समाचार
|| मिलावट से मुक्ति अभियान के अंतर्गत विभिन्न प्रतिष्ठानों का निरीक्षण कर जांच हेतु लिये गये खाद्य पदार्थों के नमूने || अभी तक जिले में टीके के 20,86,896 डोज लगे || नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) मीडिया बुलेटिन || कलेक्टर ने राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम की समीक्षा की || किसानों को सिंचाई के लिए बिजली की कमी नहीं आने देंगे: मुख्यमंत्री श्री चौहान || अवैध मदिरा के विरुद्ध कटनी क्षेत्र में आबकारी विभाग की कार्रवाई || कटनी जिले के विभिन्न गाँव व स्थानों में चल रहा है “स्वच्छ भारत” कार्यक्रम || चड्डा कॉलेज कटनी में स्थापित लीगल एड क्लीनिक में आजादी का अमृत महोत्सव अंतर्गत आयोजित हुआ जागरूकता शिविर || कोरोना की सैंपलिंग इन स्थानों पर होगी आज || दीपावली दौज पर माँ रतनगढ़ पर आयोजित मेले में की जाने वाली व्यवस्थाओं के संबंध में अधिकारियों को दिए निर्देश
अन्य ख़बरें
राष्ट्रीय नेत्रदान पखवाड़ा 8 सितम्बर तक
पिछले 5 वर्षों में कुल 1935 संकल्प-पत्र भरवाये गये
उज्जैन | 05-सितम्बर-2021
      राष्ट्रीय नेत्रदान पखवाड़ा 25 अगस्त से 8 सितम्बर तक प्रतिवर्ष मनाया जाता है। इसके अंतर्गत गाँधी चिकित्सा महाविद्यालय के नेत्र रोग विभाग द्वारा लोगों में नेत्रदान के प्रति जागरूकता लाने विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं।
    चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग ने बताया कि चिकित्सालय में विभिन्न स्थानों आकस्मिक चिकित्सा एवं ट्रॉमा ब्लॉक तथा सर्जरी, मेडिसिन, बाह्य रोग विभाग एवं कमला नेहरू अस्पताल परिसर में नेत्रदान के लिये संकल्प-पत्र भरवाये गये। पिछले 5 वर्षों में कुल 1935 संकल्प-पत्र भरवाये गये। इस अवधि में नेत्र रोग विभाग को कुल 121 नेत्रदान हुए। भोपाल सहित आसपास की जगहों से भी नेत्र प्राप्त हुए हैं। इनमें से 59 नेत्रों का प्रत्यारोपण हुआ। इस वर्ष भी 250 संकल्प-पत्र भरवाने का लक्ष्य है।
    विभाग द्वारा पैरामेडिकल, स्नातक एवं स्नातकोत्तर विद्यार्थियों को नेत्रदान/अंगदान के संबंध में व्यायान दिया जा रहा है। स्नातकोत्तर विद्यार्थियों में नेत्रदान की जानकारी से संबंधित क्विज भी आयोजित की जा रही है। स्नातक एवं स्नातकोत्तर विद्यार्थियों में स्लोगन एवं पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है।
    विगत वर्षों में स्कूलों में नेत्र परीक्षण का आयोजन कर लोगों में नेत्रदान के प्रति जागरूकता लाई गई। इस वर्ष कोविड महामारी के कारण यह आयोजन नहीं हो सका। सभी स्नातकोत्तर विद्यार्थियों द्वारा अस्पतालों में नुक्कड़ नाटक का आयोजन कर लोगों में नेत्रदान के प्रति जागरूकता लाई गई।
    सोशल मीडिया एप, व्हाट्स एप और फेसबुक का उपयोग भी जागरूकता के लिये किया गया। रेडियो, समाचार-पत्र एवं दूरदर्शन/टी.वी. के माध्यम से जागरूकता फैलाने के लिये कार्यक्रम किये गये। प्रति वर्ष नेत्र रोग विभाग में नेत्रदान पखवाड़ा का समापन समारोह नेत्र-दाताओं के सम्मान में आयोजित किया जाता है। इसमें नेत्रदानकर्ताओं के परिजनों को सम्मानित किया जाता है। स्नातकोत्तर विद्यार्थियों को नेत्रों के अभिसरण, कॉर्नियल रिम की तैयारी, उसका संरक्षण तथा उसकी श्रेणी निर्धारण एवं ऊतक निष्पादन इन सबके व्यक्तिगत परीक्षण की जानकारी दी गई।
 
(49 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer