समाचार
|| ‘‘सूचना का अधिकार अधिनियम तथा प्रावधान, लोक सूचना अधिकारी के कर्तव्य‘‘ विषय पर दो दिवसीय वेबीनार आयोजित || पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजनांतर्गत अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं से आवेदन आमंत्रित || ‘‘राष्ट्रीय पोषण अभियान“ के तहत कार्यक्रम आयोजित || पॉलीटेक्निक कालेज में शेष बची सीटों हेतु द्वितीय चरण का रजिस्ट्रेशन 21 सितम्बर तक || होमगार्ड सबस्टेशन पर आज विद्युत प्रवाह बंद रहेगा || महिलाओं की पीड़ा पहचान कर प्रधानमंत्री ने दी सेहत, स्वास्थ्य और धुंए से आजादी की सौगात - मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह || नगर पालिका द्वारा डेंगू, मलेरिया नियंत्रण महाअभियान के तहत वार्डवार की जा रही पेस्ट कंट्रोलिंग || प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 2.0 का शुभारंभ || किशनगढ़ कोठी बनेगा राजगढ़ शासकीय रेस्ट हाउस || उज्जवला योजना में प्रदेश के 9 लाख हितग्राहियों को मिलेंगे नि:शुल्क गैस कनेक्शन - खाद्य मंत्री श्री सिंह
अन्य ख़बरें
सचिव द्वारा राशि गबन करने पर पद से किया गया पदच्युत
-
उमरिया | 15-सितम्बर-2021
मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अंशुल गुप्ता ने बताया कि लौगबाई सरपंच, ग्राम पंचायत अतरिया जनपद पंचायत करकेली  द्वारा 27 जनवरी 2020 को कलेक्टर के समक्ष राजमणी सिंह पंचायत सचिव ग्राम पंचायत अतरिया के विरुद्ध शिकायत की गई कि उनके बिना जानकारी के राशि का गबन किया गया है। गबन की गई राशि के खिलाफ अपराधित प्रकरण दर्जकर राशि वसूली की जायें।
जिस पर पंचायत सचिव ग्राम पंचायत अतरिया जनपद पंचायत करकेली को कारण बताओं सूचना पत्र जारी किया गया। कारण बताओं सूचना पत्र का जवाब न दिये जाने के कारण पुनः कारण बताओं सूचना पत्र जारी किया गया। श्री सिंह द्वारा कारण बताओं सूचना पत्र का जवाब न दिये जाने के कारण 6 अक्टूबर 2020 द्वारा तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए मुख्यालय कार्यालय जनपद पंचायत करकेली नियत किया गया। आर. के. मण्डावी मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जनपद पंचायत करकेली एवं  ए. एन. शर्मा सहायक यंत्री का संयुक्त जाँच प्रतिवेदन के अनुसार राजमणी सिंह निलंबित कर, पंचायत सचिव ग्राम पंचायत अतरिया के विरुद्ध आहरित राशि रूपये 5597506 रूपये की वसूली किया जाना प्रस्तावित किया गया। 13 नंवबर 2020 द्वारा आरोप पत्र जारी किया गया जिसका जवाब 28 नवंबर .2020 को प्राप्त हुआ। प्रकरण की गंभीरत को दृष्टिगत रखते हुए सूक्ष्म जाँच कराये जाने हेतु म.प्र. पंचायत सेवा अनुशासन एवं अपील नियम 1999 के प्रावधानों के तहत विभागीय जाँच संस्थित करते हुए अखिलेश पाण्डेय लेखाधिकारी जिला पंचायत उमरिया को विभागीय जाँचकर्ता अधिकारी एवं बाल्मिकी सिंगरहा पंचायत समन्वय अधिकारी जनपद पंचायत करकेली को प्रस्तुतकर्ता अधिकारी नियुक्त किया गया। जाँचकर्ता अधिकारी द्वारा प्रस्तुत प्रतिवेदन के आधार पर राजमणी सिंह पंचायत सचिव ग्राम पंचायत अतरिया के विरूद्ध शासकीय धनराशि रूपये चौरानवे लाख चौहत्तर हजार सात सौ तेईस मात्र वसूली योग्य है।
 राजमणी सिंह पंचायत सचिव ग्राम पंचायत अतरिया जनपद पंचायत करकेली का उक्त कृत्य म.प्र. पंचायत सेवा (आचरण) नियम 1998 के नियम 3 के सर्वथा विपरीत होना पाया गया है। जिस पर राजमणी सिंह को म.प्र. पंचायत सेवा (अनुशासन तथा अपील) नियम 1999 के नियम 05 (ख) (सात) में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए सेवा से पदच्युत कर दिया गया है।
(3 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2021अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer