समाचार
|| इजराइली जल प्रबंधन विशेषज्ञ खजुराहो पहुंचे || राज्यपाल श्री पटेल तीन दिवसीय प्रवास पर आज आएंगे रीवा || तीन चरणों में होंगे पंचायत चुनाव - राज्य निर्वाचन आयुक्त श्री सिंह || कृषि मंत्री श्री कमल पटेल ने नेमावर में किये नर्मदा मैया के दर्शन || मंत्री डॉ. मिश्रा ने बाबा महाकाल, मंगलनाथ और शनिदेव के किये दर्शन || निःशुल्क चिकित्सा शिविर में दो दिन में लगभग 65 हजार लोग हुए लाभान्वित || तीन चरणों में होंगे पंचायत चुनाव - राज्य निर्वाचन आयुक्त श्री सिंह || जल जीवन मिशन में प्रशिक्षण और जन-जागरूकता का दौर जारी || राज्यपाल श्री पटेल एवं मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चित्र प्रदर्शनी का किया अवलोकन || गरीबों और जनजातीय वर्ग की जिंदगी बदलने का अभियान चलाएँगे - मुख्यमंत्री श्री चौहान
अन्य ख़बरें
देवास जिले के ग्राम ‘’देवर’’ में ’’वृहद विधिक सेवा शिविर’’ आयोजित विधिक सेवा शिविर में 334 व्यक्ति लाभांवित
समाज में बढ़ रहे अपराधों को कम करने के लिए माता-पिता अपनी संतानों की उचित देखरेख करे - जिला न्यायाधीश श्री मिश्रा
देवास | 11-अक्तूबर-2021
   राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली एवं म.प्र. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार प्रधान जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री प्रभात कुमार मिश्रा के मार्गदर्शन में ’’आजादी का अमृत महोत्सव-अखिल भारतीय जागरूकता एवं पहुंच कार्यक्रम’’ के अंतर्गत आमजन को विधिक रूप से जागरूक करने एवं योजनाओं का लाभ दिलाने के उद्देश्य से दिनांक ग्राम ’’देवर’’ में ’’वृहद विधिक सेवा शिविर’’ का आयोजन किया गया।
    अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर सर्वप्रथम श्री प्रभात कुमार मिश्रा प्रधान जिला न्यायाधीश द्वारा आंगनवाड़ी केन्द्र में 05 कन्याओं का पूजन किया एवं लगभग 150 बालक बालिकाओं को बालभोज करवाया। इस अवसर पर जिला न्यायाधीश एवं अतिथिगण द्वारा आंगनवाड़ी केन्द्र में पौधारोपण भी किया गया।
    कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि प्रधान जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवास श्री प्रभात कुमार मिश्रा द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया।  कार्यक्रम में विशेष न्यायाधीश श्री रमेश कुमार श्रीवास्तव, पंचम जिला न्यायाधीश श्री विष्णु कुमार सोनी, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्रीमती निहारिका सिंह, अपर कलेक्टर श्री महेन्द्र सिंह कवचे, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्री शिवकुमार कौशल, जिला रजिस्ट्रार श्री श्रीमती ज्योति डोंगरे शर्मा, न्यायाधीश श्री देवांश अग्रवाल, श्री राजेश अंशेरिया, अध्यक्ष अधिवक्ता संघ देवास श्री मनोज हेतावल एवं जिला विधिक सहायता अधिकारी श्रीमती शक्ति रावत विशेष रूप से उपस्थित रहे।
    वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड से सम्मानित देवास जिले की बाल कलाकार कुमारी अंजनी सिंह द्वारा कार्यक्रम शुभारंभ अवसर पर सरस्वती वंदना की गई। सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्रीमती निहारिका सिंह द्वारा अतिथियों को पौधे भेंट कर स्वागत किया गया। ग्राम सरपंच श्री मंसूर पटेल, ग्राम पंचायत सचिव श्री सजनसिंह दीवाना ने भी अतिथिगण का पुष्पहारों से स्वागत किया।
महिला एवं बाल विकास विभाग, खाद्य विभाग, राजस्व विभाग, पिछड़ा वर्ग एवं आदिम जाति कल्याण विभाग, श्रम विभाग, सामाजिक न्याय विभाग, पशु चिकित्सा सेवाएं विभाग, स्वास्थ्य विभाग, उद्यानिकी, आयुष विभाग, वन विभाग, विद्युत विभाग, चाईल्ड लाईन, जनसाहस सामाजिक संस्था एवं अन्य शासकीय विभागों द्वारा अपने-अपने स्टॉल लगाए जाकर आमजन को विधिक सेवा योजनाओं के प्रति जागरूक किया गया।
    वृहद विधिक सेवा शिविर में राजस्व विभाग द्वारा 5 हितग्राहियों को ऋण पुस्तिका वितरण, पिछड़ा वर्ग एवं जनजातीय विभाग द्वारा 11 विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति, श्रम विभाग द्वारा 5 निर्माण श्रमिकों को पंजीयन, कृषि विभाग द्वारा 12 हितग्राहियों को पाईपलाईन एवं कृषि बीजों की किट, जनपद पंचायत द्वारा मनरेगा योजना में 3 हितग्राहियों को खेत तालाब एवं शौचालय निर्माण योजना, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा 10 बालिकाओं को लाडली लक्ष्मी योजना, 5 बालिकाओं को मातृवंदना सहायता योजना, 6 बालिकाओं को कुपोषित बच्चों को पोषण आहार योजना, सामाजिक न्याय एवं निःशक्त कल्याण विभाग द्वारा 2 वृद्धजनों को वॉकिंग स्टिक एवं 1 व्यक्ति को हियरिंग एड, 4 व्यक्तियों को वृद्धावस्था पेंशन एवं 12 व्यक्तियों को सामाजिक कल्याण पेंशन एवं 1 व्यक्ति को मंदबुद्धि आर्थिक सहायता, पशुपालन एवं डेयरी विभाग द्वारा 3 व्यक्तियों को पशुपालन हेतु भैंस-बकरी प्रदाय, उद्यानिकी विभाग द्वारा 5 व्यक्तियों को ड्रिप सिंचाई यंत्र एवं वर्मी बेड प्रदाय किया गया।  खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा 50 लोगों को खाद्यान्न वितरण एवं बीपीएल कार्ड प्रदान कर लाभांवित किया गया।  स्वास्थ्य विभाग द्वारा 18 व्यक्तियों को आयुष्मान कार्ड बनाए, 98 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण, 12 लोगों का कोविड-19 टीकाकरण एवं 70 व्यक्तियों की कोविड-19 जांच के सेंपल लिए जाकर लाभांवित किया गया। जनसाहस सामाजिक संस्था द्वारा 6 परिवारों को राशन किट उपलब्ध कराई गई। इस प्रकार वृहद विधिक सेवा शिविर में 334 व्यक्तियों को लाभांवित किया गया।  1 विकलांग महिला को ट्राईसिकल स्वीकृत की गई। शिविर के उपरांत 650 हितग्राहियों को भोजन के पैकेट वितरित किए गए। शिविर में बड़ी संख्या में जन-समुदाय उपस्थित हुआ।  इस शिविर में 12 ग्राम पंचायतों देवर, बाडोली, अन्तराल्या, पंचतालाब, पावरदा, रूपाखेड़ी, लोहारी, बांगर, चंदाना, अचलूखेड़ी, सिरोंज, बैरागढ़ के हितग्राहियों को लाभांवित किया गया।
    मुख्य अतिथि श्री प्रभात कुमार मिश्रा प्रधान जिला न्यायाधीश द्वारा वृहद विधिक सेवा शिविर’’ में पधारे हितग्राहियों को शुभकामनाएं देते हुए समस्त उपस्थित जन समुदाय को न्यायालय की अवधारणा और महत्व की जानकारी प्रदान करते हुए युवा पीढ़ी को आव्हान कर साइबर क्राइम के बढ़ रहे अपराधों से बचाव के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की, उनके द्वारा चलाए जाने वाले वाहनों को वैध अनुज्ञापत्रों, बीमा पॉलिसी सहित चलाए जाने की अपेक्षा की। जल ही जीवन है का मूलमंत्र देते हुए  विद्युत उर्जा बचाने और जीवन को सफल बनाने के संबंध में सारगर्भित जानकारी प्रदान की।
    प्रधान जिला न्यायाधीश महोदय द्वारा युवा पीढ़ी का आव्हान करते हुए यह भी बताया कि समाज में बढ़ रहे अपराधों को कम करने के लिए माता-पिता अपनी संतानों की उचित देखरेख करे, संस्कार, नैतिकता का आचरण करते हुए भाईचारे एवं अच्छा आचरण बनाए रखने एवं आपसी विवादों को घर-परिवार में, मध्यस्थता के माध्यम से आपस में बैठकर हल करने का आग्रह किया।  ग्रामवासियों को अपना ग्राम विवाद-विहीन ग्राम बनाने हेतु प्रेरित किया। 
    सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्रीमती निहारिका सिंह ने कहा कि आजादी के 75 वीं वर्षगांठ के अवसर पर आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। जिसके अंतर्गत 14 नवम्बर तक विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा अखिल भारतीय जागरूकता एवं पहुंच कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत समाज के अंतिम पंक्ति के हितग्राहियों को लाभांवित करने के उद्देश्य से ग्राम देवर में वृहद विधिक सेवा शिविर आयोजित किया गया है। शिविर में आमजन को शासन के विभिन्न विभागों के समन्वय से शासकीय योजनाओं का लाभ दिलाया गया।
    उन्होंने राष्ट्रीय विधिक विधिक सेवा प्राधिकरण एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा संचालित योजनाओं, बाल विवाह निषेध अधिनियम, कार्यस्थल पर महिलाओं को यौन शोषण प्रतिषेध अधिनियम, दहेज प्रतिषेध अधिनियम, कन्या भ्रूण हत्या की रोकथाम के संबंध में भी लोगों को जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आवेदक पोस्ट ऑफिसों के माध्यम से भी विधिक सहायता हेतु आवेदन प्रेषित कर सकते है इस के लिए पोस्ट ऑफिसों में भी विधिक सेवा के पोस्टर बैनर प्रदर्शित किए गए हैं। 
    अध्यक्ष अधिवक्ता संघ श्री मनोज हेतावल ने भी अपने संबोधन में आमजन को योजनाओं का लाभ लेने का आग्रह किया। कार्यक्रम का संचालन श्री सैयद मकसूद अली सदस्य जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने किया एवं आभार श्री देवांश अग्रवाल जेएमएफसी ने माना।
      शिविर में महिला एवं बाल विकास अधिकारी श्रीमती रेलम बघेल, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत श्रीमती मारिशा शिंदे, खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी श्रीमती शालू वर्मा, सहायक संचालक पिछड़ा वर्ग एवं आदिम जाति कल्याण विभाग श्रीमती सपना खर्ते, श्रम पदाधिकारी श्री डी.एल. सूर्यवंशी, उपसंचालक सामाजिक न्याय विभाग श्री आर के जोशी, उपसंचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ. ओ.पी. त्रिपाठी, स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सा टीम उपस्थित थे।
     उक्त कार्यक्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के श्री हरिकिशोर शर्मा, श्री मयंक माधव, श्री अब्दुल रहमान अंसारी, श्री योगेन्द्र शर्मा, श्री बंशीलाल यादव सहित कर्मचारीगण उपस्थित रहे।
(54 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2021जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer