समाचार
|| मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की महंगाई भत्ते में 8 प्रतिशत वृद्धि की घोषणा || विधानसभा अध्यक्ष द्वारा सामान्य वर्ग कल्याण आयोग के नव-निर्मित भवन का उद्घाटन || किसानों के साथ फर्जीवाड़ा करने वाले बख्शे नहीं जायेंगे - मंत्री श्री पटेल || जल्द पूरी करें पंचायत आम निर्वाचन की तैयारियाँ || स्वाधीनता का अमृत महोत्सव - लोकतंत्र और नवभारत पर व्याख्यान माला आयोजित || क्रेडिट आउटरीच कैम्पेन - 15 नवम्बर तक जिलों में लगेंगे मैगा कैम्प || एमएसएमई विकास नीति से आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश || कोरोना टीकाकरण में प्राप्त की महत्वपूर्ण उपलब्धि : स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी || विक्रमोत्सव-2021 - संस्कृति मंत्री सुश्री ठाकुर 24 अक्टूबर को करेगी शुभारंभ || नगरीय विकास मंत्री श्री सिंह 22 अक्टूबर को करेंगे सोन चिरैया आजीविका उत्सव का शुभारंभ
अन्य ख़बरें
वरिष्ठजन के अनुभवों का समाज के हित में लेना चाहिए लाभ - कमिश्नर
अन्तर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर 50 वृद्धों को किया गया सम्मानित
रीवा | 01-अक्तूबर-2021
      कमिश्नर रीवा संभाग श्री अनिल सुचारी ने अन्तर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर संबोधित करते हुए कहा कि वरिष्ठजन अनुभवों की खान है समाज सुधार एवं सामाजिक बुराईयों को दूर करने के लिए इनके अनुभवों का लाभ लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे हम विकसित होते जा रहे हैं सामाजिक दूरियां बढ़ती जा रही हैं। परिवार छोटे होते जा रहे हैं और आपस में भी दूरियां बढ़ गयीं हैं इसी का परिणाम है कि वृद्ध होते ही हमें अपना परिवार छोड़कर वृद्धाश्रम आना पड़ता है। पूर्व में वृद्धाश्रम की परिकल्पना नहीं की गयी थी सम्मिलित परिवार में वरिष्ठजन एवं बच्चों में प्रेम एवं संस्कार रहता था। इस कारण वृद्धों के पालन पोषण की कोई परेशानी नहीं होती थी।
    उन्होंने कहा कि सामाजिक न्याय विभाग वृद्धाश्रम संचालित कर वृद्धों की देखभाल एवं आवश्यक सेवाएँ दे रहा है। वृद्धों के संरक्षण के लिए भरण पोषण अधिनियम बनाकर संरक्षित किया गया है। उन्होंने कहा है कि भारत सरकार ने एल्डर हेल्पलाइन नंबर 14567 आज ही प्रारंभ की गयी है। हमारे वृद्धजन हमारे लिए पूज्यनीय एवं सम्मानित है। कोई भी परेशानी या कठिनाई आने पर कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक को सूचित करें। कलेक्टर जुझारू प्रवृति के अच्छे अधिकारी हैं उनके मन में वृद्धों के प्रति असीम प्रेम एवं सम्मान है। वे वृद्धों के लिए कुछ न कुछ करते रहते हैं।
    अन्तर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर कमिश्नर अनिल सुचारी, उप पुलिस महानिरीक्षक अनिल सिंह कुशवाह, कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने वृद्धजनों को शाल एवं श्रीफल देकर सम्मानित किया। इसमें श्रीमती शांति दुबे, श्रीमती सुशीला दुबे, मुकुन्द प्रसाद मिश्रा, आरडी तिवारी, पंडित शत्रुघन शुक्ल, गया प्रसाद श्रीवास, सुशील कुमार त्रिपाठी, राजकिशोर चौबे, रामानुज, रामनिवास गुप्त, रंगदेव सिंह, मुद्रिका प्रसाद, श्रीमती राजसेटी, एसके निगम, यादवेन्द्र सिंह, आर्यन शर्मा, भीम सिंह, रामनारायण वर्मा, राजमणि पटेल, शोभनाथ गुप्ता, रमा श्रीवास्तव, आरती श्रीवास्तव, रामायण प्रसाद, हनुमान प्रसाद, राममिलन, अनुसुइया प्रसाद का सम्मान किया गया।
    पुलिस उप महानिरीक्षक अनिल सिंह कुशवाह ने कहा कि वृद्धाश्रम आने पर पॉजिटिव एनर्जी आती है। हमें पता होता है कि हम उनके पास जा रहे हैं जिनको हमारी सबसे अधिक आवश्यकता होती है। वर्तमान समाज परिवर्तन शील हो गया है बच्चे अपने जॉब से बाहर चले जाते हैं घर में माता-पिता अकेले बचते हैं। बहुत से वृद्ध वृद्धाश्रम नहीं आना चाहते। हम योजना बना रहे हैं कि वृद्धजनों को तुरंत एवं त्वरित गति से चिकित्सा सहायता दी जाय। यदि उन्हें दवाई की आवश्यकता पड़ती है तो तुरंत मेडिकल दुकान से दवाई उपलब्ध करायी जाय।
     कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने कहा कि समाज वरिष्ठ नागरिकों को लेकर ही उत्तम समाज की परिकल्पना की जा सकती है। वृद्धों को आवास सुविधा देने के लिए वृद्धाश्रम खोले गये हैं लेकिन आदर्श स्थिति तब बनती है जब वृद्धों को वृद्धाश्रम जाना ही न पड़े। उन्होंने कहा कि जन सुनवाई में आये दिन वरिष्ठ नागरिकों द्वारा पालन पोषण की समस्या का आवेदन दिया जाता है। सरकार द्वारा पालन पोषण अधिनियम बनाया गया है। पालन पोषण की समस्या आने पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को आवेदन देना चाहिए। यदि वरिष्ठ नागरिकों एवं उनके बेटों के बीच संपत्ति विवाद हो गया है तो कलेक्टर न्यायालय में आवेदन देना चाहिए। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही वरिष्ठ नागरिकों के लिए स्वास्थ्य शिविर जिले में आयोजित किया जायेगा। कलेक्टर ने बताया कि वृद्धाश्रम की मरम्मत एवं अन्य कार्यों के लिए 12 लाख रूपये का आवंटन जारी किया जायेगा।
    पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने कहा कि वरिष्ठ नागरिक दिवस के दिन जिले में कलेक्टर के नेतृत्व में बहुत अच्छी उपलब्धि प्राप्त की गयी है। रक्तदान महाअभियान में 550 लोगों ने अपना रक्तदान किया है। उन्होंने कहा कि कोई भी समस्या आने पर मुझे सीधे सूचित कर सकते हैं। उस समस्या का तुरंत निदान किया जायेगा।
    डॉ. सज्जन सिंह ने बताया कि संयुक्त राष्ट्र द्वारा अन्तर्राष्टीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर एक थीम दी जाती है इस बार की थीम है हर उम्र के लिए डिजिटल इक्यूटी उन्होंने कहा कि वृद्धजनों को भी कम्प्यूटर देकर उनका उपयोग सिखाया जायेगा।
    विधिक सेवा शिविर संपन्न - विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव डॉ. विपिन कुमार लावनिया ने दीप प्रज्जवलन कर विधिक सेवा शिविर का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि एक अक्टूबर 1990 से वृद्धजन दिवस आयोजित किया जा रहा है। माता-पिता एवं वरिष्ठ नागरिक भरण-पोषण नियम में वरिष्ठ नागरिक शामिल हैं जिनकी सम्पत्ति का उपभोग उनके बेटे करेंगे। भरण पोषण न करने पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को पीठासीन अधिकारी बनाया गया है। जो संपत्ति प्राप्त करेगा वह वरिष्ठजनों की देखभाल भी करेंगा। उन्होंने कहा कि शहरीकरण एवं गांव से शहर की ओर पलायन करने के कारण परिस्थितियां बदल रही हैं। मकान बनाते समय जैसे एक कमरा भगवान के लिए बनाते हैं वैसे ही एक कमरा अपने माता-पिता के लिए भी बनाना चाहिए। वरिष्ठजन के सम्मान के लिए छोटे-छोटे उपाय करें। हमारे वरिष्ठजन अपने अनुभवों से दुनिया को सुन्दर बना सकते हैं। हमारे छोटे बच्चे अपने वरिष्ठ जनों को बहुत प्यार करते हैं और उन्हें छोड़ नहीं सकते। समाज की सामूहिक जिम्मेदारी है कि वरिष्ठजनों का जितना कल्याण किया जा सकता है उतना करें।
    जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव विपिन कुमार लवानिया ने इस अवसर पर रेडक्रास सोसायटी के अध्यक्ष डॉ. सज्जन सिंह, उपाध्यक्ष एके खान, सचिव विनोद कुमार श्रीवास्तव, डॉ. प्रभाकर चतुर्वेदी एवं डॉ. राघवेन्द्र सिंह को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।
    न्यायाधीश श्री नरेन्द्र गुप्त ने कहा कि संविधान द्वारा हमारे अधिकार अधिभूत होते हैं। इसमें राज्य का कर्तव्य है कि किसी भी व्यक्ति को जीने, शिक्षा एवं खाने पीने का अधिकार हो। उनके अधिकार पर कुठाराघात न हो। उन्होंने कहा कि समाज के मूल वृद्धजन हैं मूल ही सबसे महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि कई समाजों में आधुनिकता के कारण विकृतियां फैली हैं परिवार छोटे होते जा रहे हैं।
    इस अवसर पर अध्यक्ष डॉ. सज्जन सिंह, उपाध्यक्ष डॉ. एके खान, सचिव विनोद कुमार श्रीवास्तव, सामाजिक न्याय विभाग के संयुक्त संचालक अनिल दुबे, चिन्मय मिशन के स्वामी केशवानंद, जिला विधिक सेवा अधिकारी अभय कुमार मिश्रा, मुकेश येंगल, डॉ. प्रभाकर चतुर्वेदी सहित वरिष्ठजन उपस्थित थे।
(20 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer