समाचार
|| चंद्रकांत मेहरा की आर्थिक कठिनाई दूर हुई “खुशियों की दास्तां” || मुख्यमंत्री श्री चौहान को "नर्मदा परिक्रमा एक अंतर्यात्रा" पुस्तक भेंट की || मुख्यमंत्री श्री चौहान 1000 करोड़ की लागत के 73 कार्यों का करेंगे लोकार्पण || मध्यप्रदेश की धरती पर हर गरीब परिवार के पास होगा अपना आवास: मुख्यमंत्री श्री चौहान || बोरगांव बुजुर्ग को नगर पंचायत बनाया जायेगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान || जमीनी क्रियान्वयन के आधार पर हों, योजनाओं की समीक्षा : राज्यपाल श्री पटेल || मुख्यमंत्री श्री चौहान की अध्यक्षता में मंत्रि-परिषद की बैठक || रूरबन मिशन की बैठक सम्पन्न || नगरपालिका झाबुआ की ऐतिहासिक उपलब्धि कलेक्टर के प्रयास से मुआवजे की राशि 2.70 करोड़ प्राप्त || ऑक्सीजन प्लांट का निरीक्षण करने कलेक्टर पहुंचे
अन्य ख़बरें
नागरिकों की समस्याओं का समय सीमा में हो ‍निराकरण
-
इन्दौर | 04-अगस्त-2021
   सीएम हेल्प लाईन, मेयर हेल्प लाईन, इंदौर 311 एप की लंबित शिकायतो, बारिश के गडढो की जानकारी, जल जमाव के स्थानो की जानकारी, वर्षाकाल से संबंधित कार्य, राजस्व विभाग, पीएम स्वनिधि, अस्थाई पात्रता पर्ची वितरण, निगम परिसम्पतियों का चिंहाकन, सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज, यातायात विभाग के प्रस्तावित कार्यो के साथ ही विभागीय महत्वपूर्ण एवं प्राथमिकता के कार्यो की सीटी बस आफिस स्थित सभागृह में समीक्षा बैठक ली गई।  बैठक में समस्त अपर आयुक्त, समस्त उपायुक्त, समस्त अधीक्षण यंत्री, कार्यपालन यंत्री, समस्त झोनल अधिकारी व अन्य विभागीय अधिकारी व विभाग प्रमुख उपस्थित थे।
      नगर निगम आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल ने बैठक में सीएम हेल्प लाईन, मेयर हेल्प लाईन व इंदौर 311 मोबाईल एप पर लंबित प्रकरणो की झोनवार समीक्षा की। समीक्षा के दौरान सीएम हेल्प लाईन, मेयर हेल्प लाईन व इंदौर 311 मोबाईल एप में लंबित शिकायत किस लेवल पर पहुंच गई है और ऐसे कौन से विभाग है जहां पर लगातार शिकायते आ रही है उस संबंध में झोनल अधिकारियो से जानकारी ली। साथ ही कहा गया कि क्यो शिकायते लंबित होती है और उनका निराकरण समय सीमा में क्यो नही होता है, साथ ही जलप्रदाय से संबंधित अधिक शिकायते होने पर आयुक्त द्वारा कार्यपालन यंत्री श्री श्रीवास्तव को लंबित शिकायतो का समय पर निराकरण करने के निर्देश दिये गये। समस्त झोनल अधिकारी को पीएचई से संबंधित शिकायते के निराकरण के संबंध में पीएचई विभाग में जाकर शिकायतो को नोट कराकर 7 दिवस में निराकरण करने के निर्देश दिये गये।
      सुश्री पाल ने कहा कि सीएम हेल्प लाईन, मेयर हेल्प लाईन व इंदौर 311 मोबाईल एप में प्राप्त होने वाली शिकायते के सबंध में कहा कि ऐसे विभाग व ऐसे स्थान जहां से लगातार शिकायते प्राप्त हो रही है, ऐसी समस्याओ का अध्ययन करे और आयडेंटीफाय करे कर समस्या का निपटान समय सीमा में करने के निर्देश दिये गये। विद्युत विभाग व भवन अनुज्ञा शाखा से संबंधित शिकायतो का केटेगिरी बनाकर निपटान करे।  आयुक्त ने समस्त झोनल अधिकारियो व विभाग प्रमुख को निर्देश दिये कि प्रतिदिन कार्यालय में प्रातःकाल में लंबित शिकायतो के निपटान के संबंध में समीक्षा करे।

झोनल कार्यालय पर आने वाले नागरिको की समस्या का निपटान करे
      आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल ने समस्त झोनल अधिकारियो को निर्देशित किया कि नागरिको की मूलभूत समस्याओ का निपटान झोनल कार्यालयो पर किया जाता है, जिसके तहत नागरिकगण अपनी समस्या लेकर झोन कार्यालय पर आते है, तो उनकी समस्याओ का निपटान करना भी आपका दायित्व है, नागरिको की समस्या का निपटान समय सीमा में किया जावे ताकि नागरिकगण झोनल कार्यालय से संतुष्ठ होकर जाऐ। झोनल कार्यालयो पर दी जा रही सर्विस को और बेहतर बनाने के लिये भी झोनल अधिकारियो को निर्देशित किया गया, साथ ही पेयजल, गंदे पानी की शिकायत, लाईट व्यवस्था व अन्य मूलभूत सुविधाओ की समस्या का निपटान झोनल अधिकारियो को अपने स्तर पर करने के भी निर्देश दिये गये।  
      आयुक्त सुश्री पाल द्वारा बारिश के गढढो की जानकारी व जल जमाव के स्थानो, स्ट्रॉम वॉटर लाईन के संबंध में भी विस्तार से समीक्षा करते हुए, समस्त झोनल अधिकारियो को अपने-अपने झोन क्षेत्रो में जल जमाव वाले क्षेत्रो व बारिश के दौरान हुए गडढो को समतल करने संबंध में कार्य के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।  इसके पश्चात आयुक्त द्वारा राजस्व, जलकर, मार्केट, लीज, टेªड लायसेंस, बल्क जलकर, ठोस अपशिष्ट संग्रहण, बल्क कचरा संग्रहण, यातायात वसूली, मार्केट किराया, लायसेंस फीस की भी समीक्षा करते हुए, संबंधित अधिकारियो को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।
पीएम स्वनिधि योजना के तहत 30 अगस्त तक समस्त आवेदन पत्रों का हो निराकरण
      आयुक्त सुश्री पाल द्वारा शासन की जनकल्याणकारी योजनाओ का अधिक से अधिक से पात्र हितग्राहियो को लाभ प्राप्त हो इस हेतु प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत पथकर विके्रताओ को रूपये 10 हजार एवं 20 हजार रूपये के ऋण प्रकरणो एवं खाद्य पात्रता पर्ची के तहत अस्थाई पात्रता पर्चियों का वितरण तथा अस्थाई से स्थाई पर्चियो का वितरण के संबंध में झोनवार समीक्षा की गई। आयुक्त ने समस्त झोनल अधिकारियो को निर्देशित किया कि वह अपने झोन कार्यालय के शहरी गरीबी उपशमन प्रकोष्ठ का प्रतिदिन मॉनिटरिंग करते हुए, हितग्राहियो की समस्या का निदान करे। इसके साथ ही झोनल अधिकारी शहरी गरीबी उपशमन विभाग से संबंधित लंबित शिकातयो का समय पर निपटान करे। साथ ही अपने झोन क्षेत्र में पथकर विक्रेताओ को लोन वितरण व खाद्यान्न पात्रता पर्चीयों का वितरण भी समय सीमा में पुर्ण करे।
      आयुक्त ने कहा कि समस्त झोनल कार्यालय को पीएम स्वनिधि योजना के तहत पात्र हितग्राहियो को योजना का लाभ प्राप्त हो सके इस हेतु लक्ष्य दिये दिये गये है, साथ ही पथकर विके्रताओ को योजना का लाभ प्राप्त हो सके इस हेतु निगम द्वारा बाजारो व फुटपाथो पर जाकर पंजीयन किया जाकर योजना का लाभ दिया जा रहा है। साथ ही पथकर विके्रताओ का पंजीयन उपरांत पोर्टल पर जानकारी को अपलोड किया जाना भी आवश्यक है इस हेतु नये व पुराने प्रकरणो का समस्य सीमा में निपटान कर योजना का लाभ पात्र हितग्राहियो को देवे, किसी भी परिस्थिति में दिनांक 30 अगस्त के पूर्व लंबित आवेदन पत्रो का निपटान करे। साथ ही अस्थाई पात्रता पर्ची को स्थाई पर्ची में बदलने हेतु आवश्यक दस्तावेज प्राप्त कर करे और जिनकी खाद्यान्न पर्ची जनरेट हो गई है उन्हे जल्द से जल्द वितरण करे।  

भंवरकुआ व नवलखा चौराहे का चौडीकरण कार्य करे जल्द पूर्ण
      आयुक्त सुश्री पाल द्वारा भंवरकुंआ व नवलखा चैराहे के चैडीकरण कार्य के संबंध में भी संबंधित अधिकारियो को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। आयुक्त द्वारा चैराहे के चैडीकरण में बाधक को संबंधित विभाग व अधिकारियों से समन्वय कर उपयुक्त स्थान का चयन कर अन्यंत्र स्थान पर शिफिटंग करने के भी निर्देश दिये गये।

निगम परिसंपतियों का चिंहाकन व अभिलेख का संधारण कार्य शीघ्र करे पूर्ण
      आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल द्वारा निगम की परिसम्पतियों का चिंहाकन कर अभिलेखो का संधारण कार्य समय सीमा में पूर्ण करने के अपर आयुक्त श्री अभय राजनगांवकर को निर्देश दिये। इस पर अपर आयुक्त श्री राजनगांवकर द्वारा निगम की परिसम्पतियों जिनमें शहर में स्थित उद्यान, पार्क, भूमि, भवन, भूखण्ड, कब्रस्तान, मुक्तिधाम, सुलभ शौचालय व स्नानागार, युरिनल, पेयजल टंकी, निगम स्वामित्व की दुकाने, व अन्य की वर्तमान स्थिति, क्षेत्रफल व उपयोग के संबंध में आयुक्त महोदय को अवगत कराया गया। साथ ही आयुक्त महोदय द्वारा समस्त झोनल अधिकारियो को आगामी 1 माह में अपने झोन क्षेत्र में स्थित निगम परिसम्पतियों का रिकॉर्ड रजिस्टर में तैयार कर संपदा अधिकारी को प्रेषित करने एवं आवश्यक डाटा संग्रहित कर संपति का चिंहाकन करने के भी निर्देश दिये गये।
      इसके साथ ही आयुक्त सुश्री पाल द्वारा स्वच्छता सर्वेक्षण के अंतर्गत सफाई मित्र सुरक्षा चैलेंज प्रोटोकॉल हेतु ड्रेनेज व सीवरेज से संबंधित कर्मचारियो के साथ-साथ इनफॉरमल सेक्टर में कार्य करने वाले डेªनेज व सीवरेज कर्मचारियो के परिवारो के उत्थान हेतु राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त विकास संस्थान से ऋण उपलब्ध कराने की भी समीक्षा करते हुए, सफाई मित्रो के परिवारजन द्वारा लिये जा रहे ऋण के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई एवं लोन प्रकरण हेतु पात्र आवेदको का ऋण उपलब्ध कराने के लिये भी समस्त झोनल अधिकारियो को दिशा-निर्देश दिये गये।
 
(49 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2021अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer