समाचार
|| इजराइली जल प्रबंधन विशेषज्ञ खजुराहो पहुंचे || राज्यपाल श्री पटेल तीन दिवसीय प्रवास पर आज आएंगे रीवा || तीन चरणों में होंगे पंचायत चुनाव - राज्य निर्वाचन आयुक्त श्री सिंह || कृषि मंत्री श्री कमल पटेल ने नेमावर में किये नर्मदा मैया के दर्शन || मंत्री डॉ. मिश्रा ने बाबा महाकाल, मंगलनाथ और शनिदेव के किये दर्शन || निःशुल्क चिकित्सा शिविर में दो दिन में लगभग 65 हजार लोग हुए लाभान्वित || तीन चरणों में होंगे पंचायत चुनाव - राज्य निर्वाचन आयुक्त श्री सिंह || जल जीवन मिशन में प्रशिक्षण और जन-जागरूकता का दौर जारी || राज्यपाल श्री पटेल एवं मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चित्र प्रदर्शनी का किया अवलोकन || गरीबों और जनजातीय वर्ग की जिंदगी बदलने का अभियान चलाएँगे - मुख्यमंत्री श्री चौहान
अन्य ख़बरें
मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करने हेतु मिलकर कार्य करना होगा- कलेक्टर
अगरा में मैदानी अमले की संयुक्त समीक्षा बैठक आयोजित
श्योपुर | 13-अक्तूबर-2021
    कलेक्टर श्री शिवम वर्मा ने कहा है कि राज्य सरकार द्वारा मातृ एवं शिशु मृत्युदर कम करने की दिशा में कदम उठाये जा रहे है। जिसके अतर्गत महिला बाल विकास, स्वास्थ्य और ग्रामीण विकास विभाग के मैदानी अमले के माध्यम से मातृ एवं शिशु मृत्युदर को कम करने के लिए मिलकर कार्य करना होगा। वे आज विजयपुर तहसील के ग्राम अगरा में हाईस्कूल में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस बैठक में डीपीओ महिला बाल विकास श्री ओपी पाण्डेय, सीएमएचओ डॉ बीएल यादव, तहसीलदार श्री एसआर वर्मा, विभागीय अधिकारी और मैदानी अमला उपस्थित था। 
    कलेक्टर श्री शिवम वर्मा ने कहा कि स्वास्थ्य, महिला एवं बाल विकास तथा पंचायत ग्रामीण विकास विभाग के मैदानी कर्मचारी मातृ एवं शिशु मृत्युदर कम करने के लिए अपने-अपने क्षेत्रो में प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करें। साथ ही ग्रामवासियों को इस दिशा में जागरूक करें। जिसमें महिला के गर्भाधान से लेकर शिशु के दो बर्ष की उम्र तक स्वास्थ्य देखभाल एवं गर्भवती महिला का पहली तिमाही में सीघ्र पंजीयन कराकर प्रसव पूर्व चार जांच सुनिश्चित करना है एवं गर्भाधारण से ही महिला को संस्थागत प्रसव के लिए परामर्श दिया जावे। इसी प्रकार प्रसव पश्चात माता एवं नवजात शिशु की घर पर जाकर दो बर्ष तक घर जाकर स्तनपान, टीकाकरण अनुपूरक पोषण आहार ,साफ सफाई एवं स्वच्छता हेतु परामर्श दिया जावे। साथ ही उनको दस्त, संक्रमण, कुपोषित, एनीमिया एवं अन्य बीमारीयों की पहचान से अवगत कराया जाकर क्षेत्रीय स्वास्थ्य केन्द्र पर उपचार कराने के लिए प्रेरित किया जावे। 
       कलेक्टर ने कहा कि कोविड-19 टीकाकरण अभियान के अंतर्गत जिन व्यक्तियों को  वैक्सीन का प्रथम डोज लग चुका है। उनको मैदानी अमला दूसरा डोज लगवाने के लिए प्रेरित करें। जिससे तीसरी लहर से दोनो डोज लगवाने वाले व्यक्ति सुरक्षित रह सकें।  उन्होने कहा कि स्वास्थ्य एवं आशा कार्यकर्ता अपने दायित्वों का निर्वहन कर रही है। जिसके लिए बधाई की पात्र है। उन्होने कहा कि विभाग की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने की दिशा में और उत्साह से काम करें। जिससे अंतिम छोर तक का व्यक्ति योजनाओं का लाभ प्राप्त कर प्रगति की ओर बढ सकें। कलेक्टर ने कहा कि ग्राम पंचायत के सचिव हितग्राहियों की समग्र परिवार आईडी, बैक खाता खुलवाने एवं टीकाकरण कार्य पूर्ण करवाने में आगॅनवाडी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ताओं का सहयोग करें। उन्होने कहा कि आगनबाडी और आशा कार्यकर्ता अपने क्षेत्र की महिलाओं में गर्भ का पता लगाकर पहले तीन माह के अतंर्गत संबंधित महिला का पंजीयन करावे। साथ ही उनको विभाग की योजनाओं का हर प्रकार का लाभ दिलवावे।  
    कलेक्टर श्री शिवम वर्मा ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सक और कर्मचारी इस बात का ध्यान दे कि जब महिलाएं प्रसव पूर्व 4 जांचे करवाने आये। उनको व्यवस्थित तरीके से हैडिल किया जावे। इसी प्रकार संस्थागत प्रसव की दिशा में भी कार्यवाही सुनिश्चित की जावे। साथ ही माता एवं बच्चे का फोलोअप लेने की दिशा में मैदानी कर्मचारी अपनी कार्यवाहियों को निरंतर जारी रखे। इसी प्रकार गंभीर स्वास्थ्य समस्या पर तुरंत रेफर करवाएगी। एएनएम निर्धारित व्हीएच एण्ड डी दिवस पर निश्चित समय पर अपनी स्वासथ्य सेवायें प्रदान करनें में सहायक बने। इसके अलावा आईसीडीएस सुपरवाईजर भी यह सुनिश्चित करे, कि क्षेत्र के सभी ऑगनवाडी केन्द्र समय पर खुले। साथ ही उन पर कार्यकर्ता और सहायिका द्वारा नियमित सेवाएं दी जावे। इस कार्य की मॉनीटरिंग भी की जावे। 
    कलेक्टर ने कहा कि मैदानी अमला यह भी सुनिश्चित करे कि पात्र हितग्राही को पहली तिमाही पर जांच करवाकर, राशि 4000 रूपये दिलाने की कार्यवाही को अंतिम रूप दिया जावे। उन्होने कहा कि विभाग का मैदानी अमला अपने क्षेत्र की महिला के कोई प्रसव के दौरान एवं प्रसव पश्चात माता एवं शिशु की देखभाल के इंतजाम किये जावे। अगर किसी कर्मचारी की लापरवाही से मृत्यु होती है। तब उसके विरूद्ध कार्यवाही अवश्य होगी। जिसके लिए संबंधित कर्मचारी स्वयं जिम्मेदार होगा। कलेक्टर ने कहा कि सभी कार्यकर्ता अपने मुख्यालय पर रहकर, विभाग की सेवाओ को आम लोगो तक पहुंचाने में मदद करें। जिससे विभाग के प्रति लोगो का विश्वास बढेगा। साथ ही पात्र हितग्राही शासन की योजनाओं का लाभ समय पर प्राप्त करने में सहायक बनेगें। बैठक में क्षेत्र की आगनबाडी कार्यकर्ता ने उपस्थित महिलाओ के प्रश्नों का उत्तर दिया। साथ ही शासन की योजनाओं का लाभ देने की प्रेरणा दी।
कलेक्टर ने किया अगरा हाई स्कूल का निरीक्षण
    कलेक्टर श्री शिवम वर्मा ने जिले की विजयपुर तहसील के क्षेत्र में स्थित अगरा हाई स्कूल का निरीक्षण किया। साथ ही छात्रो के क्लासरूम में पहुचकर विद्या अध्ययन की हकीकत जानी। उन्होने शिक्षकों से क्लास में पढाये जा रहे विषय की जानकारी ली। साथ ही क्लासरूम मंे बैठकर कलेक्टर ने छात्रों के द्वारा क्लास में ग्रहण की जा रही शिक्षा और पढाई के स्तर की हकीकत जानी। कलेक्टर ने विद्यालय में लग रही क्लासों का अवलोकन किया। साथ ही विद्यालय की साफ-सफाई व्यवस्था की जानकारी शिक्षको से प्राप्त की। उन्होने शिक्षको को निर्देश दिये कि साफ-सफाई व्यवस्था का अधिक ध्यान दिया जावे। साथ ही कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुसार सोशल डिस्टेसिंग की पद्धति पर छात्रों को क्लासरूम में बैठाकर शिक्षा प्रदान की जावे।
 
(53 days ago)
डाउनलोड करे क्रुतीदेव फोन्ट में.
डाउनलोड करे चाणक्य फोन्ट में.
पाठकों की पसंद

संग्रह
नवम्बरदिसम्बर 2021जनवरी
सोम.मंगल.बुध.गुरु.शुक्र.शनि.रवि.
293012345
6789101112
13141516171819
20212223242526
272829303112
3456789

© 2012 सर्वाधिकार सुरक्षित जनसम्पर्क विभाग भोपाल, मध्यप्रदेश             Best viewed in IE 7.0 and above with monitor resolution 1024x768.
Onder's Computer