समाचार
|| भेड़ाघाट हेलीपैड पर मुख्यमंत्री श्री चौहान का हुआ भव्य स्वागत || गौवंश के संरक्षण के लिए सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी || भोपाल की दीदियों की ऊंची छलांग-स्व-सहायता समूहों की बहनों का संस्कार हैम्पर करवा चौथ पर मचाएगा धूम || कठपुतली कलाओं पर केन्द्रित पुतुल समारोह प्रारम्भ-24 तक चलेगा || विद्युत लाइनों एवं उपकरणों का किया जा रहा सतत रखरखाव - ऊर्जा मंत्री श्री तोमर || खाद की कालाबाजारी करने वालों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करें - कृषि मंत्री श्री पटेल || नीमच ब्रिगेड-जिसने अंग्रेजों के छक्के छुड़ा दिए-धनश्याम सक्सेना "जनसंपर्क संचालनालय की विशेष फीचर श्रृंखला" "लेख" || कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने फर्जी पत्रकार के विरुद्ध की कारवाई, फर्जी पत्रकार देवेंद्र मराठा 6 महीने के लिए रासुका के तहत निरुद्ध || सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया का क्रेडिट आउटरीच अभियान अंतर्गत मेगा कैंप का आयोजन || विश्व आयोडीन अल्पता विकार नियंत्रण दिवस पर होंगे विविध जागरूकता कार्यक्रम
अन्य ख़बरें
नेशनल लोक अदालत में 04 करोड़ 75 लाख रूपए से अधिक अवॉर्ड पारित
-
शाजापुर | 11-सितम्बर-2021
    राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली के निर्देशानुसार जिला मुख्यालय शाजापुर समेत तहसील मुख्यालय शुजालपुर, आगर, सुसनेर, नलखेड़ा न्यायालय परिसर में कोविड़-19 की गाईडलाईन का पालन करते हुए हुई नेशनल लोक अदालत में 1109 प्रकरण निराकृत हुए। वही 04 करोड़ 75 लाख 08 हजार 567 रू.  मात्र (04758567) रूपये आवार्ड पारित किए गये। नेशनल लोक अदालत में 1709 से अधिक व्यक्ति लाभान्वित हुए। नेशनल लोक अदालत में जिले एवं तहसीलों को मिलाकर कुल 25 न्यायिक खण्डपीठ बनाई गई।
   आज 11 सितम्बर 2021 को प्रातः 10.30 बजे नेशनल लोक अदालत का आयोजन जिला न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री सुरेन्द्र कुमार श्रीवास्तव के मार्गदर्शन में किया गया। सर्वप्रथम जिला न्यायाधीष/अध्यक्ष ने मॉ सरस्वती जी की प्रतिमा पर माल्यापर्ण व दीप प्रज्जवलित कर नेशनल लोक अदालत का शुभांरभ किया।
   इस मौके पर न्यायाधीश कु. जसवीर कौर सासन, श्री मनोज कुमार शर्मा, श्री बृजेश गोयल, श्री प्रवीण शिवहरे, श्री अनिल कुमार नामदेव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री राजेन्द्र देवड़ा, श्री आशीष परसाई, सुश्री हर्षिता सिंगार, श्रीमती प्रिन्सी अग्रवाल, श्री नीरज अग्रवाल, सुश्री रूपम तोमर, अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष श्री अनिल आचार्य, कोषाध्यक्ष श्री करण सिंह गुर्जर, सहसचिव एवं अन्य अधिवक्ता, न्यायालय के कर्मचारीगण भी मौजूद थे। लोक अदालत में शाम 5 बजे तक कई प्रकरणों  में राजीनामा करवाया गया।
11 सितम्बर 2021 को लोक अदालत में अपराधिक शमनीय प्रकरण, परक्राम्य अधिनियम की धारा 138 के अंतर्गत प्रकरण, बैंक रिकवरी संबंधी मामले, एम.ए.सी.टी प्रकरण (मोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावा प्रकरण), वैवाहिक प्रकरण, श्रम विवाद प्रकरण भूमि अधिग्रहण, विघुत एवं जल कर/बिल संबंधी अन्य समस्त प्रकार के राजीनामा योग्य, प्री-लिटिगेशन (मुकदमा पूर्व) आदि के कुल 12405  प्रकरणों को नेशनल लोक अदालत में रखे गये थे । उनमें से प्री-लिटिगेशन के 8755 प्रकरण रखें गये जिसमें से 793 प्रकरणों का निराकरण किया गया। इन प्रकरणों में 9913833 रू. का राजस्व प्राप्त हुआ। इसी प्रकार न्यायालय में 3650  लंबित प्रकरण को नेशनल लोक अदालत में रखें गये जिसमें से 316  लंबित प्रकरणों का निराकरण हुआ जिसमें से 30844734 राषि जमा हुई। इस प्रकार कुल 1109 न्यायालयीन प्रकरणों में जिले/तहसीलों में राजीनामा करवाया गया। जिसमें से 04 करोड़ 75 लाख 08 हजार 567 रू. मात्र (04758567) रूपये आवार्ड राशि वसूली की गई और 1709 से अधिक व्यक्ति लाभान्वित हुए।
शुजालपुर न्यायालय में नेशनल लोक अदालत में 06 खण्डपीठों में कुल 196 लंबित एवं प्रीलिटिगेशन प्रकरणों हुआ निराकरण
शाजापुर जिले के तहसील न्यायालय शुजालपुर में नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया गया। लोक अदालत का सादगीपूर्ण तरीके से उद्घाटन श्री रूपम वेदी, द्वितीय जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीश, श्री शरद कुमार गुप्त, चतुर्थ जिला एंव अपर सत्र न्यायाधीश, श्री हरीश वानवंशी तृतीय जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीश, श्री धीरज कुमार प्रथम व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-1, श्रीमती चंचल बुंदेला द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-2, एवं श्री विष्णु दुबे तृतीय व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-2 शुजालपुर संयुक्त कलेक्टर श्रीमती शैली कनास, अभिभाषक संघ के अध्यक्ष श्री अजयपाल सिंह जादौन, सचिव श्री प्रीतम राणा, एडीपीओ श्री कमल गोयल, एवं अधिवक्ता संघ के सदस्यगण, सुलहकर्ता अधिवक्तागण, विधुत विभाग के अधिकारीगण ने मां सरस्वती एवं महात्मा गांधी जी के छायाचित्र पर हार-फूल चढ़ाकर व दीप प्रज्वलन कर किया एवं नेशनल लोक अदालत के उद्घाटन के उपरांत न्यायालय परीसर में उपस्थित पक्षकारों को मास्क वितरीत किए गए।
अपर जिला व सत्र न्यायाधीश एवं अध्यक्ष तहसील विधिक सेवा समिति शुजालपुर श्री रूपम वेदी ने कहा कि ‘‘ना किसी की जीत ना किसी की हार, यही है लोक अदालत का सार‘‘  नेशनल लोक अदालत को न्यायिक पर्व के रूप में मनाकर सौहार्दपूर्ण वातावरण में विवादों का निराकरण होने से पक्षकारों के मध्य आपसी मतभेद समाप्त हो जाता है जिससे उनके मन को भी संतोष मिलता है और समय व धन की बचत भी होती है।
    उक्त लोक अदालत में शुजालपुर न्यायालय में गठित 6 खण्डपीठों में लंबित एवं प्रीलिटिगेशन के कुल 196 प्रकरणों का निराकरण किया गया, जिसमें रूपये 1,39,41,318/- का भुगतान/समझौता करवाया गया एवं 445 व्यक्ति/पक्षकार लाभान्वित हुए। लोक अदालत में आपराधिक, सिविल, विद्युत अधिनियम, श्रम, मोटर दुर्घटना दावा, चैक बाउन्स आदि से संबंधित प्रकरणों में कुल 108 लंबित प्रकरणों का निराकरण किया गया, इसके द्वारा रूपये 1,27,26,682/- का भुगतान/समझौता करवाया गया, जिससे 269 व्यक्ति/पक्षकार लाभांवित हुए। उसी तरह नगर पालिका, नगर परिषद व बैंक, विधुत के प्रीलिटिगेशन के कुल 88 प्रकरणों का निराकरण किया गया, इसके द्वारा रूपये 1,214,636/- का भुगतान/समझौता करवाया गया, जिससे 176 व्यक्तियों को फायदा पहुंचा।
    श्री हरिश वानवंशी तृतिय जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीश शुजालपुर के न्यायालय में लंबित हिन्दू विवाह अधिनियम के एक प्रकरण में दम्पति के मध्य न्यायाधीश द्वारा समझाईश देकर राजीनामा करवाकर दम्पती को साथ-साथ रहने की प्रेरणा देते हुए हार-फूल पहनाकर पुनः उनका घर बसाया गया।
    कार्यक्रम में समस्त न्यायाधीशगण, अभिभाषकगण, नगर पालिका अधिकारीगण, विद्युत विभाग अधिकारीगण, पुलिस अधिकारी व कर्मचारीगण सहित न्यायालय के समस्त कर्मचारीगण व तहसील विधिक सेवा समिति के कर्मचारी सहित पक्षकारगण उपस्थित थे।
 
(39 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer