समाचार
|| गाँव के विकास के लिए हर कदम आपके साथ : गृह मंत्री डॉ. मिश्रा || "घुमन्तू समुदाय वाचिक परम्पराएँ" विषय पर तीन दिवसीय संगोष्ठी 19 अक्टूबर से || प्रथम हॉकी इंडिया जूनियर बालक इंटर अकादमी नेशनल हॉकी चैंपियनशिप-2021 || स्व-सहायता समूह की महिलाओं में स्व-रोजगार के प्रति बढ़ता जुनून || राष्ट्रीय चैंपियनशिप में सैलिंग खिलाड़ियों ने 8 पदक जीते || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वरिष्ठ पत्रकार श्री चंद्रभान सक्सेना के निधन पर शोक व्यक्त किया || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नारियल का पौधा रोपा || राज्यपाल श्री पटेल ने हलाली डेम का किया भ्रमण || मतदाता जागरूकता हेतु स्वीप गतिविधियों का हो रहा आयोजन || लोकसभा उप निर्वाचन के लिए मतगणना 2 नवम्बर को सम्पन्न होगी
अन्य ख़बरें
जहां-जहां फसल सर्वे हो चुका है, वहां-वहां मुआवजा राशि का भुगतान करायें - कमिश्नर श्री सक्सेना
-
मुरैना | 06-सितम्बर-2021
चंबल संभाग के कमिश्नर श्री अशीष सक्सेना ने ग्वालियर एवं चंबल संभाग के जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, एडीशनल कलेक्टरों एवं बाढ़ प्रभारी अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि बाढ़ से हुई फसल नुकसानी का जहां जहां सर्वे हो गया है। वहां के किसानों ने मुआवजा राशि दिलाने के प्रकरणों में तत्काल भुगतान सुनिश्चित करें। जहां-जहां सर्वे कार्य चल रहा है, उन ग्रामों में पूरी तत्परता, ईमानदारी के साथ सर्वे हो जाये। समीक्षा के दौरान श्योपुर जिला पंचायत के सीईओ ने कहा कि 15 सितंबर तक सर्वे कार्य कर लिया जायेगा। मुरैना जिला पंचायत सीईओ श्री रोशन सिंह ने बताया कि अगले दो दिवस के अंदर सर्वे कार्य पूरा हो जायेगा। भिंड जिला सीईओ ने कहा कि अगले दिवस तक सर्वे कार्य हो जायेगा।          
    ग्वालियर चंबल संभाग कमिश्नर श्री सक्सेना आज वर्चुअल बैठक के दौरान साप्ताहिक जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों की संभागीय बैठक को संबोधित कर रहे थे।    
    चंबल कमिश्नर ने बाढ़ राहत संबंधी प्रकरणों की समीक्षा करते हुये कहा है कि जिन लोगों को राजस्व परिपत्र अधिनियम 6(4) के तहत राहत राशि दी गई है, उन परिवारों के कच्चे, मक्के और झोंपड़े नष्ट हुये है, उन्हें नियमानुसार राहत राशि का भुगतान किया जाये। जहां-जहां दिक्कत आ रही है। उसका क्लियरेंस लेकर भुगतान की कार्यवाही करें। जहां सिंगल मकान है, वहां वैल्यूयेशन कम न करें। 
    चंबल कमिश्नर श्री सक्सेना ने कोविड वैक्सीन की समीक्षा करते हुये कहा कि घर-घर सर्वे के दौरान जहां वैक्सीनेशन नहीं हुआ है, वहां प्राथमिकता के साथ वैक्सीनेशन करें। अगर इसी को प्रतिदिन का लक्ष्य मानकर चले तो ठीक होगा। वर्तमान में वैक्सीनेशन का जो लक्ष्य दिया जा रहा है, उनकी पूर्ति कहीं नहीं हो रही है।  
    संयुक्त संचालक हेल्थ की शिकायत पर कमिश्नर ने सभी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देश दिये   कि एक व्यक्ति की डबल जांच नहीं होना चाहिये। शिकायत यह आ रही है कि एक ही व्यक्ति की आर.टी.पी.सी.आर और रेट दोनों जांच हो रही है। यह नहीं होना चाहिये। कमिश्नर ने फर्जी जांच के सैंपल भेजने की जांच कराने जहां-जहां एक ही व्यक्ति की डबल कोविड जांच की शिकायत आई है, वहां पर जांच दल गठित कराकर जांच कराने के निर्देश दिये। कमिश्नर ने कहा कि घर-घर सर्वे के दौरान अगर कोई मौसमी बीमारी से पीडि़त पाया जाता है तो उसके उपचार की भी तत्काल व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। मलेरिया, डेंगू की रोकथाम के लिये प्रभावी कदम उठाये जायें।
(42 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer