समाचार
|| जिला स्तरीय रोजगार मेला 29 अक्टूबर को || एकीकृत बागवानी मिशन के तहत सब्जी फसलों की खेती के लिए आवेदन आमंत्रित || मत्स्य विभाग के अमले ने केजो का किया निरीक्षण , दी तकनीकी सलाह || 25 अक्टूबर को 118 केन्द्रों पर होगा कोविड टीकाकरण || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कचनार का पौधा लगाया || आत्म अवलोकन करते हुए स्वयं को बेहतर इंसान बनाने का करें सतत प्रयास - राज्यपाल श्री पटेल || किसानों को सिंचाई के लिए बिजली की कमी नहीं आने देंगे : मुख्यमंत्री श्री चौहान || महिला नव आरक्षकों के शौर्य और कठिन अभ्यास को देखकर भावुक हुए राज्यपाल || मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भारतीय क्रिकेट टीम को विश्व कप स्पर्धा में सफलता के लिए दीं शुभकामनाएँ || शनिवार को 59 हजार से अधिक कोरोना जाँच
अन्य ख़बरें
’’जन कल्याण और सूराज के 20 वर्ष’’ के कार्यक्रम में हितग्राहियों को प्रमाण-पत्र वितरित
-
शाजापुर | 21-सितम्बर-2021
      महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आज कलेक्टर सभाकक्ष में ’’जन कल्याण और सूराज के 20 वर्ष’’ के उपलक्ष्य में जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें कलेक्टर श्री दिनेश जैन तथा श्री अंबाराम कराडा भी उपस्थित थे। कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, लाड़ली लक्ष्मी छात्रवृत्ति योजना तथा कुपोषण से सुपोषण की श्रेणी में आए बच्चों के लिए प्रमाण-पत्र वितरित किये गये। इस दौरान खण्डवा जिले के पंधाना में आयोजित हुए प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम का लाईव प्रसारण किया गया, जिसे उपस्थित सभी हितग्राहियों ने भी देखा। कार्यक्रम को प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने संबोधित किया था।

जिला स्तरीय कार्यक्रम के दौरान कलेक्टर श्री जैन ने कहा कि महिलाओं के स्वास्थ्य एवं सुरक्षा को लेकर चलाई जा रही योजनाओं का लाभ सतत् रूप से पात्र हितग्राहियों को मिले यह सुनिश्चित करना हमारी जिम्मेदारी है। कलेक्टर ने निर्देश दिये कि कल्याणकारी योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करें, ताकि अधिक से अधिक हितग्राही लाभ उठाएं और स्वस्थ्य समाज का निर्माण हो। बच्चों को कुपोषण से बाहर लाने के लिए आंगनवाड़ी स्तर पर बेहतर प्रयास करें। श्री कराड़ा ने कहा कि शासन की जन कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से विशेषकर बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओ व लाडली लक्ष्मी योजना से बेटियों का भविष्य सुरक्षित हो रहा है। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के माध्यम से मॉ एवं बच्चें दोनों स्वस्थ्य हुए हैं। प्रकृति ने ऐसी अनेक वस्तुए दी है, जिनका उपयोग करके हमारी माताएं बच्चें सुपोषित हो सकते हैं।

महिला एवं बाल विकास विभाग सहायक संचालक सुश्री नीलम चौहान ने कार्यक्रम की रूपरेखा पर प्रकाश डाला। तत्पश्चात पर्यवेक्षक अमिता माथुर ने पोषण माह के दौरान आयोजित की जा रही गतिविधियों के संबंध में विस्तृत रूप से जानकारी दी गई। साथ ही भारत सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में भी बताया। इस दौरान लाडली लक्ष्मी योजनान्तर्गत पंजीकृत 05 बालिकाओं को छात्रवृत्ति स्वीकृति प्रमाण पत्र दिये गये। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत लाभान्वित महिलाओं को भी सम्मानित किया गया एवं कुपोषित से सुपोषित श्रेणी में आने वाले बच्चों व उनकी माताओं को पोषण अधिकार सूचना पत्र भी प्रदान किये गए।

इस अवसर पर कार्यक्रम में श्री दिनेश शर्मा, श्री गोपाल सिंह राजपूत, श्री विजय जोशी, श्री हनुमंत राव, श्री शुभम ठाकुर, श्री पवन राठौर, श्री राजेन्द्र मालिया, श्री भीष्ण गुप्ता, दीपशिखा निगम आदि उपस्थित थे। उक्त कार्यक्रम का संचालन पर्यवेक्षक अमिता माथुर एवं आभार एकीकृत बाल विकास परियोजना शाजापुर परियोजना अधिकारी सुश्री नेहा चौहान ने माना।  
 
(33 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer