समाचार
|| दीपावली के पूर्व 2.51 लाख आवासहीन परिवारों को मिलेगी अपने आवास की सौगात || किसान संतुलित उर्वरक का उपयोग करें || शुद्धिकरण पखवाड़ा संबंधी बैठक 16 अक्टूबर को || भव्य आतिशबाजी के साथ हुआ रावण दहन || पुलिस लाईन में कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने किया शस्त्र पूजन || अतिथि व्याख्याताओं के चयन हेतु 18 तक आवेदन आमंत्रित || कलेक्टर-एसपी ने देर रात शहर का भ्रमण कर लिया व्यवस्थाओं का जायजा || बरम खेड़ी के मूक बधिर छात्रावास का संचालन सोसायटी स्वयं के खर्च पर करने की इजाजत || शिविर में लैंगिक समानता,कन्या भ्रूण हत्या के बारे में लोगो को दी गई जानकारी || बाढ़ आपदा प्रबंधन के कार्य में कर्मचारियों की लगाई गई ड्यूटी से किया गया भार मुक्त
अन्य ख़बरें
हर गर्भवती की जान बहुमूल्‍य है आवश्‍यक सुधार की कार्यवाही सुनिश्चित करें
कोविड-19 व्है‍क्सीनेशन एवं सेपलिंग में लापरवाही कतई बर्दास्त नहीं की जायेगी -कलेक्टर श्री चैतन्य, संवदेनशील क्षेत्रों में डेंगू से बचाव हेतु सभी ऐहतियातन, गतिविधियां कराना सुनिश्चित की जायें, स्वास्थ्य एवं महिला बाल विकास की संयुक्त बैठक संपन्न दिये गये अह्म दिशा निर्देश
दमोह | 09-सितम्बर-2021
   कोविड-19 व्‍हैक्‍सीनेशन एवं सेपलिंग में लापरवाही कतई बर्दास्‍त नहीं की जायेगी, ग्रामवार टीकाकरण से वंचित लोगों की जानकारी प्राप्‍त कर बेहतर प्‍लानिंग के साथ आवंटित व्‍हैक्‍सीन डोज की खपत उसी दिन सीबीएमओ करायें। हर गर्भवती की जान बहुमूल्‍य है । अतएव सेवाओं में चूक कहां हो रही है, इसका मंथन कर त्‍वरित रूप से सुधारात्‍मक कार्यवाही सीबीएमओ द्वारा की जाये। इस आशय के निर्देश कलेक्‍टर श्री एस. कृष्‍ण चैतन्‍य ने कलेक्‍टर सभाकक्ष में आयोजित स्‍वास्‍थ्‍य एवं महिला एवं बाल विकास की समन्वित समीक्षा बैठक के दौरान दिये। इस दौरान अपर कलेक्‍टर नाथूराम गौड़, क्षेत्रीय संचालक स्‍वास्‍थ्‍य सेवायें सागर डॉ.व्‍ही.के.खरे, मुख्‍य चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी डॉ.संगीता त्रिवेदी, सिविल सर्जन डॉ.ममता तिमोरी सहित अन्य डाक्टर्स एवं अधिकारीगण मौजूद रहे।

   कलेक्टर श्री चैतन्य ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की समीक्षा दौरान अपेक्षित प्रगति न पाये जाने पर सीडीपीओ का कार्य में सुधार लाने के निर्देश दिये। उन्होंने सभी कार्यक्रम अधिकारियों से कहा कि, ध्‍यान रखें कि, कोई भी हितग्राही लाभ से वंचित न रहे।

   एनआरसी की समीक्षा दौरान कलेक्‍टर श्री चैतन्‍य ने कहा कि, कुपोषित बच्‍चों को शीघ्र स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त हो सके इस हेतु एनआरसी का संचालन किया जा रहा है। बच्‍चे अभी भी एनआरसी की क्षमता अनुरूप्‍ भर्ती नहीं है, अपेक्षित कार्यवाही करने के निर्देश सीडीपीओ को दिये। परिवार कल्‍याण के तहत दी जाने वाली सेवाओं में तेजी लाने के निर्देश भी दिये गये। जिला मलेरिया अधिकारी ने बताया कि, १५ डेंगू केस संज्ञान में आये हैं कलेक्‍टर श्री चैतन्‍य ने मैदानी स्‍तर पर लार्वा सर्वे कार्य में निगरानी रखने के निर्देश देते हुये कहा कि, डेंगू संवदेनशील क्षेत्रों में डेंगू से बचाव हेतु सभी ऐहतियातन गतिविधियां कराना सुनिश्चित करें।

   कोविड-19 टीकाकरण पर चर्चा करते हुये कहा कि, टीकाकरण सीधे लोगों की जीवन रक्षा से जुड़ा है। ग्रामवार शतप्रतिशत हितग्राहियों को टीकाकृत किया जाना अनिवार्य है। उन्होंने सीबीएमओ से कहा टीकाकरण से वंचित लोगों का सर्वे करायें, ग्राम में पूर्ण टीकाकरण उपरांत मैदानी कार्यकर्ता से प्रमाण-पत्र प्राप्‍त करें कि गांव कोविड-19 के तहत पूर्ण टीकाकृत हो गया है।    

   मातृ-स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं की समीक्षा दौरान आनुपातिक लक्ष्‍य के विरूद्ध कम पंजीयन होने पर बीएमओ से कारणों पर विस्‍तृत चर्चा की। उन्होंने निर्देश दिये कि आनुपातिक लक्ष्‍य के विरूद्ध गर्भवती महिलाओं की एएनसी कराना सुनिश्चित करें, साथ ही दी गई सेवाओं के विरूद्ध आरसीएच/अनमोल पोर्टल पर शतप्रतिशत एन्‍ट्री कराना सु‍निश्चित करें। कार्य में लापरवाही बरतने वाले सेवा प्रदाताओं का चिन्‍हांकन करें। चिन्‍हांकन कर नाम प्रस्‍तावित करने पर निलंबन की कार्यवाही की जावेगी।

   समीक्षा बैठक दौरान अप्रैल से जुलाई दौरान 28 एमडीआर संज्ञान में आने पर कलेक्‍टर श्री चैतन्‍य ने कहा हर गर्भवती की जान बहुमूल्‍य है । अतएव सेवाओं में चूक कहां हो रही है, इसका मंथन कर त्‍वरित रूप से सुधार की कार्यवाही सुनिश्चित करें। कैसे गर्भवती महिला की जान बचाई जा सके, गर्भावस्‍था से लेकर प्रसव उपरांत 42 दिन तक गर्भवती महिला की स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल पर निगरानी रखने पर व्‍यापक चर्चा हुई।

   कलेक्‍टर श्री चैतन्‍य ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की समीक्षा के दौरान अपेक्षित प्रगति न पाये जाने पर सीडीपीओ का कार्य में सुधार लाने के निर्देश दिये। सभी कार्यक्रम अधिकारियों से कहा ध्‍यान रखें कि कोई भी हितग्राही लाभ से वंचित न रहे। समीक्षा बैठक पूर्व पर महिला एवं बाल विकास विभाग, शिक्षा विभाग के समन्‍वय से एनडीडी कृमि नाशन दिवस 13 सितंबर से 23 सितंबर दौरान 01 से 19 वर्ष आयु वर्ग के समस्‍त बालक-बालिकाओं को कृमि नाशन दवा एलबेण्‍डाजॉल का सेवन कराने समन्वित रूप से अपेक्षित गतिविधियां किये जाने पर चर्चा हुई। डॉ. शैलेन्‍द्र सिंह मिश्रा ने पावर प्‍वाईन्‍ट प्रिजेन्‍टेशन के माध्‍यम से गत वर्ष अर्जित उपलब्धियों एवं कार्यक्रम से जुड़ी जानकारी को साझा किया।
(36 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer