समाचार
|| जन-कल्याण एवं सुराज अभियान में मुख्यमंत्री श्री चौहान देंगे अनेक सौगातें || सुराज का मतलब है बिना लिए-दिए और बिना विलंब के लोगों के काम हो : मुख्यमंत्री श्री चौहान || 39 दिव्यांगों को मिले सहायक उपकरण जिला अस्पताल में संपन्न हुआ शिविर || भोपाल के पास अचारपुरा में बनेगी खुर्जा की पोटरी और मुरादाबाद के डेकोरेटिव आइटम || सुराज का मतलब है बिना लिए-दिए और बिना विलंब के लोगों के काम हो : मुख्यमंत्री श्री चौहान || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से कलेक्टर्स एवं कमिश्नर से किया संवाद || केंद्रीय मंत्री श्री सिंधिया से भेंट कर सांसद श्री डामोर ने रतलाम में हवाई अड्डे की मांग की || गर्भवती मां को टीकाकरण से नुकसान नहीं, बच्चे के जीवन की सुरक्षा भी होगी || सुराज का मतलब है बिना लिए-दिए और बिना विलंब के लोगों के काम हो : मुख्यमंत्री श्री चौहान || टीएल के जिन प्रकरणों का निराकरण नहीं हुआ, की फाइल लाए
अन्य ख़बरें
जिला चिकित्सालय में पियर असेसमेंट की टीम द्वारा मूल्यांकन किया गया
-
बैतूल | 15-सितम्बर-2021
    जिला चिकित्सालय में कायाकल्प मापदण्ड अनुरूप पियर असेसमेंट मंगलवार चिकित्सा दल द्वारा किया गया। कायाकल्प अवार्ड हेतु स्वास्थ्य संस्थाओं का अंतिम मूल्यांकन इस मूल्यांकन की रिपोर्ट के पश्चात् किया जायेगा। असेसमेंट दल में जिला चिकित्सालय छिंदवाड़ा के डॉ. सुशील दुबे एवं स्टाफ नर्स जिला चिकित्सालय भिण्ड श्रीमती रीना यादव सम्मिलित रहे। असेसमेंट के तहत सम्पूर्ण चिकित्सालय की व्यवस्थाओं एवं प्रदाय की जा रही सेवाओं का मूल्यांकन किया गया। यह मूल्यांकन निर्धारित चेक लिस्ट के आधार पर किया गया। चिकित्सालय के आंतरिक एवं बाह्नय मूल्यांकन में सफाई व्यवस्था सहित कार्य की गुणवत्ता के स्तर का मूल्यांकन सम्मिलित रहा। चिकित्सालय परिसर एवं परिसर की बाउन्ड्री वॉल के बाहर अतिक्रमण सहित अन्य आवश्यक व्यवस्थापन भी मूल्यांकन में किया गया।
सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक डॉ. अशोक बारंगा ने बताया कि असेसमेंट टीम जिला चिकित्सालय की व्यवस्थाओं के स्तर से संतुष्ट हुई। टीम ने जिला चिकित्सालय द्वारा अपनाये गये एवं प्रयोग में लाये जा रहे अभ्यासों को अन्य जिलों में लागू किये जाने हेतु चिन्हांकित किया। टीम द्वारा जिला अस्पताल के आकस्मिक चिकित्सा कक्ष के प्रबंधन एवं चिकित्सा कक्ष प्रभारी के कार्य, पुरूष मेडिकल वार्ड के प्रभारी तथा स्टाफ की कार्य कुशलता, कार्य दक्षता एवं कार्य व्यवस्था की सराहना की गई। साथ ही ब्लड बैंक एवं जिला चिकित्सालय की प्रशासनिक व्यवस्था की सराहना की गई। डॉ. बारंगा ने बताया कि मूल्यांकन में मिले अंकों की घोषणा राज्य स्तर से मूल्यांकन के पश्चात् की जायेगी। इन्हीं मूल्यांकन में मिले अंकों के आधार पर पुन: राज्य स्तरीय टीम द्वारा विस्तृत अंतिम मूल्यांकन किया जायेगा। अंतिम मूल्यांकन के पश्चात् प्रदेश स्तर से कायाकल्प पुरूस्कारों की घोषणा की जायेगी। आगामी दो माह के भीतर किये जाने वाले अंतिम राज्य स्तरीय मूल्यांकन की तैयारी नोडल अधिकारी कायाकल्प डॉ. अंकिता सीते द्वारा प्रारंभ कर दी गई है।
पियर असेसमेंट में सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक डॉ. अशोक बारंगा एवं चिकित्सा अधिकारी शामिल रहे।

 
(5 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
अगस्तसितम्बर 2021अक्तूबर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
303112345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930123
45678910

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer