समाचार
|| गाँव के विकास के लिए हर कदम आपके साथ : गृह मंत्री डॉ. मिश्रा || "घुमन्तू समुदाय वाचिक परम्पराएँ" विषय पर तीन दिवसीय संगोष्ठी 19 अक्टूबर से || प्रथम हॉकी इंडिया जूनियर बालक इंटर अकादमी नेशनल हॉकी चैंपियनशिप-2021 || स्व-सहायता समूह की महिलाओं में स्व-रोजगार के प्रति बढ़ता जुनून || राष्ट्रीय चैंपियनशिप में सैलिंग खिलाड़ियों ने 8 पदक जीते || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वरिष्ठ पत्रकार श्री चंद्रभान सक्सेना के निधन पर शोक व्यक्त किया || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नारियल का पौधा रोपा || राज्यपाल श्री पटेल ने हलाली डेम का किया भ्रमण || मतदाता जागरूकता हेतु स्वीप गतिविधियों का हो रहा आयोजन || लोकसभा उप निर्वाचन के लिए मतगणना 2 नवम्बर को सम्पन्न होगी
अन्य ख़बरें
वैक्सीनेशन महाअभियान 3.0 की सफलता के लिए हर जिले में नागरिक, जन-प्रतिनिधि और शासकीय सेवक योगदान दें : मुख्यमंत्री श्री चौहान
प्रदेश के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप सदस्यों और प्रतिनिधियों को मुख्यमंत्री ने किया संबोधित
सिवनी | 14-सितम्बर-2021
   मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रत्येक जिले में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए आवश्यक एहतियाती कदम उठाए जाएँ, जिला स्तरीय, विकास खण्ड स्तरीय, ग्राम स्तरीय और वार्ड स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्य जन-जागरूकता बढ़ाने की योजना पर मिलकर कार्य करें। कोरोना से बचाव में सबसे प्रभावी माध्यम है वैक्सीनेशन। इसके साथ ही मास्क के उपयोग और व्यक्तियों के बीच डिस्टेंसिंग कायम रखने से संक्रमण को रोकना आसान है। प्रधानमंत्री श्री मोदी के जन्म-दिवस पर मध्यप्रदेश में वैक्सीनेशन महाअभियान -3.0 आगामी 17 सितम्बर को संचालित किया जा रहा है। महाअभियान को सफल बनाने में सभी सहयोग दें।
मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में मंत्रि-परिषद के सदस्यों की उपस्थिति में विभिन्न स्तर की क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों के सदस्यों और जन-प्रतिनिधियों को संबोधित कर रहे थे।  
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश ने वैक्सीनेशन में रिकार्ड बनाया है। अभी भी प्रदेश में करीब 2 करोड़ लोग वैक्सीन के डोजेस लगवाने के लिए शेष हैं। इन लोगों को 17 सितम्बर को वैक्सीनेशन केंद्र तक लाने के लिए प्रेरित कर उन्हें सुरक्षा चक्र प्रदान करना है।
 मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोविड वैक्सीनेशन महाअभियान -3.0  के संदर्भ में आज प्रदेश के सभी जिलों के क्राइसिस मैनेजमेंट समूह के सदस्यों, विधायकों,सांसदों और अन्य जनप्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए उन्हें महाअभियान को सफल बनाने के लिए सक्रिय सहयोग देने का आव्हान किया।
मुख्यमंत्री श्री चौहान के प्रमुख निर्देश और संबोधन के महत्वपूर्ण बिंदु
·    गत 17 माह में हमने कोरोना की दो लहरों का सामना कर तकलीफ उठाई है, कई अपने हमें छोड़कर चले गये। खतरा अभी टला नहीं है। जबलपुर में सामने आये पॉजिटिव प्रकरण चिंता का विषय हैं। हमें निश्चितं नहीं होना है। अपनी जागरूकता से तीसरी लहर को रोकना है।
  • कई पर्व- त्यौहार भी आने वाले हैं। त्यौहारों पर हम इस तरह कार्यक्रम करें कि संक्रमण न फैले। हम सभी अनिवार्य रूप से मास्क लगाएँ।
  • यदि किसी व्यक्ति को वैक्सीन के दोनों डोज लग जाते हैं तो खतरा कम हो जाता है। आगामी 26 सितम्बर तक 100 प्रतिशत लोगों को जो वैक्सीन के पात्र हैं, उन्हें वैक्सीन का प्रथम डोज लगवाकर सुरक्षा चक्र प्रदान करना है।
  • जन-सहयोग से हमने कोरोना का मुकाबला किया है। स्वास्थ्य और स्थानीय प्रशासन अकेले यह कार्य नहीं कर सकता। कोरोना वॉलेंटियर, जन-प्रतिनिधि और नागरिक अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए वैक्सीन से छूटे लोगों को 17 सितम्बर को वैक्सीनेशन केंद्र तक लाने का कार्य करें। लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए अनुरोध करें, पीले चावल देकर वैक्सीन लगवाने का  आमंत्रण दें, घर-घर संपर्क कर लोगों को वैक्सीनेशन का महत्व बतायें।
  • वैक्सीनेशन केंद्र पर उत्सवी वातावरण बनाया जाए। सोशल मीडिया में वैक्सीन का प्रचार कर वैक्सीन लगवाने वाले सेल्फी भी पोस्ट करें। इससे अन्य लोग प्रेरित होंगे।
  • प्रदेश में पर्याप्त वैक्सीन उपलब्ध हैं। प्रधानमंत्री श्री मोदी के सहयोग से नि:शुल्क रूप से प्राप्त वैक्सीन का पूरा उपयोग किया जाए। साथ ही संक्रमण की आशंका हो तो कोई भी नागरिक सेम्पल देने में पीछे न हटे।
डेंगू नियंत्रण के प्रति भी बनें जागरूक
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि 15 सितम्बर को “डेंगू से जंग-जनता के संग” अभियान में प्रात: 10 बजे से 10:30 बजे तक हर मोहल्ले में लार्वा नष्ट करने का कार्य होगा। घरों में कूलर, वाटर टेंक और आसपास गड्ढों में जमा पानी को उलटाकर स्वच्छता अभियान चलाएँ। ग्रामीण विकास, नगरीय विकास विभाग, नगर पंचायत, नगर पालिका, नगर निगम, स्वास्थ्य विभाग और चिकित्सा शिक्षा विभाग मिलकर डेंगू से बचाव और नियंत्रण के लिए कार्य करें। आवश्यक स्थानों पर फॉगिंग भी की जाए। अनावश्यक जल जमाव के दोषी लोगों पर दण्ड लगाने की कार्यवाही की जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि डेंगू के उपचार के लिए सभी जिला अस्पतालों में दस-दस बिस्तर का आइसोलेशन वार्ड बनाया जा रहा है। आयुष्मान योजना में भी डेंगू का नि:शुल्क उपचार का प्रावधान है।                  
(34 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer