अनुसंधान के क्षेत्र में भविष्य और व्यवहारिक महत्ता आदि के संबंध में जानकारियों का व्यापक स्तर पर प्रचार किया जाए ताकि विद्यार्थी को विषय का चयन अपनी आवश्यकताओं के अनुसार करने में सुविधा हो।
   बैठक में विश्वविद्यालयों के कुलपतियों ने विश्वविद्यालय की प्रशासनिक संरचना, शैक्षणिक गतिविधियों के संबंध में प्रस्तुतिकरण दिया। इस अवसर पर प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा श्री अनुपम राजन, राज्यपाल के प्रमुख सचिव श्री डी.पी. आहूजा सहित राजभवन के  वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
(49 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2021अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer