समाचार
|| मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की महंगाई भत्ते में 8 प्रतिशत वृद्धि की घोषणा || विधानसभा अध्यक्ष द्वारा सामान्य वर्ग कल्याण आयोग के नव-निर्मित भवन का उद्घाटन || किसानों के साथ फर्जीवाड़ा करने वाले बख्शे नहीं जायेंगे - मंत्री श्री पटेल || जल्द पूरी करें पंचायत आम निर्वाचन की तैयारियाँ || स्वाधीनता का अमृत महोत्सव - लोकतंत्र और नवभारत पर व्याख्यान माला आयोजित || क्रेडिट आउटरीच कैम्पेन - 15 नवम्बर तक जिलों में लगेंगे मैगा कैम्प || एमएसएमई विकास नीति से आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश || कोरोना टीकाकरण में प्राप्त की महत्वपूर्ण उपलब्धि : स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी || विक्रमोत्सव-2021 - संस्कृति मंत्री सुश्री ठाकुर 24 अक्टूबर को करेगी शुभारंभ || नगरीय विकास मंत्री श्री सिंह 22 अक्टूबर को करेंगे सोन चिरैया आजीविका उत्सव का शुभारंभ
अन्य ख़बरें
कोरोना गाइड लाइन एवं धारा 144 के प्रतिबंधात्‍मक आदेश के तहत मनाएं जायेंगे सभी त्‍यौहार
-
गुना | 05-अक्तूबर-2021
   जिले में सभी त्‍यौहार 29 सितंबर 2021 को आयोजित जिला स्‍तरीय शांति समिति की बैठक में लिये गये निर्णय तथा कोरोना गाइड लाईन का जिले में 03 सितंबर 2021 द्वारा धारा 144 के तहत लागू प्रतिबंधात्‍मक आदेश के निर्देशों के अनुरूप सभी तीज, त्‍यौहार, धार्मिक आयोजन संपन्‍न किये जा सकेंगे। सभी धार्मिक पूजा स्‍थलों में मास्‍क, सोशल डिस्‍टेंसिंग के साथ दर्शन की अनुमति रहेगी।
   शांति समिति की बैठक में हुयी चर्चा के अनुसार सभी त्‍यौहार उपरोक्‍त दिशा निर्देशों के मुताबिक मनाएं जाएं। भविष्‍य में यदि शासन से उक्‍त प्रतिबंधों से छूट प्राप्‍त होगी, तदनुसार शांति समिति के सदस्‍य एवं आम जनता को अवगत कराया जाएगा। बैठक के दौरान शासन द्वारा निर्धारित गाईडलाईन में दिये गये निर्देशों के अनुसार शांतिपूर्णं तरीके से मनाये जाने व शांति व्‍यवस्‍था बनाये रखने के संबंध में सभी से प्राप्‍त सुझावों के निम्‍न बिंदुओं पर विचार-विमर्श किया गया।
   वर्तमान में कोरोना महामारी को देखते हुए शासन के निर्देशों के अनुसार दण्‍ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अंतर्गत विभिन्‍न सार्वजनिक स्‍थानों पर स्‍थापित की जावे वाली प्रतिमा/ ताजिये के लिये पाण्‍डाल का आकार अधिकतम 30X45 फीट नियत किया गया है। झांकी आयोजकों को आवश्‍यक रूप से सलाह दी गयी है कि वे झांकियों की स्‍थापना एवं प्रदर्शन नही करें, जिनमें संकुचित जगह के कारण श्रृद्धालुओं / दर्शकों की भीड़ की स्थिति बने तथा सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन न हो। झांकी स्‍थल पर श्रृद्धालुओं / दर्शकों की भीड़ एकत्र न हो तथा सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन हो, इसकी व्‍यवस्‍था आयोजक सुनिश्चित करेंगे।
   मूर्ति/ ताजिये (चेहल्‍लुम) का विसर्जन संबंधित आयोजन समिति द्वारा किया जायेगा। विसर्जन स्‍थल पर ले जाने के लिये अधिकतम 10 व्‍यक्तियों के समूह की अनुमति होगी। इसके लिए आयोजकों को पृथक से संबंधित अनुविभागीय दण्‍डाधिकारी/ तहसीलदार से लिखित अनुमति प्राप्‍त किया जाना आवश्‍यक होगा।
   धार्मिक/ सामाजिक आयोजन के लिए चल समारोह निकालने की अनुमति नहीं होगी। विसर्जन के लिए चल समारोह भी अनुमत्‍य नही होगा। लाउड स्‍पीकर बजाने के संबंध में माननीय सर्वोच्‍च न्यायालय द्वारा जारी की गई गाईडलाईन का पालन किया जाना अनिवार्य होगा। सभी प्रकार के पूर्वानुमति प्राप्त आयोजनों की आयोजकों द्वारा वीडियोग्राफी कराई जाकर सुरक्षित रखी जावे, तथा आवश्यक्ता पड़ने पर प्रशासन को उपलब्ध कराई जावे।
   मीटिंग के दौरान सभी उपस्थित नागरिकगण /धार्मिक/सामाजिक संस्थाओं तथा उपस्थित आमजन से अपील की गई कि वह सोशल मीडिया के माध्यम से टिप्पणियां, विचारों की अभिव्यक्ति इस प्रकार न की जाये, जिससे किसी धर्म विशेष, वर्ग विशेष की भावनाओं को ठेस न पहुचे व उससे शहर की अमन शांति न बिगड़े।
   त्यौहारों के दौरान शांति व्यवस्था बनाये रखने हेतु आसामाजिक तत्वों के विरूद्ध प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत सख्त कार्यवाही करने के निर्देश पुलिस अधिकारियों को दिये गये। सभी एस.डी.एम. ब्लॉक लेवल की एवं थाना प्रभारी बीट लेवल स्तर पर शांति समिति की बैठक आयोजित कर राज्य शासन के निर्देशों एवं जिला प्रशासन के निर्देशों से आयोजकों को अवगत कराकर, कानून एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने के निर्देशों का अनिवार्य रूप से पालन कराना सुनिश्चित कराये।
   जिला मुख्यालय पर आये दिन कभी भी बिजली चली जाती है, जिससे त्यौहार पर आमजन को काफी असुविधा होती है। इस संबंध में विद्युत मंडल को त्यौहारों में विद्युत की आपूर्ति बनाये रखने के निर्देश दिये गये। त्‍यौहार के दिन नगर पालिका को फायर बिग्रेड तथा सिविल सर्जन गुना को अस्पताल में एंबुलेंस मय स्टाफ के तैयार रखने के सख्त निर्देश दिये गये। नगरपालिका अधिकारी, आमजन की धार्मिक भावनाओं को ध्यान में रखते हुये, मूर्ति/ ताजिये विसर्जन के रास्ते के विशेष साफ सफाई का ध्यान रखा जावे।
   मीटिंग के दौरान शहर में जल सप्लाई की अतिरिक्त व्यवस्था हेतु नगरपालिका को निर्देश दिये गये तथा शहर में बारिश के दौरान क्षतिग्रस्त हुई सड़कों की मरम्मत कराये जाने के निर्देश लोक निर्माण विभाग एवं नगर पालिका अधिकारी को दिये गये। शहर में घुमने वाले आवारा पशुओं के कारण होने वाली दुघर्टनाओं को रोकने के लिए आवारा पशुओं को गौशालाओं में रखे जाने एवं निजी पशुओं को घूमते हुए पाये जाने पर कांजी हाउस में रखे जाने के निर्देश नगर पालिका को दिये गये। आवारा कुत्‍तों की जनसंख्‍या वृद्धि को नियंत्रित करने के उपाय करने के निर्देश दिये गये।

 
(16 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
सितम्बरअक्तूबर 2021नवम्बर
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
27282930123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031
1234567

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer